मई 2020 तक फ्रांस से भारत पहुंचेगा राफेल, 2021 तक होगा ऑपरेशनल

Share Button

36 राफेल विमानों में 4 राफेल विमानों की पहली किस्त मई 2020 तक भारत को मिलेगी और ये विमान हिंदुस्तान की धरती पर पहुंचेंगे। लेकिन इसके बाद इस्तेमाल में लाने में भी इसे समय लगेगा और 2021 तक जाकर ये विमान पूरी तरह से ऑपरेशनल होंगे…………”

इंडिया न्यूज रिपोर्टर डेस्क। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शस्त्र पूजा करने के साथ ही दसॉल्ट कंपनी से पहले राफेल विमान को रिसीव किया, इसी के साथ भारत आसमान में और भी अधिक शक्तिशाली हो गया है।

हालांकि, भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल होने में राफेल विमान को अभी लंबा वक्त लगेगा, क्योंकि अभी तो भारतीय वायुसेना के जवानों की ट्रेनिंग शुरू होगी। एक लंबे इंतजार और विवादों की दीवार को पार करते हुए आखिरकार भारत को पहला फ्रांसीसी लड़ाकू विमान राफेल मिल ही गया है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शस्त्र पूजा करने के साथ ही दसॉल्ट कंपनी से पहले राफेल विमान को रिसीव किया, इसी के साथ भारत आसमान में और भी अधिक शक्तिशाली हो गया है।

हालांकि, भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल होने में राफेल विमान को अभी लंबा वक्त लगेगा, क्योंकि अभी तो भारतीय वायुसेना के जवानों की ट्रेनिंग शुरू होगी।

भारत फ्रांस से कुल 36 राफेल लड़ाकू विमान खरीद रहा है, इसी किस्त का पहला विमान राजनाथ ने रिसीव किया। हालांकि, ये सिर्फ आधिकारिक हैंडओवर है अभी ये विमान फ्रांस में ही रहेगा, जहां वायुसेना के जवान इसकी ऑपरेशनल ट्रेनिंग लेंगे।

गौरतलब है कि भारतीय वायुसेना को जो 36 विमान मिलने हैं, उनके भारत पहुंचने की डेडलाइन सितंबर, 2022 है। यानी अगले तीन साल में सभी 36 राफेल लड़ाकू विमान भारत पहुंच सकते हैं जो कि वायुसेना को दमदार बनाने के लिए काफी हैं। भारत-फ्रांस के बीच हुई इस डील की कीमत करीब 59 हजार करोड़ रुपये की थी।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दशहरा के अवसर पर राफेल विमान को रिसीव किया, इसे रिसीव करने से पहले राजनाथ ने विधिवत रूप से शस्त्र पूजा की।

इस दौरान फिर चाहे राफेल पर रोली से ‘ऊँ’ लिखना हो या फिर पहिया चलने से पहले नींबू रखना राफेल विमान के कार्यक्रम के दौरान पूरा देसी अंदाज दिखा।

इस पूजा के बाद राजनाथ सिंह ने करीब आधे घंटे राफेल विमान में उड़ान भी भरी और इसी के साथ उन्होंने इतिहास रच दिया, इससे पहले उन्होंने स्वदेसी लड़ाकू विमान तेजस उड़ाया था।

राफेल विमान को फ्रांस के द्वारा भारतीय वायुसेना के हिसाब से बनाया गया है, जिसमें भारत की जरूरतों का ध्यान रखा गया है। भारत को जो राफेल मिला है, उसका टेल नंबर RB001 है।

बताया जा रहा है कि जो 36 विमान भारत को मिलने हैं, उनमें से 18 अंबाला एयरबेस और 18 अरुणाचल प्रदेश के आसपास तैनात होंगे। यानी भारत पाकिस्तान और चीन से मिलने वाली चुनौती के लिए हर तरह से तैयार है।

राफेल विमाम 4.5 जेनरेशन का लड़ाकू विमान है जो भारतीय वायुसेना में एक तरह से जेनरेशन का बदलाव होगा। इस विमान में 24,500 किलोग्राम भार ढोने की क्षमता है, साथ ही विमान के जरिए एक साथ 125 राउंड गोलियां निकलती हैं, जो किसी को भी चीर कर रख सकती हैं।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise
Share Button

Related News:

14 वर्ष बाद भी बिहार के अंगीभूत कॉलेजों में चल रही इंटर की पढ़ाई !
लेकिन, प्राईवेट स्कूलों की जारी रहेगी मनमानी, बोझ ढोते रहेंगे मासूम
"सुशासन बाबू" की कड़ी फटकार के बाद हरकत में आये उनके घर-जिले के कुशासित अधिकारी
बोले BJP अध्यक्ष- ममता बनर्जी में PM बनने की संभावनाएं
कूटनीतिः ‘पैगाम-ए-खीर’ के निशाने पर कमल-तीर
चीन ने बनाया ब्रह्मपुत्र- सिंधु नदियों के उद्गम स्थल का चित्र
झारखंड विधानसभा चुनाव:रांची जिला, रांची क्षेत्र के उम्मीदवारो को मिले मत
दिल्ली से लखनऊ पहुंचा "बेशर्मी मोर्चा" :किया भौंडा प्रदर्शन
ईटीवी उर्दू के पत्रकार की दिनदहाड़े गोली मार कर दिल्ली में हत्या
बिहार में अब कहीं नहीं मिलेगी खुली सिगरेट, खरीदना होगा पैकेट
इंगलिश मीडिया ने टीम इंडिया की तुलना कुत्ते से की
इस राजनीतिक माहौल में मेरी छाया भी बगावत कर गईः शरद यादव
पेट्रोल पंप डीलर्स पर दबाव, मोदी की तस्वीर लगाओ अन्यथा तेल आपूर्ति बंद
न भूलेंगे, न माफ करेंगे, बदला लेंगे :CRPF
अर्जुन मुंडा जी,आपका मुख्य सचिव पगला गया है क्या ?
झारखंड के मुख्यमंत्री जी: झारखंड को बचाईये न अपने गांव के इन "छोकडा" लोगों से
शीला को लेकर कांग्रेस बेफिक्र, समूचे दिल्ली में भाजपा का व्यापक प्रदर्शन
राहुल की छड़ी ढूंढने के चक्कर में फिर फंसे गिरि’सोच’राज, यूं हुए ट्रोल
जंतर मंतर पर अब कैसे करेंगे अनशन अन्ना
झारखंड : राजीव गांधी उद्यमी मित्र योजना या स्वंय सेवी संस्थाओं कमाई का जरिया!
16000 करोड़ रु. के खनन घोटाले में फंसे कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने इस्तीफा दिया
मेरे वतन के लोगों...गीत सुनते ही राजघाट पर रो पड़े अन्ना
झारखंड विधानसभा चुनाव:रांची जिला, हटिया क्षेत्र के उम्मीदवारो को मिले मत
Keep the faith, keep up the fight :Arvind Kejriwal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter