More
    10.1 C
    New Delhi
    Monday, January 24, 2022
    अन्य

      बिहारः नालंदा के बिहार शरीफ सदर अस्पताल में प्रसुता को चढ़ाया एचआईवी संक्रमित ब्लड

      85,124,792FansLike
      1,188,842,671FollowersFollow
      6,523,189FollowersFollow
      92,437,120FollowersFollow
      85,496,320FollowersFollow
      40,123,896SubscribersSubscribe

      इंडिया न्यूज रिपोर्टर डेस्क।  बिहार के सीएम नीतीश कुमार के गृह जिला नालंदा मुख्यालय बिहारशरीफ अवस्थित सदर अस्पताल में एक प्रसूता को एचआईवी पॉजिटिव ब्लड चढ़ा दिया गया है। इसका खुलासा होते ही स्वास्थ्य महकमा में खलबली मची हुई है।

      हालांकि इस मामले को गंभीरता से लेते हुए अस्पताल अधीक्षक डॉ. सुजीत कुमार अकेला ने ब्लड बैंक टेक्निशियन से शोकॉज पूछा है और मामले की उच्चस्तरीय जांच की भी अनुशंसा की है।

      दिलचस्प बात यह कि ब्लड बैंक में एचआईवी पॉजिटिव ब्लड कैसे स्टोर किया गया। जबकि, किसी से भी ब्लड लेकर स्टोर करने के पहले एचआईवी पॉजिटिव की जांच जरूरी है।

      आखिर, स्टोर करते वक्त जांच में एचआईवी निगेटिव कैसे आया। अब उस महिला का क्या होगा, जिसे एचआईवी पॉजिटिव ब्लड चढ़ाया गया। उस महिला के कारण उसके पति व अन्य को भी एचआईवी पॉजिटिव होने का खतरा बढ़ गया है।

      दरअसल, बीते 3 नवंबर को एचआईवी पॉजिटिव महिला प्रसव के लिए सदर अस्पताल आयी थी। प्रसव के दौरान उसे एक यूनिट ब्लड की जरूरत हुई।

      ऐसे में उस महिला के एचआईवी पॉजिटिव पति ने ब्लड दिया। उस ब्लड की जांच करके ब्लड बैंक में रख दिया गया।उसके बदले दूसरा ब्लड प्रसूता को चढ़ाया गया। उसके एक हफ्ते बाद दूसरी महिला को प्रसव के दौरान यह ब्लड उसे चढ़ा दिया गया।

      खबरों के मुताबिक दो दिन पहले एचआईवी संक्रमित महिला एड्स की दवा लेने सदर अस्पताल पहुंची। दवा देने के दौरान काउंसलर ने महिला के तमाम कागजात की छानबीन के दौरान पाया कि उसे तीन नवंबर को प्रसव हुआ था।

      उस वक्त उसके पति ने अपना ब्लड देकर दूसरा ब्लड अपनी पत्नी को चढ़वाया था। काउंसलर के माथा ठनकने पर उसके पति द्वारा दिया गया ब्लड की छानबीन की तो पता चला कि किसी अन्य प्रसूता को वह चढ़ाया जा चुका है।

      ब्लड बैंक प्रभारी डॉ. रामकुमार ने बताया कि इस संबंध में लैब टेक्निशियन संतोष कुमार से स्पष्टीकरण की मांग की गयी है। प्रथमदृष्ट्या उनके द्वारा जांच में लापरवाही बरती गयी है। महिला के पति ने भी पॉजिटिव होने की बात जान-बुझकर छुपायी।

      डीएस डॉ. सुजीत कुमार अकेला ने बताया कि इस तरह से रोगियों की जान से खिलवाड़ करने वाले स्वास्थ्यकर्मियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। स्पष्टीकरण संतोषजनक नहीं होने पर दोषियों के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

      इस तरह की लापरवाही को स्वास्थ्य महकमा हल्के में नहीं ले सकता है। हर माह इस ब्लड बैंक से ढाई से तीन सौ यूनिट ब्लड लोग ले जाते हैं।

      ऐसे में अन्य जांच पर भी शंका होना लाजिमी है। कर्मियों को हर स्तर पर सतर्क व सटीक जांच करनी होगी। एक गलत जांच से रोगी की जान भी जा सकती है।

      जानकरों का कहना है कि रक्तदान करने के बाद उसकी पूरी तरह से एचआईवी, हेपेटाइटिस बी समेत पांच तरह की जांच की जाती है। इसमें सभी मानक पर खरा उतरने के बाद ही ब्लड का स्टोर बैंक में किया जाता है।

      ब्लड चढ़ाने के समय भी रोगी के रक्त व स्टोर से मिले ब्लड के नमूनों की सभी तरह की जांच करनी चाहिए थी। मगर सिर्फ ग्रुप व रक्त की मैचिंग कर रक्त चढ़ा दिया जाता है। इसके कारण इस तरह की समस्या आती है।

      इसमें पहले स्तर पर स्टोर में रखते समय की गयी जांच में लापरवाही, एचआईवी पॉजिटिव होते हुए भी जान-बूझकर बिना बताए रक्त देने वाला, चढ़ाते समय उसकी जांच नहीं कराने वाला भी दोषी है। तीनों स्तर पर जांच होती तो महिला को यह रक्त नहीं चढ़ाया जाता।

      आज राँची में 11 रन बनाते ही गुप्टिल तोड़ देंगे विराट कोहली का यह विश्व रिकॉर्ड

      प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- तीनों कृषि कानून होंगे वापस, घर लौट जाएं प्रदर्शनकारी किसान

      एशिया का सबसे बड़ा सेक्स मंडी, यहाँ डेढ़ सौ रुपए में मिल जाती हैं लड़कियां !

      भीषण सड़क हादसा में दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत के 6 रिश्तेदार समेत 8 की मौत

      गुमनाम नायकों का जिक्र कर वोटों का गणित साध रही है भाजपा ?

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      Expert Media Video News
      Video thumbnail
      पियक्कड़ सम्मेलन करेंगे सीएम नीतीश कुमार के ये दुलारे
      00:58
      Video thumbnail
      देखिए वायरल वीडियोः पियक्कड़ सम्मेलन करेंगे सीएम नीतीश के चहेते पूर्व विधायक श्यामबहादुर सिंह
      04:25
      Video thumbnail
      मिलिए उस महिला से, जिसने तलवार-त्रिशूल भांजकर शराब पकड़ने गई पुलिस टीम को भगाया
      03:21
      Video thumbnail
      बिरहोर-हिंदी-अंग्रेजी शब्दकोश के लेखक श्री देव कुमार से श्री जलेश कुमार की खास बातचीत
      11:13
      Video thumbnail
      भ्रष्टाचार की हदः वेतन के लिए दारोगा को भी देना पड़ता है रिश्वत
      06:17
      Video thumbnail
      नशा मुक्ति अभियान के तहत कला कुंज के कलाकारों का सड़क पर नुक्कड़ नाटक
      02:36
      Video thumbnail
      झारखंडः देवर की सरकार से नाराज भाभी ने लगाए यूं गंभीर आरोप
      02:57
      Video thumbnail
      भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष एवं सांसद ने राँची में यूपी के पहलवान को यूं थप्पड़ जड़ा
      01:00
      Video thumbnail
      बोले साधु यादव- "अब तेजप्रताप-तेजस्वी, सबकी पोल खेल देंगे"
      02:56
      Video thumbnail
      तेजस्वी की शादी में न्योता न मिलने से बौखलाए लालू जी का साला साधू यादव
      01:08