देश एक बार फिर आपातकाल की ओर…….

Share Button
अन्ना हजारे की मशाल यात्रा पर मुंबई पुलिस ने रोक लगा दी. मशाल यात्रा का रथ भी जब्त कर लिया गया है। इससे लोग वहां काफी गुस्से में हैं। स्थिति भयावह मोड़ ले सकती है।पुलिसिया कार्रवाई के विरुद्ध अन्ना समर्थकों ने भी हर स्थिति से निपटने के लिए व्यापक तैयारी कर रखी है।
उधर,दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के इस्तीफे की मांग को लेकर  बीजेपी की युवा ब्रिगेड ने जंतर-मंतर पर उग्र विरोध प्रदर्शन किया। बेकाबू होते प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने जमकर लाठियां बरसाईं और पानी की बौछारें छोड़ीं। इसमें 60 से अधिक लोगों के घायल होने की सूचना है।
0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

लापरवाही की हदः गोरखपुर BRD मेडिकल कॉलेज में 5 दिनों में 60 की मौत
"सुशासन बाबू" की कड़ी फटकार के बाद हरकत में आये उनके घर-जिले के कुशासित अधिकारी
पेट्रोल पंप डीलर्स पर दबाव, मोदी की तस्वीर लगाओ अन्यथा तेल आपूर्ति बंद
तीन तलाक को राष्ट्रपति की मंजूरी, 19 सितंबर से लागू, यह बना कानून!
एन.एच-33 : देखिए मनमानी के फोर लेनिंग का एक नमुना
नीतीश ने सबसे अधिक किसानों,युवाओं और गरीबों को पहुंचाई तकलीफः अखिलेश यादव
"झारखंड:उग्रवादियों से सांठ-गांठ कर अपना प्रभाव बढा रही है इसाई मिशनरियां "
मुजफ्फरपुर बालिका गृहकांडः सजा पर फैसला सुरक्षित, अब 11 फरवरी को सजा का ऐलान
अन्ना हजारे की मांगे सही नहीं हैः अरूंधती रॉय
बढ़ते विरोध से बैकफुट पर मोदी सरकार, अभी देश भर में लागू नहीं होगी NRC
प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय खंडहरः खतरे में ‘विश्व धरोहर’!
नीतिश-राज:सुशासन की पोल खोलती कायम घोर कुशासन
‘लालू के खिलाफ आपस में मिले थे सुशील मोदी, नीतीश कुमार, राकेश अस्थाना और पीएमओ’
फिर आप'की हुई दिल्ली
गैंग रेप-मर्डर में बंद MLA से मिलने जेल पहुंचे BJP MP साक्षी महाराज, बोले- 'शुक्रिया कहना था'
मुझे माफ करना अन्ना,मैं इन दलालों पर शर्मिंदा हूं.....
झारखंड विधानसभा चुनाव:रांची जिला,खिजरी क्षेत्र के उम्मीदवारो को मिले मत
पटना साहिब सीटः एक अनार सौ बीमार, लेकिन...
भारत के महामहिम राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री आपकी चुप्पी कब टूटेगी ?
केजरीवाल की हैट्रिक के साथ फिर चमके प्रशांत, नीतीश को कड़ा झटका
दिल्ली एग्जिट पोल: फिर ‘आप’ की मजबूत सरकार
समूचे लंदन में फैली दंगाइयों की आग
बिहारियों के दर्द को समझिए सीएम साहब
जेटली चुने हुए नेता नहीं हैं इसलिये वे लोगों का दर्द नहीं समझतेः यशवंत सिन्हा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
Menu
error: Content is protected ! india news reporter