CBSE Exams 2021: 10वीं की परीक्षा रद्द और 12वीं की स्थगित, जानें क्या होगा

इंडिया न्यूज रिपोर्टर डेस्क। कोरोना के बढ़ते असर के बीच केंद्र सरकार ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की दसवीं कक्षा की परीक्षाएं रद्द कर दी हैं और 12 वीं कक्षा की परीक्षा को फिलहाल स्थगित कर दिया है। एक जून को समीक्षा बैठक के बाद 12 वीं कक्षा की परीक्षा को लेकर कोई फैसला किया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई एक अहम बैठक में यह फैसला लिया गया है। इस वर्चुअल बैठक में पीएम मोदी के साथ शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक व शिक्षा सचिव समेत राज्यों के शिक्षा मंत्री भी शामिल रहे।

बैठक के बाद केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने अधिकारियों के साथ भी बैठक की। बैठक में तय हुआ कि सीबीएसई 10वीं कक्षा की परीक्षाएं रद्द कर दी जाएं और 12वीं की परीक्षा फिलहाल के लिए टाल दी जाएं।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ने कहा कि कक्षा 10वीं के छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अगली कक्षा में भेजा जाएगा।

सीबीएसई मापदंड के आधार पर छात्रों का मूल्यांकन किया जाएगा। अगर कोई छात्र मूल्यांकन से संतुष्ट नहीं होगा तो वे हालात सामान्य होने पर परीक्षा दे सकता है।

बैठक के पश्चात् केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने इस संबंध में ट्वीट करके भी विस्तार से जानकारी साझा की।

उन्होंने अपने पहले ट्वीट में लिखा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना की स्थिति को देखते हुए विभिन्न स्तरों पर आयोजित होने वाली परीक्षाओं की समीक्षा के लिए एक उच्च-स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।

शिक्षा मंत्री ने अपने अन्य दो ट्वीट में लिखा, पीएम मोदी ने यह बात दोहराई कि छात्रों की भलाई सरकार के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र छात्रों के सर्वोत्तम हितों को ध्यान में रखेगा और यह सुनिश्चित करेगा कि उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखा जाए, साथ ही उनके शैक्षणिक हितों को नुकसान न पहुंचे।

कक्षा 12 वीं की बोर्ड परीक्षा 4 मई से 14 जून, 2021 के बीच आयोजित होनी थी। अब इन परीक्षाओं को उसके बाद आयोजित किया जाएगा। बोर्ड द्वारा 1 जून 2021 को स्थिति की समीक्षा की जाएगी और विवरण बाद में साझा किया जाएगा। परीक्षाओं की शुरुआत से पहले कम से कम 15 दिनों का नोटिस दिया जाएगा।

4 मई से 14 जून, 2021 तक आयोजित होने वाली दसवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं। अब दसवीं कक्षा का बोर्ड का परिणाम ऑब्जेक्टिव क्राइटेरिया द्वारा तैयार किया जाएगा।

यदि कोई उम्मीदवार जो इस आधार पर आवंटित अंकों से संतुष्ट नहीं, उसे अनुकूल परिस्थितियों में परीक्षा में बैठने का अवसर दिया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि सीबीएसई की परीक्षाएं 4 मई से शुरू होकर 10 जून तक संपन्न होनी थी, जबकि बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे 15 जुलाई तक घोषित करने का ऐलान किया गया था।

सीबीएसई द्वारा दोनों कक्षाओं के परीक्षा कार्यक्रम घोषित कर दिए गए थे। वहीं विपक्षी दलों द्वारा कोरोना के तेज संक्रमण के कारण केंद्र सरकार से सीबीएसई की परीक्षाएं रद्द करने की मांग कर रहे थे।

लेट्स्ट न्यूज़