करगिल युद्धः एक और विजय कहानी

Share Button
कारगिल युद्ध भारत और पाकिस्तान के बीच मई और जुलाई 1999 के बीच कश्मीर के करगिल जिले में हुए सशस्त्र संघर्ष का नाम है।
पाकिस्तान की सेना और कश्मीरी उग्रवादियों ने भारत और पाकिस्तान के बीच की नियंत्रण रेखा पार करके भारत की ज़मीन पर कब्ज़ा करने की कोशिश की। पाकिस्तान ने दावा किया कि लड़ने वाले सभी कश्मीरी उग्रवादी हैं, लेकिन युद्ध में बरामद हुए दस्तावेज़ों और पाकिस्तानी नेताओं के बयानों से साबित हुआ कि पाकिस्तान की सेना प्रत्यक्ष रूप में इस युद्ध में शामिल थी। लगभग 30,000 भारतीय सैनिक और करीब 5,000 घुसपैठिए इस युद्ध में शामिल थे। भारतीय सेना और वायुसेना ने पाकिस्तान के कब्ज़े वाली जगहों पर हमला किया और धीरे-धीरे अंतर्राष्ट्रीय सहयोग से पाकिस्तान को सीमा पार वापिस जाने को मजबूर किया। यह युद्ध ऊँचाई वाले इलाके पर हुआ और दोनों देशों की सेनाओं को लड़ने में काफ़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। आणविक शस्त्र बनाने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच हुआ यह पहला सशस्त्र संघर्ष था।
पाकिस्तान में इस युद्ध के कारण राजनैतिक और आर्थिक अस्थिरता बढ़ गई और नवाज़ शरीफ़ की सरकार को हटाकर परवेज़ मुशर्रफ़ राष्ट्रपति बन गए। दूसरी ओर भारत में इस युद्ध के दौरान देशप्रेम का उबाल देखने को मिला और भारत की अर्थव्यवस्था को काफ़ी मजबूती मिली। भारतीय सरकार ने रक्षा बजट और बढ़ाया। इस युद्ध से प्रेरणा लेकर कई फ़िल्में बनीं जिनमें एल ओ सी कारगिल, लक्ष्य और धूप मुख्य हैं।
0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

सिद्धांतहीन नीतीश की इस बार अंतिम पलटीः लालू यादव
स्व. राजीव गांधी फेसबुक पर !!
चमचागिरी+ अहंकारी = ब्लॉगर कृष्ण बिहारी
बिहार में क़ानून व्यवस्था की ताजा स्थति से संतुष्ट हैं नीतीश कुमार
"सुशासन बाबू" के सुशासन को मुहँ चिढ़ाता उनका घर-जिला नालंदा का ताजातरीन सूरत
नक्सलियों के लिये शर्मनाक सबक है कानू सान्याल का आत्महत्या करना.
"झारखंड:उग्रवादियों से सांठ-गांठ कर अपना प्रभाव बढा रही है इसाई मिशनरियां "
समूचे देश मे राज्यो का पुनर्गठन एक साथ हो : नीतीश-पासवान
अंधेर नगरी चौपट राजा यानि नक्सली मुख्यमंत्री शिबू सोरेन
मधु कोडा लूट-राज कांड की जांच चिंताजनक : नीतीश कुमार
दार्जिलिंग बन्द 32वें दिन जारी, स्थिति तनावपूर्ण
एससी-एसटी एक्ट मामले में सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला अभी सुरक्षित
बढ़ते अपराध को लेकर सीएम की समीक्षा बैठक में लिए गए ये निर्णय
पटना जंक्शन पर विक्रमशिला एक्सप्रेस से असलहे का जखीरा बरामद, एक गिरफ्तार
साईबर अपराधियों का यूं हुआ भंडाफोड़,भारी सबूत बरामद
राहुल के बयान से संघीय शासन व्यवस्था को खतरा: नीतिश
बिहारः कोंच BDO ने छत से कूद कर की आत्‍महत्‍या! हाल ही में बैंक PO से हुई थी शादी
रजरप्पा :झारखंडी मीडिया को मां छिन्न मस्तिका मंदिर परिसर का ये आलम दिखाई नहीं देता?
ये वन-कोयला नहीं, वन-घोटाला है मौनी बाबा !
नवादाः नवोदय विद्यालय से रैगिंग को लेकर असम के 15 छात्र फरार
अनशन में अन्ना पीते हैं विटामिन मिला पानीः जी. आर. खैरनार
देश को कहां ले जाएगी अन्ना और संसद का टकराव
SC का यह फैसला CBI की साख बचाने की बड़ी कोशिश
विवादों में उलझा दैनिक भास्कर,रांची का प्रकाशन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter