दो साल से खामोश है मुहब्बत की निशानी ‘ताजमहल’ का ट्विटर हैंडल

"सिर्फ़ इशारों से होती मोहब्बत तो इन अल्फाजों को खुबसूरती कौन देता, बस इक पत्थर बनकर रह जाता ताजमहल अगर इश्क इसे अपनी पहचान न देता..." INR.(जयप्रकाश नवीन)। आगरा के...

जज मानवेन्द्र मिश्रा ने यूं उकेरी शिवहर के अतीत-वर्तमान का सच

“संसाधनों के घोर अभाव के बावजूद शिवहर के निवासी माननीय उच्च न्यायालय पटना के न्यायाधीश, बिहार सरकार के प्रधान सचिव, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव, स्वास्थय विभाग के प्रधान सचिव ,...

फिर दिखाई दे सकते हैं कुलांचे भरते चीते

“आजादी के बाद न जाने कितने जानवर, पशु, पक्षी विलुप्तप्रायः हो चुके हैं। प्रकृति का सबसे बड़ा सफाई कर्मी माना जाने वाला गिद्ध भी अब विलुप्त होने के कगार पर...

प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय खंडहरः खतरे में ‘विश्व धरोहर’!

“यूनेस्को में भारत प्रतिनिधि प्रो. जी.एस.राजपूत भी नालंदा प्राचीन विश्व विद्यालय के विकास के लिए सरकार से शीघ्र पहल करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा है कि सरकार की...

“मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में 5 दिसंबर 1992 की स्थिति चाहिए”

“सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिम पक्ष की ओर से राजीव धवन ने कहा कि हम हमेशा ये नहीं सोच सकते हैं कि 1992 नहीं हुआ। अदालत में मुस्लिम पक्ष की ओर...

…और एक फिल्म की शूटिंग ने राजगीर ‘रोपवे’ को दिला दी अंतरराष्ट्रीय पहचान

“राजगीर कभी वसुमतिपुर, गिरिव्रज, वृहद्रधपुर, कुशाग्रपुर और राजगृह नाम से प्रसिद्ध रहा है। राजगीर की धरा कभी ब्रह्मा की पवित्र यज्ञ भूमि मानी जाती है। भगवान बुद्ध की साधना भूमि,...
error: Content is protected ! india news reporter