14 वर्ष बाद भी बिहार के अंगीभूत कॉलेजों में चल रही इंटर की पढ़ाई !

Share Button

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। बिहार प्रांत के पटना विश्वविद्यालय के अलावा प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों के अंगीभूत कॉलेजों में इंटर की पढ़ाई हो रही है। जबकि, 14 वर्ष पहले ही आदेश जारी किया गया था कि दोनों वर्गों की पढ़ाई अलग अलग कर दी जाये।

हालांकि पटना विश्वविद्यालय के अलावा किसी भी विश्वविद्यालय ने अभी तक आदेश का पालन करने की जहमत नहीं उठायी है।

वर्ष 2006 में शिक्षा विभाग की ओर से जारी सर्कुलर को हर साल विश्वविद्यालयों में पहुंचाने की रस्म अदायगी को पहुंचाया जाता है। यहां करीब 248 अंगीभूत कॉलेजों में करीब तीन लाख से अधिक बच्चे नामांकन पाते हैं।

गौरतलब है कि पटना विश्वविद्यालय ने सर्कुलर जारी होने के एक साल के भीतर उसका न केवल पालन किया  था, बल्कि उन्हें पढ़ाने वाले शिक्षकों के 115 पद भी  सरेंडर कर दिये थे। शेष विश्वविद्यालय अभी भी इंटर के विद्यार्थियों को शासन के नियमों के  विपरीत पढ़ा रहे हैं।

सच पुछिए तो कॉलेज इंटर की कक्षाओं को अलग भी नहीं करना चाहते हैं। क्योंकि, बच्चों से उन कॉलेजों / विश्वविद्यालयों को अच्छा खासा पैसा मिलता है। ये पैसा डेवलपमेंट और ट्यूशन फीस के रूप में हासिल होता है।

दरअसल वर्ष 2006 में तत्कालीन शिक्षा मंत्री ने यह कहकर आदेश जारी करवाया था कि डिग्री कालेजों से इंटर को अलग करने से पढ़ाई की गुणवत्ता सुधरेगी। क्योंकि, उनकी पढ़ाई के प्रति प्रतिबद्ध टीचर होंगे। उसे नियंत्रित करने वाली एजेंसी भी अलग होगी। इससे उनमें समन्वय करने में आसानी होगी। 

हालांकि ऐसे भी लोग हैं जो कहते हैं कि कॉलेज और इंटर की पढ़ाई साथ-साथ होनी चाहिए। क्योंकि, इंटर में ही बच्चों को उच्च शिक्षा का अनुभव होता है। फिलहाल 14 साल पुराना ये आदेश खटाई में है।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise
Share Button

Related News:

शर्मनाकः विश्व प्रसिद्ध नालंदा में सैलानियों को सामान्य सुविधाएं भी नसीब नहीं !
सुरक्षा गार्ड की दानवताः 6 वर्षीय बच्ची की पहले गला दबा की हत्या, फिर शव संग किया रेप
शराबबंदी के बीच सीएम नीतीश के नालंदा में फिर सामने आया पुलिस का घृणित चेहरा
....और इस कारण 6 माह में 3 बार यूं बदले केन्द्र सरकार की ‘मोदी केयर’ के नाम
दुनिया के यह सबसे अमीर शख्स रखता है ओल्ड फ्लिप फोन !
जमशेदपुर के 8 और रांची के 6 समेत 20 अलकायदा आतंकियों की तलाश जारी
जयंती  विशेषः एक सच्चा पत्रकार, जो दंगा रोकते-रोकते हुए शहीद
कौन है संगीन हथियारों के साये में इतनी ऊंची रसूख वाला यह ‘पिस्तौल बाबा’
नालोशिप्रा का राजगीर सीओ को अंतिम आदेश, मलमास मेला सैरात भूमि को 3 सप्ताह में कराएं अतिक्रमण मुक्त
अब राजनीति में कूदेगें सिंघम का 'देवकांत सिकरे'!
सुप्रीम कोर्ट ने आधार कार्ड को लेकर दिये अहम फैसले, ये आपको जानना है जरुरी
यूपी-उतराखंड में जहरीली शराब का कहर, अब तक 100 से उपर मौतें
EC का बड़ा एक्शनः योगी-मायावती के चुनाव प्रचार पर रोक
ईको टूरिज्म स्पॉट बनकर उभरेगा घोड़ा कटोरा :सीएम नीतीश
कांग्रेस ने फोड़ा 'ऑडियो बम', पर्रिकर के बेडरूम में हैं राफेल की फाइलें
बर्निंग बस के दर्दनाक हादसे पर हरनौत के विधायक हरिनारायण सिंह की संवेदनहीनता तो देखिये....
आधार कार्ड का सॉफ्टवेयर हुआ हैक, कोई भी बदल सकता है आपका डिटेल
बोले काटजू- "सत्ता से बाहर होगी भाजपा, यूपी-बिहार में रहेगी नील"
शपथ ग्रहण से पहले किसान कर्जमाफी की तैयारी शुरू
अवैध राजगीर गेस्ट हाउस होटल के सामने नगर प्रशासन का 24घंटे का दंडात्मक आदेश भी बौना
लेकिन, प्राईवेट स्कूलों की जारी रहेगी मनमानी, बोझ ढोते रहेंगे मासूम
धर्मांतरण, घर वापसी और धर्मयुद्ध
दिमाग लगाईए और बचिये ऐसे लुभावने विज्ञापनों से
तेज बहादुर की जगह सपा की शालिनी यादव होंगी महागठबंधन प्रत्याशी!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter