राजा ने बजा दिया मनमोहन और चिदंबरम का बाजा

Share Button
सोनिया गांधी जी,आपके हमाम में सब नंगे हैं!!

2जी स्पेक्ट्रम मसले में तिहाड़ की सलाखों में बंद पूर्व संचार मंत्री ए राजा ने आज प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और गृह मंत्री पी चिदंबरम के खिलाफ ही ताल ठोक डाली। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की मौजूदगी में ही तत्कालीन वित्त मंत्री चिदंबरम ने विदेशी कंपनियों टेलीनॉर और एतिसालात को यूनिटेक और स्वान में हिस्सेदारी खरीदने की मंजूरी दी थी। राजा ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत में प्रधानमंत्री को चुनौती दी कि इस बात से वह इनकार करके दिखाएं।
विशेष न्यायाधीश ओ पी सैनी के सामने राजा ने 2जी स्पेक्ट्रम की नीलामी नहीं करने के अपने फैसले को सही ठहराया। उन्होंने कहा कि राष्टï्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार की नीतियों का उन्होंने पालन किया था। राजा के वकील सुशील कुमार ने कहा कि अगर किसी नीति का पालन करने पर राजा के खिलाफ मुकदमा चल रहा है तो 1993 के बाद से सभी दूरसंचार मंत्रियों को भी उसी नीति का पालन करने के लिए सजा मिले।
हालांकि बाद में चिदंबरम ने संवाददाताओं से कहा कि उनके सामने यही मसला था कि नए लाइसेंस हासिल करने वाली कंपनियां स्वान और यूनिटेक अपनी हिस्सेदारी बेच रही हैं या नए शेयर जारी कर हिस्सेदारी घटा रही हैं। उन्होंने कहा, ‘दोनों कंपनियां विदेशी साझेदार ला रही थीं। मुझे लगता है कि दूरसंचार विभाग ने इसके लिए उन्हें मंजूरी दे दी थी। इससे पहले राजा ने कहा कि 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन में घोटाले का आरोप उन पर नहीं लगाया जा सकता। उराजा ने कहा कि दूरसंचार मंत्री रहते हुए अरुण शौरी ने 26 लाइसेंस बांटे, दयानिधि मारन ने 25 बांटे और खुद उन्होंने 122 लाइसेंस बांटे। उन्होंने कहा, ‘आंकड़ों से फर्क नहीं पड़ता। असल बात यह है कि किसी ने भी स्पेक्ट्रम नीलाम नहीं किया। अगर उन्होंने भी गलत किया तो सवाल केवल मुझसे क्यों?
0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

पुणेः पुलिस फाइरिंग में 4 किसानों की मौत
'बबुनी गैंगरेप' में पुलिस सम्मान पर उठे सवाल !
''ये है झारखण्ड नगरिया तू लूट बबुआ''
शिबू फिर बने पेंडुलम,चुनाव परिणाम आया नही कि मुख्यमंत्री बनने के लिये मारामारी
ईको टूरिज्म स्पॉट बनकर उभरेगा घोड़ा कटोरा :सीएम नीतीश
भागलपुर मे भारी विरोध: राहुल जी बिहार के लोग खासकर युवा अब पहले जैसा नहीं रहा!!
प्रभात खबर को हाथ में लेकर पहले अपनी अंतरात्मा टटोलिये हरबंश जी.
मास्टरमाइंड PK ने डुबोई कांग्रेस की लुटिया
ई है बिहार के "सुशासन बाबू" की कैसी "सुशासित नालन्दा नगरिया"!
शत्रु संपत्ति कानून संशोधन विधेयक 2017 को संसद की मंजूरी
उग्र आंदोलन की ओर बढ़ रहे हैं विकास(राँची) से ओरमाँझी के बीच एन.एच.-33 के विस्थापित
हाई कोर्ट ने लगाई बालकृष्ण की गिरफ़्तारी पर रोक
अब कहां जाएंगें ये दृष्टिहीन बच्चें
कुख्यात मीडियाई दरिंदा ब्रजेश ठाकुर समेत 19 लोग दोषी करार, 28 को मिलेगी सजा
कब टूटेगी झारखंडी नेताओ की संकीर्ण मानसिकता?
सिल्ली MLA अमित कुमार ने केन्द्रीय मंत्री से मुलाकात कर रखी ये समस्याएं
सबाल "फिल्टर सिस्टम" का
मेजर ध्यानचंद हॉकी टूर्नामेंट खेलने जा रहे 4 राष्ट्रीय खिलाड़ियों की दर्दनाक मौत, 3 जख्मी
हाय री झारखण्डी राजनीति! हाय री झारखण्डी मीडिया!!
अब परचून की दुकानों में शराब बेचेगी भाजपा सरकार
देखिए दर्दनाक हादसा का शर्मनाक वीडियो! यही है डिजीटल इंडिया?
नागरिकता संशोधन बिल पर बवाल के असल मायने?
जेटली चुने हुए नेता नहीं हैं इसलिये वे लोगों का दर्द नहीं समझतेः यशवंत सिन्हा
मुख्यमंत्री की कड़ी फटकार के बाद सक्रीय हुये उनके घर-जिले के कुशासित अधिकारी!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
Menu
error: Content is protected ! india news reporter