वैक्सीन मैत्री के तहत 100 से अधिक देशों को भारत पहुंचा रहा वैक्सीन

INR (PBNS). वैक्सीन मैत्री कार्यक्रम के तहत मेड इन इंडिया वैक्सीन की खेप रविवार को सर्बिया पहुंची। बेलग्रेड के साथ अपने संबंधों को मजबूत करने की दिशा में बेहद महत्वपूर्ण कदम है।

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने ट्वीट करके कहा- भारत निर्मित वैक्सीन सर्बिया पहुंच गया है। सर्बिया के साथ हमारे संबंध मजबूत हो रहे हैं।

वहीं भारत में बनी 1 मिलियन कोरोना वैक्सीन की खेप नेपाल के काठमांडू पहुंच गई है। नेपाल सरकार द्वारा खरीदे गए टीकों की यह खेप रविवार को काठमांडू के त्रिभुवन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंची।

इस कठिन समय में जब पूरी दुनिया एक वायरस कोविड-19 से सहमी हुई है, भारत विश्व समुदाय को उसकी काट उपलब्ध कराने में तत्परता से जुटा हुआ है।

कोरोना की वैक्सीन बना चुका भारत आज विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चला रहा है। यही नहीं, भारतीयों को कोरोना का टीका लगाने के साथ-साथ भारत कई अन्य देशों को भी वैक्सीन उपलब्ध कराने का काम कर रहा है।

गौरतलब है कि भारत ‘मिशन मैत्री’ के तहत अब तक 100 से अधिक देशों को कोरोना वैक्सीन उपलब्ध करवा चुका है। भारत पड़ोसी देशों के साथ-साथ अन्य देशों को भी मेड इन इंडिया कोरोना वैक्सीन उपलब्ध करा रहा है।

बताना चाहेंगे कि भारत की मदद पाने वालों में अधिकांश उसके पड़ोसी और ऐसे देश हैं जो वैक्सीन का भारी खर्च उठाने में अपेक्षाकृत उतने सक्षम नहीं हैं।

वैक्सीन प्राप्त करने वाले देश खुले दिल से भारत की प्रशंसा में जुटे हैं। वहीं संयुक्त राष्ट्र, विश्व स्वास्थ्य संगठन और यूनिसेफ जैसी संस्थाओं ने भी भारत के इस कदम को सराहा है।

संबंधित खबरें...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

अन्य खबरें