More
    10.1 C
    New Delhi
    Monday, January 17, 2022
    अन्य

      प्रतियोगी परीक्षाओं की नि:शुल्क तैयारी कराएगी सरकार, जानिये क्या है ‘अभ्युदय योजना’


      INR_EMN. उत्तर प्रदेश सरकार ने UPSC, राज्य लोक सेवा आयोग, बैंकिंग, एसएससी जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए निशुल्क कोचिंग की व्यवस्था की है। इसके लिए सरकार ने ‘अभ्युदय योजना’ की शुरुआत की है। जिसकी शुरुआत 16 फरवरी से होगी।

      इसके लिए आवेदन की प्रक्रिया 10 फरवरी से शुरू हो गई है। स्वयं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर रजिस्ट्रेशन शुरू होने की जानकारी दी है।

      क्या है अभ्युदय योजना
      उत्तर प्रदेश के दूर-दराज इलाकों में रहने वाले और गरीब तबके के होनहार छात्रों के लिए योगी सरकार ‘अभ्युदय योजना’ लेकर आई है। यह योजना उन विद्यार्थियों के लिए है, जो शहरों में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए नहीं जा सकते।

      प्रदेश के हर मंडल में शुरू होने वाली अभ्युदय कोचिंग ऐसे छात्रों के लिए वरदान साबित होगी, जिनके पास प्रतिभा है लेकिन संसाधनों की कमी में पीछे रह जाते हैं।

      प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए दी जाएगी ट्रेनिंग
      सरकार की इस योजना के जरिए छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उच्च स्तरीय मार्गदर्शन और एग्जाम से पहले ट्रेनिंग दी जाएगी।

      जिसमें संघ लोक सेवा आयोग (UPSC), उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC), अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC), अन्य भर्ती बोर्ड, नीट (NEET), जेईई (JEE), एनडीए (NDA), पीओ (PO), एसएससी (SSC), टीईटी (TET), बीएड (B.Ed) और अन्य परीक्षाएं शामिल की गई हैं।

      इन कोचिंग सेंटर्स में प्रदेश के छात्रों को आईएएस (IAS), आईपीएस (IPS) और पीसीएस (PCS) अधिकारी मुफ्त में कोचिंग देंगे।

      इसके तहत उत्तर प्रदेश के हर मंडल से 500 छात्र-छात्राओं का चयन किया जाएगा। अभ्यर्थी http://abhyuday.up.gov.in लिंक पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

      6 सदस्यीय राज्य स्तरीय समिति का गठन
      योजना के क्रियान्वयन के लिए अपर मुख्य सचिव समाज कल्याण की अध्यक्षता में 6 सदस्यीय राज्य स्तरीय समिति का गठन किया गया है।

      इसके अलावा मंडलायुक्त की अध्यक्षता में 12 सदस्यीय मंडलीय समिति का भी गठन किया गया है।

      राज्य स्तरीय समिति कंटेंट और पठन-पाठन सामग्री के लिए जरूरत के हिसाब से एक्सपर्ट को बुलाएगी। समिति शिक्षण कैलेंडर बनाने, विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं से संबंधित सामग्री तैयार करने का काम भी करेगी।

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here