3 से 13 मिनट तक कहलाती है संतोषप्रद क्रिया

INR डेस्क. अमेरिकी और कनाडाई यौन विशेषज्ञों द्वारा सेक्स संबंधी एक नए सर्वेक्षण के नतीजों के मुताबिक ‘श्रेष्ठतम यौन क्रिया’ कुछ ही मिनटों की होती है।

सर्वेक्षण में साफतौर पर कहा गया है कि ‘लंबी’ यौन क्रिया का दावा करने वाले संभवत: झूठ कहते हैं।

पेन्न स्टेट विश्वविद्यालय के शोधकर्मियों एरिक कोर्टी एवं जिने गार्डियानी ने सोसायटी फॉर सेक्स थैरेपी एंड रिसर्च के सदस्यों के समूह से बात करने के बाद अपने नतीजे घोषित किए।

समूह के सदस्यों में अनेक मनोविश्लेषक, डॉक्टर, समाजसेवी, विवाह एवं परिवार सलाहकार और नर्से शामिल हैं जिन्होंने कई दशकों के अनुभव के आधार पर अपने विचार दिए।

 ‘संतोषप्रद’ यौन क्रिया का काल 3 से 13 मिनट के बीच का ही होता है। समूह के 68 प्रतिशत सदस्यों ने यौन क्रिया की शुरुआत से अंत तक की भिन्न समयावधियां निर्धारित की।

उन्होंने सात मिनट की अवधि को ‘पर्याप्त’, 13 मिनट को ‘संतोषप्रद’, एक से दो मिनट को ‘काफी कम’, और दस से तीस मिनट को ‘उबाऊ’ कहा।

शोधकर्ताओं के अनुसार आधुनिक समाज में यौन क्रियाओं संबंधी अनेक भ्रामक धारणाओं ने सिर उठा लिया है। अनेक युवक और युवतियां लंबी यौन क्रियाओं की फंतासियां रचने लगे हैं।

उनके अनुसार इस सर्वेक्षण से सेक्स संबंधी अनेक झूठी धारणाओं को समाप्त करने में मदद मिलेगी और इससे यौन संबंधी उदासीनता और असमर्थता पर भी रोक लगेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here