मोदी-शाह का गिरा ग्राफः महज 2 साल में 71% से 40% पर पहुंच गई BJP की सत्ता

Share Button

 “दिसंबर 2017 तक बढ़ने के बाद बीजेपी के सिमटने का दौर शुरू हुआ और नवंबर 2019 तक बीजेपी 71 फीसदी से घटकर 40 फीसदी में आ गई। एक रिपोर्ट के मुताबिक अब बीजेपी की सत्ता सिमटकर देश के 40 फीसदी हिस्से में रह गई है…………”

इंडिया न्यूज रिपोर्टर डेस्क। नरेंद्र मोदी को साल 2014 में प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का तेजी से विस्तार हुआ। बीजेपी ने साल 2014 में केंद्र में सरकार बनाई और फिर कई राज्यों में भी बीजेपी की सरकार बनी। साल 2017 तक बीजेपी हिंदुस्तान के 71 फीसदी हिस्से में छा गई।

यह सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जादू और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की सियासी रणनीति का नतीजा था। दिसंबर 2017 के बाद बीजेपी के सिमटने का दौर शुरू हुआ और नवंबर 2019 तक बीजेपी 71 फीसदी से घटकर 40 फीसदी में आ गई।

इंडिया टुडे की डेटा इंटेलिजेंस यूनिट की रिपोर्ट के मुताबिक अब बीजेपी की सत्ता सिमटकर देश के 40 फीसदी हिस्से में रह गई है।

डीआईयू की रिपोर्ट से एक बात तो साफ है कि साल 2017 के मुकाबले साल 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह का जादू कम हुआ है।

लोकसभा चुनाव में बीजेपी को भले ही पिछले चुनाव की अपेक्षा ज्यादा सीटें मिलीं और उसने 303 सीटें जीतकर केंद्र में पीएम मोदी के नेतृत्व में सरकार बनाई हो, लेकिन हाल के कई राज्यों के विधानसभा के चुनाव में बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा है।

पंजाब, राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में हार के बाद बीजेपी को सत्ता से बाहर होना पड़ा था।

अब महाराष्ट्र में भी बीजेपी सत्ता से हाथ धो बैठी है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले देवेंद्र फडणवीस को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा।

इस तरह दूसरी बार महाराष्ट्र में फडणवीस की सरकार सिर्फ 4 दिन ही चली और 80 घंटे में फडणवीस को अपने पद से इस्तीफा दे पड़ा।

महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने शिवसेना के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था। इस चुनाव में बीजेपी की सीटों की संख्या कम हुईं और बीजेपी 122 से 105 में सिमट गई।

हालांकि बीजेपी-शिवसेना गठबंधन ने सरकार बनाने के लिए जरूरी आंकड़े से ज्यादा सीटें जीतने में कामयाब रहा। चुनाव के बाद बीजेपी और शिवसेना में दरार पड़ गई।

शिवसेना के दूर होने के बाद बीजेपी नेता फडणवीस ने एनसीपी नेता अजित पवार के साथ मिलकर सूबे में सरकार बना ली। हालांकि यह सरकार चार दिन से ज्यादा नहीं चली और फडणवीस को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा।

इसके बाद अब एनसीपी और कांग्रेस मिलकर सूबे में शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में सरकार बना ली। इस तरह अब महाराष्ट्र की सत्ता से भी बीजेपी बाहर हो चुकी है।  

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

नहीं बदला है दैनिक हिन्दुस्तान का चरित्र
राहुल ने पुछा- ‘मोदी जी, जय शाह जादा खा गया, आप चौकीदार या भागीदार?’
सुप्रीम कोर्ट के द्वारा 78% आबादी के विरूद्ध दिये गये फैसले का क्या है औचित्य ?
बोले रक्षा मंत्री-  अब सिर्फ POK पर होगी बात
इस बार उखड़ सकते हैं नालंदा से नीतीश के पांव!
डरावना सच : पॉर्न साइटों पर ट्रेंड होती गैंगरेप पीड़िता, खुद के बच्चों को भी सभांलिए
पीएम मोदी के खिलाफ महागठबंधन प्रत्याशी तेज बहादुर का नामांकण रद्द! जाएंगे सुप्रीम कोर्ट
उग्र आंदोलन की ओर बढ़ रहे हैं विकास(राँची) से ओरमाँझी के बीच एन.एच.-33 के विस्थापित
अन्ना हजारे की मांगे सही नहीं हैः अरूंधती रॉय
मुख्यमंत्री नीतीश जी, देखिये कैसे "आपके" सुशासन की मजाक उड रही है आपके घर-जिले नालन्दा मे ही!!
कांग्रेस के हुए भाजपा के बागी सांसद 'कीर्ति'
अमन का पैगाम के नाम पर गुंडागर्दी, रोड़ेबाजी, फायरिंग, लाठी चार्ज, स्थिति तनावपूर्ण
भूमिहीन और कर्जदार हैं नीतिश, जबकि उनका बेरोजगार बेटा है मालामाल
‘रेप को रोक न पाओ तो मजा लो’, सासंद पत्नी ने की पोस्ट, मचा बवाल
जंतर-मंतर के बजाय अब रामलीला मैदान में होगी "अन्ना की लीला"
नीतीश जी का ब्लॉग:गुणगान करने लायक अभी कुछ नहीं.
बदल रही है दोस्ती की परिभाषा
सड़ गई है हमारी जाति व्यवस्था
एससी-एसटी एक्ट मामले में सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला अभी सुरक्षित
जयंती विशेष: के बी सहाय -एक अपराजेय योद्धा
संजय यादव : विधायक नहीं,1नं.गुंडा है
बर्निंग बस के दर्दनाक हादसे पर हरनौत के विधायक हरिनारायण सिंह की संवेदनहीनता तो देखिये....
मंत्री बनने लिये जय श्रीराम के बोल, फिर फतवा के बाद मांग ली माफी
Jio धमाका ऑफर, ग्राहकों को FREE में मिलेगा 120जीबी डेटा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter