पाकिस्‍तान ने फिर पीठ में भोंका छुरा, दिया हिना रब्बानी को भारतीय सेना के 2 जवानों के सिर कलम का तोफा

Share Button
जिस समय हिना रब्‍बानी भारतीय विदेश मंत्री एसएम कृष्‍णा से हाथ मिला रही थीं, उस समय सरहद पर पाकिस्‍तानी सेना घुसपैठियों को कवरिंग फायर दे रही थी। सीमा पर तैनात भारतीय जवानों से उनकी मुठभेड़ हुई, जिसमें दो भारतीय जवान शहीद हो गये। हद तो तब पार हो गई जब पाकिस्‍तानी सेना उन दोनों जवानों के सिर कलम कर अपने साथ ले गई।
 और वेशक इस घटना से जाहिर है कि पाकिस्‍तान ने एक बार फिर पीठ पर छुरा भोंकने वाला काम किया है। एक तरफ अपनी नई नवेली विदेश मंत्री को दोस्‍ती का हाथ बढ़ाने के लिए भारत भेजा तो दूसरी तरफ उसी की सेना ने सरहद पर शर्मनाक वारदात को अंजाम दिया।
इस खबर को भारतीय सेना ने दबाये रखा और आनन-फानन में आकर दोनों का अंतिम संस्‍कार कर दिया गया। इस बात की खबर जवानों ने दबे शब्‍दों में दी है, लेकिन सेना ने अभी तक अधिकारिक पुष्टि नहीं की है। ये दोनों जवान उत्‍तराखंड के रहने वाले थे। एक पिथैरागढ़ का और दूसरा हल्‍द्वानी का। दोनों के दाह संस्‍कार के दौरान मौजूद पुलिस के अधिकारी ने बताया कि शव ऐसी हालत में थे कि परिवार के सदस्‍यों को देखने की इजाजत नहीं दी गई। पुलिस के मुताबिक भारतीय सेना की ओर से मिले एक पत्र में कहा गया था कि गोलीबारी के दौरान दोनों के सिर धड़ से अलग हो गये।
सरहद पर स्थित फुरिकयान गली में 30 जुलाई को हुई घुसपैठ की कोशिशों के दौरान आतंकवादियों के पीछे पाकिस्‍तानी सेना के जवान भी थे। इन जवनों ने आतंकियों को सीमा पार कराने के लिए भारत से मुठभेड़ शुरू कर दी, ताकि वे आसानी से अंदर घुस सकें। लेकिन भारतीय सैनिकों ने बहादुरी का परिचय देते हुए मुठभेड़ को नाकाम कर दिया।
0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

डॉक्टर है या कसाई ? 2 मरीजों को जंगल में फेंकवाया !
अलगाववादी नेता यासीन मलिक और उसकी पार्टी पर बैन
विदेशी लहर है भारत पहुंची “बेशर्मी मोर्चा”
जेएनयू में बोले नोबेल विजेता अभिजीत- ‘क्लास फेलो थी वित्त मंत्री सीतारमण’
फैसले से पहले CJI को Z प्लस, अन्य सभी 4 जजों की बढ़ी सुरक्षा
SC का यह फैसला CBI की साख बचाने की बड़ी कोशिश
जातिवाद व वर्गवाद को बढावा देती दैनिक हिन्दुस्तान
"झारखण्ड:उग्रवादियों से सांठ-गांठ कर अपना प्रभाव है इसाई मिशनरियां"
झारखंड मे कांग्रेस ने कई इतिहास रचा : सुषमा स्वराज
मास्टरमाइंड PK ने डुबोई कांग्रेस की लुटिया
एक सटीक विश्लेषणः नीतीश कुमार का अगला दांव क्या है ?
फेसबुक सेः देशभक्ति वनाम झंडे का फंडा
गैस सिलेंडर लदी बस में आग, 10 लोग जिन्दा जले, हरनौत बाजार के पास लगी आग
शिबू सोरेन के समर्थन मे 81 सदस्यीय विधानसभा मे 44 विधायको ने राज्यपाल के सामने दावा ठोंका
देश का गद्दार निकला डीएसपी देवेंद्र सिंह, होगा आतंकी सा सलूक
कानून से उपर है संत आशाराम बापू ?
पोस्टरवार: JDU पर RJD का जवाबी प्रहार, झूठ-आतंक-भ्रष्टाचार की टोकरी लिए मोदी संग यूं घुम रहे नीतीश क...
झारखण्ड मे पटना पुलिस हत्याकांड : खुलेगे कई राज
राष्ट्रपति शासन की और बढ़ रहा है झारखंड
अन्ना हजारे को जबरन उठा सकती है पुलिसः अरविंद केजरीवाल
ये वन-कोयला नहीं, वन-घोटाला है मौनी बाबा !
“अंकल माओवादी हमारे स्कूल क्यो उडाते है?” नक्सलियो के लिये शर्म है गांव के इन स्कूली बच्चो की चीख
"शादी पूर्व ही यौन-सम्बन्ध स्थापित करने का आम प्रचलन है इस 'नव इसाई समुदाय' में "
पत्रकार वनाम झारखंड सरकार की रेवड़ियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
Menu
error: Content is protected ! india news reporter