दैनिक भाष्कर ने किया राँची में गुंडों का इस्तेमाल

Share Button

वेशक दैनिक भाष्कर एक प्रतिष्ठित प्रकाशन समूह द्वारा संचालित है.ऐसे अखबार से संस्कारहीनता की उम्मीद नहीं की जा सकती लेकिन,बीते दिन उसने झारखंड की राजधानी राँचीमें प्रकाशन के पहले दिन ही गुंडों का जिस तरह से इस्तेमाल किया,वे पत्रकारीय समाज को शर्मसार कर देने वाली है. सरेआम सड़कों पर गुंडागर्दी करने वाले असामाजिक तत्व दैनिक भाष्कर छाप वाले टीशर्ट पहने थे.हालांकि,अखबार के स्थानीय प्रबंधन का कहना है कि ये सब उनके अखबार के आने से भयभीत कथित तीन अखबारों के संयुक्त षड़यंत्र का परिणाम है.राँची में पहले से जमे जमाये अखबार खासकर दैनिक प्रभात खबर,हिन्दुस्तान,जागरण बौखला गए हैं.बात कुछ भी हो लेकिन, दैनिक भाष्कर ने राँची में अखबार के प्रकाशन के पूर्व जिस तरह के रणनीति अपनाई थी,उसी में ही दुर्गन्ध निकल रही थी.

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

सन्मार्ग से बैजनाथ मिश्र की छुट्टी! रजत गुप्ता की वापसी!
कांग्रेस पर मोदी के तीखे वार और पांच राज्यों में बीजेपी के हार के मायने ?
कही कांग्रेस-भाजपा के हाईप्रोफाइल राजनीति-कूटनीति के शिकार तो नही हो रहे गुरूजी
साईबर अपराधियों का यूं हुआ भंडाफोड़,भारी सबूत बरामद
झारखंडी सत्ता का फिफ्टीकरण: ढाई साल तक "गुरूजी" मुख्यमंत्री और उसके बाद उनका बेटा हेमंत सोरेन बनेगा ...
देश के इन 112 विभूतियों को मिले हैं पद्म पुरस्कार
सेलरी नहीं मिलने से क्षुब्ध ड्राइवर ने 'इंडिया न्यूज' चैनल के मालिक को 'ठोंका' !
नीतीश ने सबसे अधिक किसानों,युवाओं और गरीबों को पहुंचाई तकलीफः अखिलेश यादव
दक्षिण अफ्रीका का सूपड़ा साफ, भारत ने पारी और 202 रन से हराया
बलिया-सियालदह ट्रेन से भारी मात्रा में नर कंकाल समेत अंतर्राष्ट्रीय तस्कर धराया
उग्र आंदोलन की ओर बढ़ रहे हैं विकास(राँची) से ओरमाँझी के बीच एन.एच.-33 के विस्थापित
संविधान के उपर संसद का प्रभुत्व नहीं :सुप्रीम कोर्ट
भज्जी के साथ अब बिजनेस भी करेगे धौनी
शिबू सोरेन के समर्थन मे 81 सदस्यीय विधानसभा मे 44 विधायको ने राज्यपाल के सामने दावा ठोंका
का कीजियेगा "गुरूजी"? कैसे चलेगी ऐसे सरकार?
राजनीति मे सब अपना है रे भाई!
भारत को स्विट्जरलैंड का झटका, गोपनीयता की शर्त पर देगा जानकारी
ST-MT की गला दबाकर हत्या करने जैसी है CNT-CPT में संशोधन: नीतीश
झारखंड मे धन-बल का खेल: भ्रष्टाचारी जीते, शोर मचाने वाले दिग्गज हारे
दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड ले बोले अमिताभ- अभी बाकी है काम
कांग्रेस की यह कैसी घटिया राजनीति!
इस भाजपा सांसद ने दी ठोक डालने की धमकी, ऑडियो वायरल, पुलिस बनी पंगु
हाईकोर्ट ने ली कलमाडी की क्लास
आखिर खुद कायदा-क़ानून तोड़कर यह कैसा सन्देश देना चाहते हैं बिहार के " सुशासन बाबू" यानी मुख्यमंत्री नी...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
Menu
error: Content is protected ! india news reporter