JNU हिंसा ने 26/11 मुंबई आतंकी हमले की याद दिला दी :उद्धव ठाकरे

Share Button

जेएनयू में हमला करने वाले नकाबपोश हमलावर कायर हैं, उनकी पहचान का खुलासा होना चाहिए। महाराष्ट्र में छात्र सुरक्षित हैं, उन्हें नुकसान पहुंचाने की कोई कोशिश बर्दाश्त नहीं होगी……”

 INR. जवाहर लाल नेहरू विश्विविद्यालय यानी जेएनयू में रविवार को हुई हिंसा पर शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की प्रतिक्रिया आई है।

उद्धव ठाकरे ने जेएनयू छात्रों पर हुए हमले की तुलना 26/11 के मुंबई आतंकी हमले से करते हुए महाराष्ट्र के छात्रों को आश्वस्त करते हुए कहा कि यहां उन्होंने कोई भी नुकसान नहीं पहुंचा सकता।

गौरतलब है कि रविवार को जेएनयू में कुछ नकाबपोशों ने छात्रों और शिक्षकों पर हमला कर दिया था, जिसमें करीब 20 से अधिक घायल हो गये थे।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, जेएनयू हिंसा पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि जेएनयू के छात्रों पर हमले ने 26/11 मुंबई आतंकी हमले की याद दिला दी।

अगर सरकार को जरूरत महसूस होगी तो महाराष्ट्र के विश्वविद्यालय की सुरक्षा बढ़ाई जाएगी। महाराष्ट्र में छात्रों की सुरक्षा को दुरुस्त करने के लिए सरकार हर कदम उठाएगी। उन्होंने कहा कि यहां छात्रों का कोई कूछ भी नहीं बिगाड़ सकता। यहां तक कि कोई छू भी नहीं सकता।

इधर, जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय हिंसा के बाद मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एचआरडी) ने कुलपति सहित विश्वविद्यालय प्रशासन को सोमवार को बैठक के लिए बुलाया।

मंत्रालय ने रविवार को जेएनयू रजिस्टार प्रमोद कुमार से छात्रों और शिक्षकों पर हुए हमले के संबंध में तत्काल रिपोर्ट देने को कहा था।

जेएनयू के कुलपति एम. जगदीश कुमार ने कहा, ” पूरे घटनाक्रम की विस्तृत रिपोर्ट एचआरडी मंत्रालय को भेज दी गई है। मौजूदा स्थिति की विस्तृत जानकारी देने के लिए प्रशासन के शीर्ष अधिकारी मंत्रालय में मौजूद हैं।

गौरतलब है कि जेएनयू परिसर में रविवार रात उस वक्त हिंसा भड़क गयी थी, जब लाठियों से लैस कुछ नकाबपोश लोगों ने छात्रों तथा शिक्षकों पर हमला कर दिया था और परिसर में संपत्ति को नुकसान पहुंचाया था।

इसके बाद प्रशासन को पुलिस को बुलाना पड़ा था। इस हमले में जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष सहित कम से कम 28 लोग घायल हुए हैं।

वाम नियंत्रित जेएनयूएसयू और आरएसएस से संबद्ध एबीवीपी इस हिंसा के लिए एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।

केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने जेएनयू छात्रों से विश्वविद्यालय की गरिमा बनाए रखने और परिसर में शांति बनाए रखने का आग्रह किया है।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

बोले रक्षा मंत्री-  अब सिर्फ POK पर होगी बात
मूर्खता भरी यह कैसी खबर-पत्रकारिता?
मेरी सरकार को प्रमाण-पत्र देने से पहले राहुल बताये कि वे बिहार के विकास के लिए वे क्या कर रहे: नीतीश...
ये वन-कोयला नहीं, वन-घोटाला है मौनी बाबा !
फ्रॉडिंग में ICICI बैंक अव्वल, SBI सेकेंड
संदर्भ निर्भया गैंगरेपः जानिए फांसी की सजा से जुड़े कुछ अनसुने तथ्य
प्राचीन नालन्दा विश्वविद्यालयः भारतीय संस्कृति से जुड़ाव और बिहार दर्शन की बड़ी प्रेरणा
डॉ. जायसवाल की ताजपोशी कहीं सुशील मोदी की काट तो नहीं!
बिहारी बाबू का फिर छलका दर्द ‘अब भाजपा में घुट रहा है दम’
नकली फेसबुकियों को सावधान करता मध्‍य प्रदेश के सीएम का फर्जी प्रोफाइल
ममता की रैली में शामिल हुए भाजपा के 'शत्रु', पार्टी ने दिए कार्रवाई के संकेत
पाकिस्‍तान ने फिर पीठ में भोंका छुरा, दिया हिना रब्बानी को भारतीय सेना के 2 जवानों के सिर कलम का त...
रामदेव से सिब्‍बल ने की थी डील
हम होली कैसे मनाएं?
मोदी की गुरु दक्षिणा, आडवाणी बनेगें राष्ट्रपति !
इस मानव श्रृखंला से कितना चमक पायेगा इस बार नीतिश का चेहरा?
ST-MT की गला दबाकर हत्या करने जैसी है CNT-CPT में संशोधन: नीतीश
ई है सुशासन बाबू की नालन्दा नगरिया: सर्वत्र उठा सवाल,दोषी कौन?कुशासन या किसान?
जातिवाद व वर्गवाद को बढावा देती दैनिक हिन्दुस्तान
विधानसभा में बोले CM नीतीश- बिहार में लागू नहीं होगी NRC, जातीय जनगणना कराए केन्द्र सरकार
मेरी सरकार को बिहार की जनता देगी प्रमाण-पत्र न कि राहुल गांधी या कोई और : नीतीश कुमार
राजगीर थाना में बैठ पहले रांची फोन कर दी धमकी, फिर किया राज़नामा के संपादक पर फर्जी केस, थाना प्रभार...
राम ही खुद तय करेगें अयोध्या में मंदिर निर्माण की तारीखः योगी आदित्यनाथ
कानून के अन्धा होने के बात को प्रमाणित कर रहा है झारखंड मे पेसा कानून के तहत पंचायत चुनाव कराने की स...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter