देखिये झारखंड के सबसे पुराना अखबार दैनिक राँची एक्सप्रेस का हाल

Share Button

यह सब देखने की राँची एक्सप्रेस के संपादक को फुर्सत नहीं!

आजकल झारखंड की राज्यधानी राँची से प्रकाशित समाचार पत्रों की स्थिति बहुत ही हास्यास्पद दिखती है.उसमे प्रकाशित सामग्रियों खासकर खबरों का आंकलन करने पर ऐ़सा प्रतीत होता है कि मानो उसमें क्या छापा-पढ़ायाजा रहा है,वह बिलकुल समझ से परे और भ्रामक नज़र आता है.
अज़ीज आकार आज मैनें सरसरी निगाह से प्रांत का सबसे पुराना अखबार दैनिक “राँची एक्सप्रेस” का उदाहरण प्रस्तुत कर रहा हूँ. इस अखबार में संपादकीय त्रुटियाँ इतनी है कि मन झल्ला उठता है.

प्रथम खबर को देखिये : संवाददाता ने महज कयास के आधार पर पिता को हत्यारा करार दे दिया है.इस खबर कीसूचना काफी प्रमुखता से मुख्यपृष्ठ पर भी छापी गई है.तथ्यों की पड़ताल व शीर्षक के आंकलन में संपादकीयविभाग की रामकहानी स्वतः वयां हो जाती है.
दूसरी खबर को देखिये: संवाददाता के अनुसार पारा शिक्षकों की हड़ताल १३वें दिन जारी है लेकिन,संपादकीयविभाग ने समाचार में ४३वें दिन करार दिया है.
प्रथम पेज पर प्रमुखता से प्रकाशित अब तीसरे खबर का हाल देखिये: समाचार में प्राथमिकी दर्ज किये जाने केसूचना मायने रखते है जबकि,समाचार का शीर्षक समसमायिकता से इतर है.
राँची विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के वरिष्ठ शिक्षक-प्रबुद्ध प्रधान संपादक बलबीर दत्त केमार्गदशन में प्रकाशित इस समाचार पत्र के आज के अंक में दर्जनों ऐसे खबर प्रकाशित हैं,जिसका विस्तार से उल्लेख किया जा सकता है.
0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

अनशन में अन्ना पीते हैं विटामिन मिला पानीः जी. आर. खैरनार
वीडिय़ोः MP  ने मंत्री-पुलिस के सामने MLA को जूतों से यूं जमकर पीटा
बज गई आयोग की डुगडुगी, जानिए 7 चरणों में कहां, कब और कैसे होगा चुनाव
शपथ ग्रहण से पहले किसान कर्जमाफी की तैयारी शुरू
टीम अन्ना की ईमानदारी का गज़ब खुलासा !
सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार पेसा कानून के तहत यदि झारखंड मे चुनाव हुआ तो आदिवासियो और सदानो के बीच स...
26 को प्रभातफेरी निकाल बच्चें चमकाएंगे यूं सरकार का चेहरा
जेकेडी सेक्टर IG राज कुमार करेंगे DIG द्वारा CRPF जवान पर गर्म पानी फेंकने की जांच
नहीं रहे पूर्व रक्षा मंत्री एवं गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर, समूचे देश में शोक की लहर
देश की असफल महिला सोनिया गांधी को फोर्ब्स पत्रिका ने दुनिया का ताकतवर बताया !
नक्सलियों के लिये शर्मनाक सबक है कानू सान्याल का आत्महत्या करना.
शत्रु संपत्ति कानून संशोधन विधेयक से महमूदाबाद राज परिवार को झटका
दो साल से खामोश है मुहब्बत की निशानी 'ताजमहल' का ट्विटर हैंडल
अफजल गुरू की दया याचिका खारिज करें राष्ट्रपतिः गृह मंत्रालय की अनुशंसा
आज-कल पारिवारिक कलह के भी शिकार हैं शिबू सोरेन
झारखण्ड मे पेसा कानून के तहत पंचायत चुनाव होने से सामाजिक समरसता बिगडेगी: रामटहल चौधरी
अर्जुन मुंडा:झारखंडी राजनीति में बलि का नया बकरा
रांची के अखबार : सेमिनार एक,लेकिन समाचार बने अनेक
‘रेप को रोक न पाओ तो मजा लो’, सासंद पत्नी ने की पोस्ट, मचा बवाल
फिल्म ‘छपाक’ रिव्यू : दीपिका पादुकोण की एक और बेहतरीन-उम्दा फिल्म
केजरीवाल की हैट्रिक के साथ फिर चमके प्रशांत, नीतीश को कड़ा झटका
दैनिक भास्कर रोहतक के एडीटोरियल हेड जितेंद्र श्रीवास्तव ने ट्रेन से कटकर की आत्महत्या
जातिवाद व वर्गवाद को बढावा देती दैनिक हिन्दुस्तान
सेलरी नहीं मिलने से क्षुब्ध ड्राइवर ने 'इंडिया न्यूज' चैनल के मालिक को 'ठोंका' !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
Menu
error: Content is protected ! india news reporter