अन्य

    संकट में महाराष्ट्र की उद्धव सरकार, एकनाथ शिंदे सहित 22 विधायक हुए बागी, पहुंचे गुजरात के होटल

    सूरत (इंडिया न्यूज रिपोर्टर)। महाराष्ट्र की राजनीति में ‘खजुराहो कांड’ का साया मंडरा रहा है। महाराष्ट्र की सियासत गरमा गई है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से असंतुष्ट शिवसेना के बड़े नेता और मंत्री एकनाथ शिंदे सहित 19 से अधिक विधायक डुमस रोड स्थित ली मेरिडियन होटल में ठहरे हुए हैं। होटल के बाहर पुलिस का कड़ा घेरा बनाया गया है।

    उल्लेखनीय है कि गुजरात भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल ने सोमवार शाम अपने सभी योग दिवस कार्यक्रम रद्द कर दिए थे।

    महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दोपहर 12 बजे आपात बैठक बुलाई है। असंतुष्ट विधायकों के कारण शिवसेना संकट से घिर गई है।

    मेरिडियन होटल में ठहरे हुए विधायकों में ये हैं शामिलः 1. एकनाथ शिंदे -कौपरी, 2. अब्दुल सत्तार- सिल्लोड -औरंगाबाद, 3. शंभूराज देसाई – सतारा, 4. संदीपन भुमारे – पैठन-औरंगाबाद, 5. उदयसाह राजपूत – कन्नड़-औरंगाबाद, 6. भरत गोगावले – महाद – रायगढ़, 7. नितिन देशमुख- अकोला, 8. अनिल बाबर – खानापुर – अटपडी – सांगली, 9. विश्वनाथ भोइर – लियन वेस्ट, 10. संजय गायकवाड़ – बुलढाणा, 11. संजय रामुलकर – मेहकर, 12. महेश सिंधे – कोरेगांव – सतारा, 13. शाहजी पाटिल – संगोला – सोलापुर, 14. प्रकाश अबितकर – राधापुरी – कोल्हापुर, 15. संजय राठौड़ – डिग्रास – यवतमाल, 16. ज्ञानराज चौगुले – उमरगास – उस्मानाबाद, 17. तानाजी सावंत – परोदा – उस्मानाबाद, 18. संजय शिरसत – औरंगाबाद पश्चिम, 19. रमेश बोर्नेर।

    महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव के बाद शिवसेना का बड़ा धड़ा उद्धव ठाकरे से नाराज है। गुजरात भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल से शिवसेना के असंतुष्ट विधायकों की बैठक होने के आसार हैं। वह मुंबई में शिवसेना के अन्य विधायकों के साथ भी संपर्क में हैं। देवेंद्र फडणवीस भी शिवसेना के असंतुष्ट विधायकों के संपर्क में हैं।

    शिवसेना में लगातार हो रही उपेक्षा से मंत्री एकनाथ शिंदे नाराज हैं। उन्होंने कल शाम से मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का फोन भी नहीं उठाया है।

    राजनीतिक उथल-पुथल के बीच एनसीपी महाराष्ट्र के अध्यक्ष जयंत पाटिल ने मातोश्री में उद्धव ठाकरे से मुलाकात की है। शिवसेना सांसद संजय राउत ने अपना दिल्ली दौरा रद्द कर दिया है।

    2019 के चुनाव के नतीजे आने पर शिवसेना ने शिंदे को विधायक दल का नेता बनाया था। वह बाल ठाकरे के समय से ही पार्टी से जुड़े हुए हैं। उन्हें हाल ही में महाराष्ट्र में राज्यसभा और विधान परिषद चुनाव में शिवसेना द्वारा दरकिनार कर दिया गया था। तब वे आहत हैं।

    महाराष्ट्र में अगर 13 विधायकों ने बगावत कर दी तो सरकार गिर जाएगी। उद्धव ठाकरे को अभी राज्य में 153 विधायकों का समर्थन प्राप्त है। सरकार बनाने के लिए 144 विधायकों की जरूरत है, क्योंकि अभी एक सीट खाली है। अगर शिवसेना में फूट पड़ती है तो कांग्रेस के कुछ विधायक दलबदल कर सकते हैं।

    Comments

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Expert Media News_Youtube
    Video thumbnail
    झारखंड की राजधानी राँची में बवाल, रोड़ेबाजी, लाठीचार्ज, फायरिंग
    04:29
    Video thumbnail
    बिहारः 'विकासपुरुष' का 'गुरुकुल', 'झोपड़ी' में देखिए 'मॉडर्न स्कूल'
    06:06
    Video thumbnail
    बिहारः विकास पुरुष के नालंदा में देखिए गुरुकुल, बेन प्रखंड के बीरबल बिगहा मॉडर्न स्कूल !
    08:42
    Video thumbnail
    राजगीर बिजली विभागः एसडीओ को चाहिए 80 हजार से 2 लाख रुपए तक की घूस?
    07:25
    Video thumbnail
    देखिए लालू-राबड़ी पुत्र तेजप्रताप यादव की लाईव रिपोर्टिंग- 'भागा रे भागा, रिपोर्टर दुम दबाकर भागा !'
    06:51
    Video thumbnail
    गुजरात में चरखा से सूत काट रहे हैं बिहार के मंत्री शहनवाज हुसैन
    02:13
    Video thumbnail
    एक छोटा बच्चा बता रहा है बड़ी मछली पकड़ने सबसे आसान झारखंडी तारीका...
    02:21
    Video thumbnail
    शराबबंदी को लेकर अब इतने गुस्से में क्यों हैं बिहार के सीएम नीतीश कुमार ?
    01:30
    Video thumbnail
    अब महंगाई के सबाल पर बाबा रामदेव को यूं मिर्ची लगती है....!
    00:55
    Video thumbnail
    यूं बेघर हुए भाजपा के हनुमान, सड़क पर मोदी-पासवान..
    00:30

    उल्टी खबरें