बोले रक्षा मंत्री-  अब सिर्फ POK पर होगी बात

Share Button

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने से बौखलाए पाकिस्तान को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चेतावनी देते हुए कहा है कि पाकिस्तान से अब जो भी बात होगी वह पाक अधिकृत कश्मीर (POK) पर होगी……………”

इंडिया न्यूज रिपोर्टर डेस्क।  केन्द्रीय रक्षा मंत्री ने हरियाणा के कालका में एक जनसभा में आगे कहा कि पाकिस्तान को इस बात का डर पिछले कई दिनों से लग रहा था। हाल में ऐसी खबरें आईं थीं कि इमरान खान सरकार को डर लग रहा है कि अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को हटाए जाने के बाद भारत अब POK में बालाकोट से भी बड़ी कार्रवाई कर सकता है।

राजनाथ ने कहा, ‘पुलवामा में हमारे बहादुर सुरक्षाबलों के साथ जो हुआ, उसके बाद 56 इंच के सीने वाले हमारे प्रधानमंत्री ने फैसला कर लिया कि ईंट का जवाब पत्थर से देंगे। आपने देखा कि एयरफोर्स के हमारे जवान बालाकोट में जाकर आतंकियों का सफाया करने में कामयाब रहे।’

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के पीएम पहले कहते थे कि कुछ नहीं हुआ है, एक आदमी भी नहीं मरा, अभी POK में खड़े होकर कह रहे थे कि भारत बालाकोट एयर स्ट्राइक से भी बड़ी स्ट्राइक करने के बारे में सोच रहा है। इससे साफ है कि पाक पीएम ने भी स्वीकार कर लिया है कि बालाकोट में भारत ने बड़ी तबाही मचाई थी।

 अनुच्छेद 370 समाप्त होने के बाद हमारा एक पड़ोसी है, जो दुबला हुआ जा रहा है। उसका हाजमा खराब हो गया है। अब वह दुनिया के देशों का दरवाजा खटखटा रहा है कि हमें बचा लीजिए।

राजनाथ ने कहा कि हमने क्या अपराध कर दिया? वह रुक-रुककर धमकी भी दे रहा है लेकिन जिसे लोग दुनिया का सबसे ताकतवर मुल्क मानते हैं अमेरिका, वहां के राष्ट्रपति ने भी कह दिया कि जाओ, भारत के साथ बैठकर बात करो, यहां आने की जरूरत नहीं है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि मैं यकीन दिलाना चाहता हूं कि सरकार रहे न रहे, भारत माता का मस्तक झुकने नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के लोग कहते हैं कि दोनों देशों के बीच बात होनी चाहिए। किस बात पर बात होनी चाहिए? कौन सा मुद्दा है, क्यों बात होनी चाहिए? उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से बात तभी होगी जब वह अपनी धरती से संचालित आतंकवाद को खत्म करेगा। अगर ऐसा नहीं है तो फिर पाकिस्तान से बात करने का कोई कारण नहीं है।

आगे भी जो बातचीत होगी, अब वह पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर पर बात होगी।

राजनाथ सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय स्वाभिमान के मुद्दों से हमारी सरकार ने समझौता नहीं किया है कि जैसा चल रहा है वैसा ही चलने दें। उन्होंने कहा, ‘हमने जो कुछ भी अपने चुनावी घोषणापत्र में कहा था, उसका अक्षरश: पालन कर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 था। भारत आजाद हो गया था। फिर भी देश में 2 संविधान और दो निशान थे। चुटकी बजाते ही हमने इसे समाप्त कर दिया।

उन्होंने कहा कि लोग कहते थे कि अनुच्छेद 370 को अगर कोई छूने की कोशिश करेगा तो देश बंट जाएगा। लोग कहते थे कि ऐसा हुआ तो बीजेपी फिर कभी सत्ता में नहीं आ पाएगी। मैं कहना चाहता हूं कि बीजेपी केवल सरकार बनाने के लिए राजनीति नहीं करती है, वह देश बनाने के लिए राजनीति करती है।’

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise
Share Button

Related News:

मुंशी प्रेमचंद: हिंदी साहित्य के युग प्रवर्तक
सुरक्षा गार्ड की दानवताः 6 वर्षीय बच्ची की पहले गला दबा की हत्या, फिर शव संग किया रेप
दिल्ली की 15 साल तक चहेती सीएम रही शीला दीक्षित का निधन
झारखंड:बहुत कठिन डगर दिख रही है शिबू सोरेन की.
भागलपुर मे भारी विरोध: राहुल जी बिहार के लोग खासकर युवा अब पहले जैसा नहीं रहा!!
पुण्यतिथिः जब 1977 में येदुरप्पा संग चंडी पहुंचे थे जगजीवन बाबू
लेकिन, प्राईवेट स्कूलों की जारी रहेगी मनमानी, बोझ ढोते रहेंगे मासूम
मंत्री, डीएसपी, इंस्पेक्टर समेत सैकड़ों के हत्यारे नक्सली कुंदन पाहन के सरेंडर पर उठे  सबाल
"झारखण्ड:उग्रवादियों से सांठ-गांठ कर अपना प्रभाव है इसाई मिशनरियां"
"ये झारखंड नगरिया तू लूट बबुआ"
अन्ना के अनशन का फायदा अगली पीढ़ी को मिलेगाः बाबा रामदेव
एससी-एसटी एक्ट मामले में सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला अभी सुरक्षित
बिहारः गन्ना की खेत-नदी से 20 लाख रुपए मूल्य के 4 ट्रैक्टर अंग्रेजी शराब बरामद
रामदेव से सिब्‍बल ने की थी डील
जब जेपी ने इंदिरा को लिखा- ‘RSS मुझे नाथूराम गोडसे की तरह गद्दार समझता है’
अयोध्या जन्मभूमि विवादः कानून की निगाह में रामलला हैं नाबालिग
झारखण्ड मे पटना पुलिस हत्याकांड : खुलेगे कई राज
चार साल में मोदी चले सिर्फ ढाई कोस
भ्रष्टाचारी जीते, भ्रष्टाचार का शोर मचाने वाले सारे दिग्गज हारे
सही सलामत घर लौटे निवर्तमान राजद विधायक का राज
झूठे साबित हो चुके हैं एग्जिट पोल के नतीजे
अपने ब्लॉग के रेस्पोंस से काफी उत्साहित हैं नीतीश कुमार
बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार का जीवन और उनकी उपलब्धियों पर एक नज़र
राजनीतिक नेपथ्य में धकेले गए राम मंदिर आंदोलन के नायक और भाजपा का भविष्य

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter