» हाई कोर्ट ने खुद पर लगाया एक लाख का जुर्माना!   » बेटी का वायरल फोटो देख पिता ने लगाई फांसी, छोटे भाई ने भी तोड़ा दम   » पुण्यतिथिः जब 1977 में येदुरप्पा संग चंडी पहुंचे थे जगजीवन बाबू   » बजट का है पुराना इतिहास और चर्चा में रहे कई बजट !   » BJP राष्‍ट्रीय महासचिव के MLA बेटा की खुली गुंडागर्दी, अफसर को यूं पीटा और बड़ी वेशर्मी से बोला- ‘आवेदन, निवेदन और फिर दनादन’ हमारी एक्‍शन लाइन   » कैदी तबरेज तो ठीक, लेकिन वहीं हुए पुलिस संहार को लेकर कहां है ओवैसी, आयोग, संसद और सरकार?   » उस खौफनाक मंजर को नहीं भूल पा रहा कुकड़ू बाजार   » प्रसिद्ध कामख्या मंदिर में नरबलि, महिला की दी बलि !   » गुजरात दंगों में नरेंद्र मोदी पर उंगली उठाने वाले चर्चित पूर्व IPS को उम्रकैद   » इधर बिहार है बीमार, उधर चिराग पासवान उतार रहे गोवा में यूं खुमार, कांग्रेस नेत्री ने शेयर की तस्वीरें  

EC का बड़ा एक्शनः योगी-मायावती के चुनाव प्रचार पर रोक

Share Button

“भारतीय निर्वाचन आयोग के फैसले के अनुसार योगी आदित्यनाथ 16, 17 और 18 अप्रैल को कोई प्रचार नहीं कर पाएंगे। इसके अलावा मायावती 16 और 17 अप्रैल को कोई चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगी..”

INR. आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में चुनाव आयोग ने सख्त कदम उठाया है। चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती के प्रचार करने पर रोक लगा दी है।

चुनाव आयोग की ये रोक 16 अप्रैल से शुरू होगी। जो कि योगी आदित्यनाथ के लिए 72 घंटे और मायावती के लिए 48 घंटे तक लागू रहेगी।

इस दौरान योगी आदित्यनाथ और मायावती ना ही कोई रैली को संबोधित कर पाएंगे, ना ही सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर पाएंगे और ना ही किसी को इंटरव्यू दे पाएंगे। चुनाव आयोग का एक्शन 16 अप्रैल सुबह 6 बजे शुरू होगा।

बता दें कि बसपा प्रमुख मायावती ने उत्तर प्रदेश के देवबंद में चुनावी सभा के दौरान मुस्लिम समुदाय के लोगों से वोटों के लिए अपील की थी।

मायावती ने अपने संबोधन में कहा था कि मुस्लिम समुदाय के लोग अपना वोट बंटने ना दें और सिर्फ महागठबंधन के लिए वोट दें। मायावती का ये बयान धर्म के नाम पर वोट मांगने के नियम का उल्लंघन है।

वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने एक संबोधन में मायावती पर हमला करते हुए कहा था कि अगर विपक्ष को अली पसंद है, तो हमें बजरंग बली पसंद हैं।

दोनों नेताओं के इन बयानों पर चुनाव आयोग ने संज्ञान लिया था और दोनों नेताओं को हिदायत दी थी।

उधर, सोमवार सुबह ही सुप्रीम कोर्ट ने मायावती के देवबंद रैली में दिए गए भाषण पर आपत्ति जताई थी। अदालत की तरफ से चुनाव आयोग को फटकार लगाई गई थी कि आयोग ने अभी तक इस मामले में क्या कार्रवाई की है। आयोग अभी तक सिर्फ नोटिस ही जारी कर रहा है, कोई सख्त एक्शन क्यों नहीं ले रहा है।

Share Button

Related News:

जब गुलजार ने नालंदा की 'सांसद सुंदरी' तारकेश्वरी पर बनाई फिल्म 'आंधी'
जुड़वा 2 का ट्रेलर जारी, राजा व प्रेम के किरदार में वरुण धवन
प्रेस क्लब भवन कब्जाने के लिये हो रहा है फर्जी संस्था का अवैध चुनाव !
रेलवे सफर में ये आपके हैं अधिकार
राहुल ने ‘अनुभव-उर्जा’ को सौंपी राजस्थान की कमान
रांची के रिम्स में लालू से मिलकर यूं गरजे बिहारी बाबू- ‘खामोश’
अर्थ व्यवस्था पर जयंत के हाथों यशवंत की घेराबंदी में फंस गई मोदी सरकार
नालोशिप्रा का राजगीर सीओ को अंतिम आदेश, मलमास मेला सैरात भूमि को 3 सप्ताह में कराएं अतिक्रमण मुक्त
पेट्रोल पंप डीलर्स पर दबाव, मोदी की तस्वीर लगाओ अन्यथा तेल आपूर्ति बंद
कूटनीतिः ‘पैगाम-ए-खीर’ के निशाने पर कमल-तीर
राबड़ी-तेजस्वी को IRCTC केस में बेल, लालू रिम्स के कार्डियोलॉजी में एडमिट
दोधारी तलवार बनती वर्ल्ड टेक्नोलॉजी
संगठित-संरक्षित अपराधों की शरण स्थली बना पारधी ढाना
ममता की रैली में शामिल हुए भाजपा के 'शत्रु', पार्टी ने दिए कार्रवाई के संकेत
फिर चेहरा पर टिकी बिहार की राजनीति
राजगीर वाइल्ड लाइफ सफारी पार्क निर्माण पर रोक
बिहार की ये तिकड़ी संभालेगें इन राज्यों की कमान, शिक्षा माफियाओं के दवाब में हटाए गए मल्लिक?
मुंगेरः बाहुबलियों की चुनावी ज़ोर में बंदूक बनाने वाले गायब!
खूंटी के इस गर्त में जाने की हैैं कई वजहें
बड़ा रेल हादसाः रावण मेला में घुसी ट्रेन, 100 से उपर की मौत
इस तरह तैयार की जाती है बढ़ते मांग के बीच सेक्स डॉल्स
आभावों के बीच राष्ट्रीय खेल में यूं परचम लहरा रही एक सुदूर गांव की बेटियां
दलित राजनीति की सशक्त धारा को भुनाने की सफल प्रयास है ‘काला’
धारा 120 बी के तहत दोषी लालू की सजाएं साथ चलेंगी या अलग-अलग, फैसला कोर्ट पर

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...
» पुण्यतिथिः जब 1977 में येदुरप्पा संग चंडी पहुंचे थे जगजीवन बाबू   » कैदी तबरेज तो ठीक, लेकिन वहीं हुए पुलिस संहार को लेकर कहां है ओवैसी, आयोग, संसद और सरकार?   » डॉक्टरी भी चढ़ गयी ग्लोबलाइजेशन की भेंट !   » विकास नहीं, मानसिक और आर्थिक गुलामी का दौर है ये !   » एक ऐतिहासिक फैसलाः जिसने तैयार की ‘आपातकाल’ की पृष्ठभूमि   » एक सटीक विश्लेषणः नीतीश कुमार का अगला दांव क्या है ?   » ट्रोल्स 2 TMC MP बोलीं- अपराधियों के सफेद कुर्तों के दाग देखो !   » जब गुलजार ने नालंदा की ‘सांसद सुंदरी’ तारकेश्वरी पर बनाई फिल्म ‘आंधी’   » आभावों के बीच राष्ट्रीय खेल में यूं परचम लहरा रही एक सुदूर गांव की बेटियां   » मुंगेरः बाहुबलियों की चुनावी ज़ोर में बंदूक बनाने वाले गायब!  
error: Content is protected ! india news reporter