भारत में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज की मैन्युफैक्चरिंग शुरु करेगी अमेजन इंडिया

"सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री ने कू पर भी लिखा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत में इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग ने हाल ही में वैश्विक दिग्गजों से कुछ सबसे बड़े निवेश को आकर्षित किया है। मैं यह जानकारी साझा कर ख़ुश हूं कि अमेजन इंडिया भारत की सफलता की इस कहानी में शामिल होने के लिए सबसे नया है.....

INR (PBNS). अमेजन इंडिया ने भारत में इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पादों की मैन्युफैक्चरिंग शुरू करने की घोषणा की है। इसकी शुरुआत अमेजन फायर टीवी स्टिक के निर्माण से होगी।

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने अमेजन के ग्लोबल सीनियर वाइस प्रेसिडेंट और कंट्री हेड फॉर इंडिया अमित अग्रवाल के साथ एक वर्चुअल बैठक हुई। इस बैठक के दौरान डिजिटल क्षेत्र से जुड़े कई मुद्दों पर चर्चा की।

पीएलआई योजना को मिली विश्व स्तर पर जबरदस्त प्रतिक्रिया
केंद्रीय मंत्री ने बताया कि भारत एक आकर्षक निवेश गंतव्य है और इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी उत्पाद उद्योग में वैश्विक आपूर्ति सीरीज में एक प्रमुख खिलाड़ी बनने की ओर अग्रसर है। प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव (पीएलआई) योजना शुरू करने के हमारी सरकार के फैसले को विश्व स्तर पर जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है।

उन्होंने कहा कि हम चेन्नई में विनिर्माण लाइन स्थापित करने के अमेजन के फैसले का स्वागत करते हैं क्योंकि इससे घरेलू उत्पादन क्षमताओं में वृद्धि होगी, साथ ही नौकरियां भी पैदा होंगी। इससे जो डिजिटल रूप से सशक्त आत्मनिर्भर भारत बनाने का हमारा मिशन आगे बढ़ेगा।”

उन्होंने ये भी कहा कि भारत और निर्यात बाज़ारों के लिए भारत से अमेज़न उत्पादों का निर्माण करने की केवल शुरुआत भर है।

बता दें कि देश-विदेश की तमाम कंपनियों को भारत में सामान बनाने के लिए आकर्षित करने के हिसाब से सरकार ने प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम शुरू की है।

हर साल हजारों फायर टीवी स्टिक उपकरणों का होगा उत्पादन
दरअसल अमेजन चेन्नई में फॉक्सकॉन की सहायक कंपनी कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरिंग क्लाउड नेटवर्क टेक्नोलॉजी के साथ अपने मैन्युफैक्चरिंग के कार्य को शुरू करेगी।

डिवाइस विनिर्माण कार्यक्रम के तहत हर साल कई लाख फायर टीवी स्टिक उपकरणों का उत्पादन करने में सक्षम होगा जो भारत में ग्राहकों की मांगों को पूरा करेगा।

अमेज़न घरेलू मांग के आधार पर अतिरिक्त बाजारों/शहरों के लिए स्केलिंग क्षमता का लगातार मूल्यांकन कर रही है।

उत्पादों को वैश्विक बाजारों तक ले जाने में मदद करें
वहीं केंद्रीय मंत्री ने अमेजन इंडिया से कहा कि वह ई कॉमर्स प्लेटफॉर्म के जरिए भारत के कारीगरों और आयुर्वेदिक उत्पादों को वैश्विक बाजारों तक ले जाने में मदद करें।

उन्होंने कहा कि अमेजन एक वैश्विक कंपनी है लेकिन अमेजन इंडिया को सही मायनों में भारतीय व्यापार समुदाय और संस्कृति से गहराई से जुड़ी भारत की कंपनी के रूप में विकसित होना चाहिए

संबंधित खबरें...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

अन्य खबरें