झारखंडी सत्ता का फिफ्टीकरण: ढाई साल तक “गुरूजी” मुख्यमंत्री और उसके बाद उनका बेटा हेमंत सोरेन बनेगा ढाई साल तक उपमुख्यमंत्री

Share Button

झारखंड मे सरकार गठन को लेकर मुख्यतः झामुमो-भाजपा के बीच समझौता हो गया है.समझौता का मुख्य आधार सत्ता का फिफ्टी-फिफ्टी करण है.विश्व्स्त सूत्रो के अनुसार दोनो दलो के शीर्ष नेताओ की बनी सहमति के अनुसार दोनो दल ढाई-ढाई साल तक सता की बागडोर संभालेगे.प्रथम चरण का मुख्यमंत्री झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन खुद होगे.वही उपमुख्यमंत्री भाजपा की ओर से पार्टी का या उसकी सलाह पर तय होगा.कहते है कि सरकार की मजबूती के लिये एक अन्य तय सहयोगी दल आजसु सुप्रीमो सुदेश महतो उपमुख्यमंत्री हो सकते है. सत्ता के दूसरे चरण मे मुख्यमंत्री भाजपा (अभी नाम तय नही) का होगा और उपमुख्यमंत्री झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन के पुत्र हेमंत सोरेन उपमुख्यमंत्री होगे. मंत्रिमंडल का गठन आपसी सहयोग से आवश्यकतानुसार मुख्यमंत्री के ईच्छा से होगी.

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

राखी सावंत ने अन्ना को राम और केजरीवाल को रावण बताया
लंदन में दंगा जारी, अब तक 500 युवक गिरफ्तार
शिक्षा को संभालने में नीतिश सबसे असफल सीएम
कानून से उपर है संत आशाराम बापू ?
मेरी सरकार को राहुल गांधी से प्रमाण-पत्र नहीं चाहिये:नीतीश कुमार
कांग्रेस की मैडम सोनिया जी:आपकी महाराष्ट्र सरकार की यह क्या गुंडागर्दी है?
"ये है झारखण्ड नगरिया तू लूट बबुआ"
भ्रष्टाचारी जीते, भ्रष्टाचार का शोर मचाने वाले सारे दिग्गज हारे
हाइपोथर्मियाः कोटा, बीकानेर एवं राजकोट में अब तक 500 से उपर बच्चों की मौत
सलमान खान को 5 साल की सजा, गए जोधपुर सेंट्रल जेल
दंगाग्रस्त दिल्ली एक राष्ट्रीय शिकन: अनगिनत मौतें, सैकड़ों जख्मी
आप विधायक के काफिले फायरिंग, एक की मौत, एक की हालत गंभीर
सत्तासीन कांग्रेस: नर है या नारी ?
भारत के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति चुप क्यों?
झारखंड:बहुत कठिन डगर दिख रही है शिबू सोरेन की.
सत्ता से जाते-जाते मीडिया का मुंह सील गये मुंडा जी !
आरक्षण को लेकर राष्ट्रीय अनुसूचित जाति जनजाति आयोग का कड़ा रुख
अनशन में अन्ना पीते हैं विटामिन मिला पानीः जी. आर. खैरनार
रामदेव से सिब्‍बल ने की थी डील
फ्रेंडशिप डे मनाइये जरा संभलकर
मेरी सरकार को बिहार की जनता देगी प्रमाण-पत्र न कि राहुल गांधी या कोई और : नीतीश कुमार
"ये झारखण्ड के प्रधान हैं!!"
कौन है संगीन हथियारों के साये में इतनी ऊंची रसूख वाला यह ‘पिस्तौल बाबा’
झारखण्ड:पेसा कानून के तहत पंचायत चुनाव कराना सिबू सरकार के लिये एक गंभीर चुनौती/आपस मे खुलकर टकरायेग...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
Menu
error: Content is protected ! india news reporter