इस नग्नता पर नारी संगठनों को लज्जा क्यों नहीं आती !

Share Button

” अन्ना हजारे जी को सपोर्ट के बहाने टोपलेश होनेवाली अभिनेत्री “योगिता” के कदम को कितना जायज माना जाना चाहिए ? और कहाँ गई वो ” नारी संघटन ” जो हर बार नारी पर होते अत्याचार की ही बात करती है ? क्या इसे अश्लीलता भरा अंगप्रदशन कहा जाये या फिर अन्ना हजारे के नाम पर भारत की आन,बान,शान “तिरंगे ” का अपमान ..या फिर सस्ती पब्लिसिटी कहा जाये ..बात चाहे जो भी हो मग़र एक बात साफ़ होती है की ” नारी संघटन “को “पूनम पांडे “के न्यूड होने पर या फिर ” मन्दिरा बेदी “के न्यूड होने के साथ साथ अपने सरीर पर “ॐ” लगवाकर तस्वीरे खिंचवाने पर भी ” अश्लीलता दिखाई नहीं दे रही है ?… क्या आज नारी संघटन अँधा हो गया है ? या फिर सिर्फ नाम का रहे गया है ” नारी संघटन ” ? ” ” भारत सरकार अश्लील विज्ञापन पर जब रोक लगा रही है उसी वक़्त ” भारत की नारी ” जिस संस्कृति के लिए जानी जा रही है ..उस ” लाज , शर्म ” को सरेआम बाजार में लीलाम कर रही है | ” …नारी संघटन को नारी पर होते अत्याचार दिख रहे है मग़र नारी के द्वारा दिखाई जाती अश्लीलता नहीं ..आज अगर ऐसा ही कार्य किसी पुरुष ने किया होता तो ..नारी संघटन जमकर विरोध के साथ कड़ी कार्यवाही की मांग भी करती मग़र आज ..वही नारी संघटन “किसी नारी के द्वारा अपने खुले जिस्म पर “तिरंगा ” लगाकर तस्वीरे खिंचवाने पर चुप है | ” 
” बात यहाँ सिर्फ अंगप्रदशन की ही नहीं है मग़र आज “नारी संघटन” को फिर से सोचना पड़ेगा की ” आखिर ऐसी क्या बात है ..जिसकी वजह से भारत की नारी अपना सच्चा गहेना ” अपना जिस्म ” दिखाने को राजी हो जाती है ? …एक नारी के द्वारा ऐसी हरकत पर नारी संघटन को ठोस कदम उठाने ही चाहिए ..कही ऐसा ना हो की ” नारी संघटन” की चुप्पी ये साबित ना कर दे की “आज की नारी खुद खिलौना बन गई है ? ..अब वक़्त आ गया है की ऐसे नारी संघटन फिर से एक बार सोचे की आखिर देश की इज्ज़त और नारी के सच्चे गहने को कैसे बचाया जाये ? 
(www.eksachai.blogspot.com से साभार)
0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

हरियाणाः यूं चार्टर प्लेन चढ़ दिल्ली रवाना हुई ‘सत्ता की चाबी’  
झारखंड:"गुरूजी" देखिये क्या कर रहा है आपके गांव का छोकडा लोग
अब बिरसा नगर कहलाएगा 'पाकिस्तान'
नादानी बाड़मेर एसपी की, बदनामी पटना पुलिस-बिहार की
झारखण्ड : मामला राजद के निवर्तमान विधायक के नक्सली अपहरण का
मेजर ध्यानचंद हॉकी टूर्नामेंट खेलने जा रहे 4 राष्ट्रीय खिलाड़ियों की दर्दनाक मौत, 3 जख्मी
ममता बनर्जी ने शुरु की 'भाजपा भारत छोड़ो आंदोलन'
“अंकल माओवादी हमारे स्कूल क्यो उडाते है?” नक्सलियो के लिये शर्म है गांव के इन स्कूली बच्चो की चीख
हाय री झारखण्डी राजनीति! हाय री झारखण्डी मीडिया!!
बताईये: दोनों में कौन है क्रिकेटर युसूफ पठान?
नीतीश के सुशासन को लेकर उनके घर-जिले मे उठा सवाल:दोषी कौन?कुशासन या किसान?
"प्रभात ख़बर औए ३६५ दिन में सौतन-डाह"
'72 हजार' पर भारी पड़ा ‘चौकीदार’
पेट्रोल पंप डीलर्स पर दबाव, मोदी की तस्वीर लगाओ अन्यथा तेल आपूर्ति बंद
झारखंड मे पेसा अधिनियम को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर उठ रहे सवाल : वेशक ये कानून अन्धा है?
...और खून से लथपथ इंदिरा जी का सिर अपनी गोद में रख सोनिया चल पड़ी अस्पताल
ये वन-कोयला नहीं, वन-घोटाला है मौनी बाबा !
प्रसिद्ध भजन गायक की पुत्री-पत्नी समेत गला काटकर हत्या, लापता पुत्र का शव-कार जलाते एक धराया
उग्र आंदोलन की ओर बढ़ रहे हैं विकास(राँची) से ओरमाँझी के बीच एन.एच.-33 के विस्थापित
कानून से उपर है संत आशाराम बापू ?
आरक्षण को लेकर राष्ट्रीय अनुसूचित जाति जनजाति आयोग का कड़ा रुख
टीम अन्ना की ईमानदारी का गज़ब खुलासा !
पटना जंक्शन पर विक्रमशिला एक्सप्रेस से असलहे का जखीरा बरामद, एक गिरफ्तार
'द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर' को लेकर हाई कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
Menu
error: Content is protected ! india news reporter