Saturday, April 17, 2021

विश्व किडनी दिवस : साइलेंट किलर है किडनी रोग, स्वास्थ्य विशेषज्ञ से जानें- कैसे रहें स्वस्थ

Prasar Bharati News Service – PBNS: आज विश्व किडनी दिवस है। किडनी यानी गुर्दा शरीर का अहम अंग है। लेकिन किडनी रोग एक बड़ी समस्या है जो काफी लोगों को प्रभावित करती है। किडनी पर प्रभाव होने पर धीरे-धीरे उसका कार्य भी प्रभावित होता है और धीरे-धीरे उसके कार्य करने की क्षमता भी कम होती जाती है।

इसलिए हर साल मार्च माह के दूसरे गुरुवार को विश्व किडनी दिवस मनाया जाता है। विश्व भर में किडनी रोग और उससे संबंधित स्वास्थ्य समस्याओं के प्रभाव को कम करने के लिए, स्वास्थ्य में किडनी के महत्व के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए वैश्विक जागरूकता अभियान है। विश्व में दस व्यक्तियों में से एक व्यक्ति किडनी रोग से प्रभावित है।

कोरोना वायरस ने भी सबसे ज्यादा किडनी रोगियों को प्रभावित किया है या कह सकते हैं कि वायरस ने किडनी पर ज्यादा असर डाला है। हालांकि ऐसे कई कारक हैं जो किडनी को प्रभावित करते हैं।

व्यक्ति की किडनी प्रभावित होने पर शुरुआत में कुछ खास लक्षण नहीं आते हैं, लेकिन धीरे-धीरे समय के साथ व्यक्ति में रोग बढ़ता है और लक्षण नजर आने लगते हैं। इसलिए आवश्यक है कि ये जानना कि अपनी किडनी को स्वस्थ कैसे रखना है।

इस बारे में एम्स में किडनी रोग चिकित्सा विभाग में डॉक्टर डॉ. संदीप महाजन बताते हैं कि इसके लिए यूरिन और ब्लड की जांच कराएं। अगर शुगर या ब्लड प्रेशर की समस्या है तो उसे कंट्रोल करें। अपनी किडनी की सालाना जांच कराएं। एक स्वस्थ जीवन शैली अपनाएं।

इन बातों का रखें ध्यान
> नमक कम मात्रा में खाएं
>वसा युक्त पदार्थ का सेवन कर करें
>वजन नियंत्रित रखना जरूरी
> धूम्रपान न करें, शराब न पिएं
> पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं
> संतुलित आहार लें
> नियमित सैर व व्यायाम करें

किडनी रोग साइलेंट किलर के रूप में जाना जाता है। क्रोनिक किडनी रोग की शुरुआत में कोई संकेत या लक्षण नहीं होता हैं। इसलिए किडनी को स्वस्थ रखने के लिए एक उचित जीवनशैली अपनाएं।

अन्य खबरें

- Advertisment -