» तीन तलाक को राष्ट्रपति की मंजूरी, 19 सितंबर से लागू, यह बना कानून!   » तीन तलाक कानून पर कुमार विश्वास का बड़ा रोचक ट्विट….   » मुंशी प्रेमचंद: हिंदी साहित्य के युग प्रवर्तक   » बिहार के विश्व प्रसिद्ध व्यवसायी सम्प्रदा सिंह का निधन   » पत्नी की कंप्लेन पर सस्पेंड से बौखलाया था हत्यारा पुलिस इंस्पेक्टर   » कर्नाटक में सरकार गिरना लोकतंत्र के इतिहास में काला अध्याय : मायावती   » समस्तीपुर से लोजपा सांसद रामचंद्र पासवान का निधन   » दिल्ली की 15 साल तक चहेती सीएम रही शीला दीक्षित का निधन   » अपनी दादी इंदिरा गांधी के रास्ते पर चल पड़ी प्रियंका?   » हाई कोर्ट ने खुद पर लगाया एक लाख का जुर्माना!  

ये हैं भारत के प्रमुख मीडिया हाउस और उसके मालिक

Share Button
एनडीटीवीः एक बहुत लोकप्रिय टीवी समाचार मीडिया चैरिटी की Gospels में स्पेन साम्यवाद का समर्थन करता है के द्वारा वित्त पोषित है. हाल ही में यह पाकिस्तान के प्रति नरम रुख पर विकसित किया गया है क्योंकि पाकिस्तान के राष्ट्रपति द्वारा केवल इसी चैनल को प्रसारण की अनुमति दी गई है. भारतीय सीईओ प्रणय रॉय, भारत की कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव प्रकाश करात के सह भाई है. उनकी पत्नी और वृंदा करात बहनें हैं.
इंडिया टुडेः देश की एकमात्र राष्ट्रीय साप्ताहिक जो केवल भाजपा को समर्पित थी  अब एनडीटीवी द्वारा खरीदे जाने के बाद से इसका टोन काफी बदल गया है और अब इसे केवल हिन्दुओं को कोसने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है .
सीएनएन-आईबीएनः यह 100 प्रतिशत अमेरिका के दक्षिण में स्थित बैप्टिस्ट चर्च द्वारा वित्त पोषित है जिसकी शाखाएं तमाम दुनियां में मौजूद हैं.चर्च सालाना अपने चैनल को बढ़ावा देने के के लिए 800 मिलियन डॉलर का आवंटन करती है. इसका भारतीय राजदीप सरदेसाई और उनकी पत्नी सागरिका घोष के सिर है.
 टाइम्स समूहः टाइम्स ऑफ इंडिया, मिड – डे, नव – Bharth टाइम्स, फेमिना, फिल्मफेयर, विजया कर्नाटक, अब टाइम्स (24 – घंटे के समाचार चैनल) और कई और अधिक … टाइम्स समूह बेनेट एंड कोलमैन द्वारा स्वामित्व में है. ये विश्व ईसाई परिषद के 80 प्रतिशत अनुदान, एक अंग्रेज और एक इतालवी के समान रूप से 20 प्रतिशत शेयर संतुलन करता है. इतालवी Robertio Mindo सोनिया गांधी के एक करीबी रिश्तेदार है.
स्टार टीवी:  यह एक ऑस्ट्रेलियाई, जो सेंट पीटर्स बिशप का चर्च मेलबोर्न द्वारा समर्थित है द्वारा चलाया जाता है.
 हिंदुस्तान टाइम्स: बिड़ला समूह के स्वामित्व है, लेकिन शोभना भारतीय के पदभार सँभालने के बाद इसका चेहरा ही बदल गया है. वर्तमान में यह टाइम्स समूह के साथ सहयोग में काम कर रहा है. और शुरु से ही यह ग्रुप कांग्रेस की नीतियों का समर्थक रहा है.
हिंदू: अंग्रेजी दैनिक, जो 125 साल से भी पुराना है  हाल ही में यहोशू सोसायटी, बर्न, स्विट्जरलैंड द्वारा पर ले लिया. एन राम की पत्नी एक स्विस नागरिक है.
इंडियन एक्सप्रेस: विभाजित दो समूहों में. इंडियन एक्सप्रेस और न्यू इंडियन एक्सप्रेस (दक्षिणी संस्करण) अधिनियमों ईसाई मंत्रालयों इंडियन एक्सप्रेस में प्रमुख हिस्सेदारी है और बाद भारतीय समकक्ष के साथ अभी भी है.  
स्टेट्समैन:  यह भारत की कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा नियंत्रित किया जाता है.  
एशियन एज और डेक्कन क्रॉनिकल: अपने मुख्य संपादक एम.जे. अकबर के साथ सऊदी अरब कंपनी द्वारा स्वामित्व में है. गुजरात दंगों जो 2002 में जहां हिंदुओं को जिंदा जला दिया गया, राजदीप सरदेसाई और Bharkha दत्त उस समय एनडीटीवी के लिए काम कर रहे थे सऊदी अरब से लगभग 5 मिलियन डॉलर केवल एक समुदाय पीड़ितों को कवर करने के लिए दिया गया, जिसे इन्होने बहुत ही ईमानदारी से निभाया. एक भी ऐसे दूसरे समुदाय के परिवार का साक्षात्कार तक नहीं किया गया और न ही दिखया गया जिनके परिजनों को जिंदा जला दिया गया था .
Tehelka.com के तरुण तेजपाल को नियमित रूप से अरब देशों से खाली चेक मिलते हें.
Share Button

Related News:

मिशन शक्ति पर मोदी का राष्ट्र संदेश पहुंचा चुनाव आयोग, मांगी संबोधन की कॉपी
राहुल गांधी के बायोडाटा में धर्म और राष्ट्रीयता का जिक्र क्यों नहीं !
365दिन चैनल के प्रमुख के अमर्यादित वयान को लेकर पलामू चेम्बर औफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज के सचिव ने इस्...
राहुल गांधी के खिलाफ जांच क्यों नहीं होती !!
"ये झारखंड नगरिया तू लूट बबुआ"
कांग्रेस की यह कैसी घटिया राजनीति!
अफजल गुरू की दया याचिका खारिज करें राष्ट्रपतिः गृह मंत्रालय की अनुशंसा
कांग्रेस की गलत नीतियो की देन है बदहाल झारखंड : नीतिश
दिवंगत के परिजन से मिले नीतीश,ली ग्रमीणों की सुध
राष्ट्रपति शासन की और बढ़ रहा है झारखंड
अंग्रेजों के भी बाप निकले हमारे आजाद देश के नेता
सोनिया गांधी के खिलाफ जांच कार्रवाई क्यों नहीं?
अर्जुन मुंडा यानि अंधेर नगरी का चौपट राजा
झारखंड विधानसभा चुनाव:रांची जिला, रांची क्षेत्र के उम्मीदवारो को मिले मत
प्रसिद्ध कामख्या मंदिर में नरबलि, महिला की दी बलि !
नई दिल्ली की सेटिंग के बाद एक मंच पर आये अन्नाद्रमुक के नेता,पन्नीरसेल्वम होगें DCM
महज कमाई का जरिया बना राजीव गांधी उद्यमी मित्र योजना
केन्द्रीय मंत्री जयराम ने स्वागत माला से जूतें पोंछे, किया खादी का अपमान
इस बार उखड़ सकते हैं नालंदा से नीतीश के पांव!
शत्रु संपत्ति कानून संशोधन विधेयक 2017 को संसद की मंजूरी
योग गुरू बाबा रामदेव को लेकर गरम हुये लालू
पुलिस तंत्र के खौफ की कहानी है ‘द ब्लड स्ट्रीट’
राहुल ने पुछा- ‘मोदी जी, जय शाह जादा खा गया, आप चौकीदार या भागीदार?’
पाकिस्‍तान ने फिर पीठ में भोंका छुरा, दिया हिना रब्बानी को भारतीय सेना के 2 जवानों के सिर कलम का त...

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...
» मुंशी प्रेमचंद: हिंदी साहित्य के युग प्रवर्तक   » पुण्यतिथिः जब 1977 में येदुरप्पा संग चंडी पहुंचे थे जगजीवन बाबू   » कैदी तबरेज तो ठीक, लेकिन वहीं हुए पुलिस संहार को लेकर कहां है ओवैसी, आयोग, संसद और सरकार?   » डॉक्टरी भी चढ़ गयी ग्लोबलाइजेशन की भेंट !   » विकास नहीं, मानसिक और आर्थिक गुलामी का दौर है ये !   » एक ऐतिहासिक फैसलाः जिसने तैयार की ‘आपातकाल’ की पृष्ठभूमि   » एक सटीक विश्लेषणः नीतीश कुमार का अगला दांव क्या है ?   » ट्रोल्स 2 TMC MP बोलीं- अपराधियों के सफेद कुर्तों के दाग देखो !   » जब गुलजार ने नालंदा की ‘सांसद सुंदरी’ तारकेश्वरी पर बनाई फिल्म ‘आंधी’   » आभावों के बीच राष्ट्रीय खेल में यूं परचम लहरा रही एक सुदूर गांव की बेटियां  
error: Content is protected ! india news reporter