» बच सकती थी एम्स में आग से हुई तबाही, अगर…   » तीन तलाक और अनुच्छेद 370 के बाद एक चुनाव कराने की तैयारी   » बोले रक्षा मंत्री-  अब सिर्फ POK पर होगी बात   » अफसरों से बोले नितिन गडकरी- ‘काम करो नहीं तो लोगों से कहूंगा धुलाई करो’   » तीन तलाक को राष्ट्रपति की मंजूरी, 19 सितंबर से लागू, यह बना कानून!   » तीन तलाक कानून पर कुमार विश्वास का बड़ा रोचक ट्विट….   » मुंशी प्रेमचंद: हिंदी साहित्य के युग प्रवर्तक   » बिहार के विश्व प्रसिद्ध व्यवसायी सम्प्रदा सिंह का निधन   » पत्नी की कंप्लेन पर सस्पेंड से बौखलाया था हत्यारा पुलिस इंस्पेक्टर   » कर्नाटक में सरकार गिरना लोकतंत्र के इतिहास में काला अध्याय : मायावती  

“अंकल माओवादी हमारे स्कूल क्यो उडाते है?” नक्सलियो के लिये शर्म है गांव के इन स्कूली बच्चो की चीख

Share Button
पिछले एक वर्ष के भीतर नक्सलियो ने अपने झारखंड-बिहार जोन मे अधिकारिक तौर पर 58 स्कूल भवनो को उडा दिये तथा 100 से उपर स्कूल भवनो को क्षतिग्रस्त कर दिये. मुख्यतः गांवो के इन स्कूल भवनो के न होने से एक बडे हिस्से मे शिक्षण कार्य ठप्प है.उग्रवादियो के कारण सरकार भी अन्य स्कूल भवन बनाने या क्षतिग्रस्त स्कूल भवनो की मरम्मत कार्य नही करवा रही है.स्कूली बच्चे हर किसी से सवाल कर रहे है कि “अंकल माओवादी हमारे स्कूल क्यो उडाते है?”
Share Button

Related News:

POK के आतंकी अड्डों पर आसमानी प्रहार, मिराज ने की भीषण बमबारी
शिबू सोरेन की गलतफहमी न.1 : झारखण्ड की ताजा बदहाली के लिये बिहारियो को दोषी ठहराया
उग्रवाद:झारखंड के मुखिया शिबू सोरेन की गलतफहमी न.2
नीतीश जी, आपके घर-जिला नालन्दा मे ई सुशासन है या कुशासन? दोषी अधिकारी है या किसान?
लोकसभा चुनाव नहीं लड़ सकेंगे हार्दिक पटेल
झारखंड के मुख्यमंत्री शिबू सोरेन में "स्कीजोफ्रेनिया" के लक्षण
संविधान के उपर संसद का प्रभुत्व नहीं :सुप्रीम कोर्ट
पेट्रोल पंप डीलर्स पर दबाव, मोदी की तस्वीर लगाओ अन्यथा तेल आपूर्ति बंद
“अंकल माओवादी हमारे स्कूल क्यो उडाते है?”उग्रवादियो की हितैषी बनी “शिबूसरकार” को शर्म नही आती?
जागरण प्रकाशन हुआ विदेशी गुलाम
मेरी सरकार को बिहार की जनता देगी प्रमाण-पत्र न कि राहुल गांधी या कोई और : नीतीश कुमार
कांग्रेसियो ने हार का ठीकरा केन्द्रीयमंत्री सुबोधकांत के सिर फोडा
"ये झारखंड प्रधान है. !!"
जमशेदपुर में एक हाई प्रोफाइल सेक्‍स रैकेट का भंडाफोड़ः तीन युवतियां समेत 6 धराए
सोनिया जी ये इटली नही,विश्व का सबसे बडा लोकतांत्रिक देश भारत है: अपनी महाराष्ट्र सरकार पर लगाम लगाईय...
सावधान !! सुअर की चर्बी खा रहे हैं हम और हमारे बच्चें
प्रभात खबर को हाथ में लेकर पहले अपनी अंतरात्मा टटोलिये हरबंश जी.
‘10-12-14 साल के बच्चों को मार कर पुलिस ने बताया था कुख्यात नक्सली’
पिछले चार साल मे लाखपति से अरबपति बने नीतिश के चहेते मंत्री हरिनारायण सिन्ह
"सिर्फ़ सनसनी फैलाकर झारखण्ड में आगे बढना चाहती है "दैनिक जागरण" !!"
कौन बनेगा झारखण्ड का सीएम?
सामना अखबार और शिबसेना-मनसे पर तत्काल प्रतिबंध लगे
उपमुख्यमंत्री सुदेश की अनुभवहीनता कही ले न डूबे मुख्यमंत्री शिबू सोरेन की लुटिया
झारखंड विधानसभा चुनाव:रांची जिला, हटिया क्षेत्र के उम्मीदवारो को मिले मत

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...
» तीन तलाक और अनुच्छेद 370 के बाद एक चुनाव कराने की तैयारी   » मुंशी प्रेमचंद: हिंदी साहित्य के युग प्रवर्तक   » पुण्यतिथिः जब 1977 में येदुरप्पा संग चंडी पहुंचे थे जगजीवन बाबू   » कैदी तबरेज तो ठीक, लेकिन वहीं हुए पुलिस संहार को लेकर कहां है ओवैसी, आयोग, संसद और सरकार?   » डॉक्टरी भी चढ़ गयी ग्लोबलाइजेशन की भेंट !   » विकास नहीं, मानसिक और आर्थिक गुलामी का दौर है ये !   » एक ऐतिहासिक फैसलाः जिसने तैयार की ‘आपातकाल’ की पृष्ठभूमि   » एक सटीक विश्लेषणः नीतीश कुमार का अगला दांव क्या है ?   » ट्रोल्स 2 TMC MP बोलीं- अपराधियों के सफेद कुर्तों के दाग देखो !   » जब गुलजार ने नालंदा की ‘सांसद सुंदरी’ तारकेश्वरी पर बनाई फिल्म ‘आंधी’  
error: Content is protected ! india news reporter