अन्य

    26वां ‘हुनर हाट’ शुरुः पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों को मिला मंच

    INR (Prasar Bharati News Services). रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को नई दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में 26वें ‘हुनर हाट’ का उद्घाटन किया। इस कार्यक्रम का आयोजन अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा किया गया है।

    बता दें स्वदेशी दस्तकारों व शिल्पकारों के लिए “वोकल फॉर लोकल” विषय पर ‘हुनर हाट’ का आयोजन 1 मार्च तक किया जा रहा है।

    देश भर के पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों को देता है मंच
    इस अवसर पर रक्षा मंत्री ने कहा कि मुझे लगता है कि हुनर हाट देश भर के पारंपरिक कारीगरो और शिल्पकारों को न केवल एक सांझा मंच देता हैं बल्कि यह हमारी समृद्ध संस्कृति और परंपरा की अभिव्यक्ति भी है।

    राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय ब्रांडिंग में महत्वपूर्ण है हुनर हाट
    हुनर हाट हमारे कारीगरों की कला और शिल्प की राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय ब्रांडिंग में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं जिससे उन्हें उनके उत्पादों का उचित मूल्य मिलता हैं।

    उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने ‘वोकल फॉर लोकल’ का आह्वान किया हैं, जो हमारे आत्मनिर्भर भारत के सपने का आधार हैं और मैं मानता हूं की हुनर हाट जैसे आयोजन इसको बहुत बल देते हैं।

    दस्तकारों, शिल्पकारों और कारीगरों ने यूं की आपदा में अवसर की तलाश
    रक्षा मंत्री ने कहा हमारे दस्तकारों, शिल्पकारों और कारीगरों ने “आपदा में अवसर” की भावना को सही मायनों में समझते हुए कोरोना वायरस के चलते देशव्यापी लॉकडाउन में मिले समय का सदुपयोग कर अगले “हुनर हाट” की उम्मीद में बड़ी तादाद में हस्तनिर्मित सामग्री को तैयार किया जो आज यहां प्रदर्शित हो रहे हैं।

    हुनर हाट में इन राज्यों ने लिया हिस्सा
    गौरतलब हो इस ‘हुनर हाट’ में आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गोवा, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, झारखण्ड, कर्नाटक, केरल, लद्दाख, मध्य प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, नागालैंड, ओड़िशा, पुडुचेरी, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल सहित देश के 31 से अधिक राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों से 600 से अधिक दस्तकार, शिल्पकार, कारीगर शानदार स्वदेशी उत्पादों के साथ शामिल हो रहे हैं।

    यहां एक ही छत के नीचे मिलेंगे देशभर के पारम्परिक लजीज़ पकवान
    अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से बताया गया है कि जे.एल.एन स्टेडियम में आयोजित हो रहे हुनर हाट में एक ही छत के नीचे देश के कोने-कोने के स्वदेशी हस्तनिर्मित दुर्लभ उत्पाद देखने-खरीदने को मिलेंगे।

    ‘हुनर हाट’ के ‘बावर्चीखाने’ में देश के सभी प्रांतों-क्षेत्रों के पारम्परिक लजीज़ पकवानों का यहां आने वाले लोग लुत्फ़ उठा सकेंगे और साथ ही देश के प्रसिद्ध कलाकारों के विभिन्न सांस्कृतिक, गीत-संगीत के शानदार कार्यक्रमों का आनंद भी लेंगे। हुनर हाट में आने वाले लोग एक जगह पर भारत की ‘अनेकता में एकता’ की ताकत का एहसास कर पाएंगे।

    Comments

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Expert Media News_Youtube
    Video thumbnail
    वोट के सौदागरः ले मुर्गा, ले दारु!
    00:33
    Video thumbnail
    बिहारः मुजफ्फरपुर में देखिए रावण का दर्शकों पर हमला
    00:19
    Video thumbnail
    रामलीलाः कलयुगी रावण की देखिए मस्ती
    00:31
    Video thumbnail
    बिहारः सासाराम में देखिए दुर्गोत्सव की मनोरम झांकी
    01:44
    Video thumbnail
    पटना के गाँधी मैदान में रावण गिरा
    00:11
    Video thumbnail
    झारखंड की राजधानी राँची में बवाल, रोड़ेबाजी, लाठीचार्ज, फायरिंग
    04:29
    Video thumbnail
    बिहारः 'विकासपुरुष' का 'गुरुकुल', 'झोपड़ी' में देखिए 'मॉडर्न स्कूल'
    06:06
    Video thumbnail
    बिहारः विकास पुरुष के नालंदा में देखिए गुरुकुल, बेन प्रखंड के बीरबल बिगहा मॉडर्न स्कूल !
    08:42
    Video thumbnail
    राजगीर बिजली विभागः एसडीओ को चाहिए 80 हजार से 2 लाख रुपए तक की घूस?
    07:25
    Video thumbnail
    देखिए लालू-राबड़ी पुत्र तेजप्रताप यादव की लाईव रिपोर्टिंग- 'भागा रे भागा, रिपोर्टर दुम दबाकर भागा !'
    06:51