Tuesday, April 13, 2021

जानिए क्या है ‘गेटवे ऑफ नॉर्थ ईस्ट’, कल 9 मार्च को इस ‘मैत्री सेतु’ का होगा उद्घाटन

भारत और बांग्लादेश के बीच बढ़ते द्विपक्षीय और मैत्रीपूर्ण संबंधों के प्रतीक रूप में बने ‘मैत्री सेतु’ का 9 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उद्घाटन करेंगे।

इस दौरान पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से त्रिपुरा में कई बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास भी करेंगे।

क्या है मैत्री सेतु
• ‘मैत्री सेतु’ पुल फेनी नदी पर बनाया गया है। ये नदी त्रिपुरा और बांग्लादेश में भारतीय सीमा के बीच बहती है

• पुल का निर्माण राष्ट्रीय राजमार्ग और बुनियादी ढांचा विकास निगम लिमिटेड ने 133 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है

• 1.9 किलोमीटर लंबा पुल भारत के सबरूम को बांग्लादेश के रामगढ़ से जोड़ता है

• यह भारत और बांग्लादेश के बीच व्यापार और लोगों की आवाजाही में एक नया अग्रदूत बनने के लिए तैयार है

• इससे त्रिपुरा ‘गेटवे ऑफ नॉर्थ ईस्ट’ बन जाएगा क्योंकि सबरूम से चटगांव की दूरी मात्र 80 किलोमीटर है

त्रिपुरा में अन्य योजनाएं
प्रधानमंत्री मोदी सबरूम में एकीकृत जांच चौकी स्थापित करने के लिए आधारशिला भी रखेंगे। यह दोनों देशों के बीच माल और यात्रियों की आवाजाही को आसान बनाने में मदद करेगा, पूर्वोत्तर राज्यों के उत्पादों के लिए नए बाजार के अवसर प्रदान करेगा और भारत और बांग्लादेश के यात्रियों की निर्बाध आवाजाही में सहायता करेगा।

यह परियोजना भारतीय भूमि पत्तन प्राधिकरण द्वारा लगभग 232 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से बनायी जा रहा है।

प्रधानमंत्री कैलाशहर में उनाकोटी जिला मुख्यालय को खोवाई जिला मुख्यालय से जोड़ने वाले एचएच-208 की आधारशिला भी रखेंगे।

यह राष्ट्रीय राजमार्ग 44 को एक वैकल्पिक मार्ग प्रदान करेगा। राष्ट्रीय राजमार्ग एवं अवसंरचना विकास निगम लिमिटेड द्वारा 1078 करोड़ रुपये की लागत से 80 किलोमीटर लंबे एनएच 208 परियोजना को बनाने का काम लिया गया है।

इसके अलावा सरकार द्वारा विकसित राज्य राजमार्गों और अन्य जिला सड़कों का भी उद्घाटन करेंगे, जिसमें 63.75 करोड़ रुपये का वित्तीय परिव्यय होगा। वे त्रिपुरा के लोगों को सभी मौसमों में कनेक्टिविटी प्रदान करेंगे।

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत 40978 घरों का उद्घाटन करेंगे, जिसपर 813 करोड़ रुपये की लागत आई है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री अगरतला स्मार्ट सिटी मिशन के तहत निर्मित इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का भी उद्घाटन करेंगे।

पीएम मोदी पुराने मोटर स्टैंड में मल्टी लेवल कार पार्किंग और वाणिज्यिक परिसर के विकास के लिए आधारशिला रखेंगे। इसे लगभग 200 करोड़ रुपये की लागत से विकसित किया जाएगा।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री लिचुबागन से हवाई अड्डे तक दो लेन से लेकर चार लेन तक की मौजूदा सड़क को चौड़ा करने के काम का भी शिलान्यास करेंगे। अगरतला स्मार्ट सिटी मिशन द्वारा यह कार्य लगभग 96 करोड़ रुपये की लागत से कार्यान्वित किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

अन्य खबरें

- Advertisment -