बीजेपी दफ्तर को बम उड़ाया, पीएम मोदी की मेढ़क से तुलना, नीतीश पर भी प्रहार

Share Button

“नक्सलियों की चिट्ठी में पीएम नरेंद्र मोदी की तुलना मेंढक से की है और उसमें मुजफ्फरपुर बालिका गृह का भी जिक्र किया गया है…”

INR. 17वीं लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करते हुए झारखंड के पलामू में नक्सलियों ने भारतीय जनता पार्टी के चुनावी कार्यालय को बम से उड़ा दिया है। बीजेपी कार्यालय के पास नक्सलियों ने फायरिंग भी की।

बीजेपी का यह कार्यालय थाने से कुछ ही दूरी पर था। नक्सलियों ने घटनास्थल पर एक चिट्ठी भी छोड़ी है। जिसमे जनता से चुनाव बहिष्कार करने की अपील की गयी है।

नक्सलियों ने पत्र के माध्यम से जनता की नई जनवादी सत्ता स्थापित करने की बात की है।

नक्सलियों की ओर से छोड़ी गई इस चिट्ठी में चुनावों के प्रति आक्रोश व्यक्त किया गया है। इस चिट्ठी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना मेंढक से की है।

चिट्ठी में दावा किया गया है कि जब चुनाव आते हैं तभी नेताओं को जनता का दुख-दर्द, भुखमरी, बेरोजगारी, विस्थापन, भ्रष्टाचार, गरीबी और कुपोषण का ध्यान आता है।

बिहार की नीतीश सरकार पर भी इस चिट्ठी के जरिए सवाल उठाए गए हैं। मुजफ्फरपुर बालिका गृह का भी जिक्र किया गया है।

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास का जिक्र करते हुए इस चिट्ठी में लिखा है कि सरकार ने वनवासियों, आदिवासियों को जंगली-पहाड़ी क्षेत्रों से विस्थापित कर प्राकृतिक संसाधनों व खनिज संपदाओं को लूटने के लिए कॉरपोरेट को सौंप दिया है।

इस चिट्ठी में राफेल सौदा घोटाला, विजय माल्या, नीरव मोदी और नोटबंदी का भी जिक्र किया है।

राज्य और केंद्र सरकार पर पहाड़ों और मूलवासियों को विस्थापित करके प्राकृतिक संसाधनों व खनिज संपदाओं को कॉरपोरेट घरनों को सौंपने का भी आरोप लगाया है।

इस हमले में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise
Share Button

Related News:

तीन तलाक को राष्ट्रपति की मंजूरी, 19 सितंबर से लागू, यह बना कानून!
मलमास मेला की जमीन पर अतिक्रमण के खिलाफ आवाज उठाने वालों पर केस दर्ज
पटना साहिब सीटः एक अनार सौ बीमार, लेकिन...
मिशन शक्ति पर मोदी का राष्ट्र संदेश पहुंचा चुनाव आयोग, मांगी संबोधन की कॉपी
फालुन गोंग का चीन में हो रहा यूं अमानवीय दमन
कर्नाटक का 'नाटक' का अंत, येदियुप्पा का इस्तीफा
गणतंत्रः लेकिन, गण पर हावी तंत्र
नहीं रहे जलेबी खाते-खाते पवन जैन से यूं बने मुनि तरुण सागर महाराज
चिराग पासवान की दो टूक- मुश्किल होगी 2019 में NDA की डगर
'लोकनायक' के अधूरे चेले 'लालू-नीतीश-सुशील-पासवान'
राफेल डील पर हाइड एंड सीक का खेल क्यों खेल रही मोदी सरकार : CJI
पत्रकार वीरेन्द्र मंडल को सरायकेला SP ने यूं एक यक्ष प्रश्न बना डाला
कांग्रेस के हुए भाजपा के बागी सांसद 'कीर्ति'
चुनाव के दौरान एक बड़ा नक्सली हमला, आइईडी विस्फोट में 16 कमांडो शहीद, 27 वाहनों को लगाई आग
...और जार्ज साहब बन गए यूं डाइनामाइट लीडर
जानिएः कौन है चंदन सिंह, जिसने केन्द्रीय मंत्री गिरीराज सिंह को लगाया ठिकाना
5 साल की सजा के 48 घंटे बाद ही जमानत पर यूं रिहा हुआ सलमान
इन बालू माफियाओं के खिलाफ पंगु साबित है नालंदा पुलिस-प्रशासन
पुलिस गिरफ्त में पुलवामा आतंकी हमले के वांछित नौशाद उर्फ दानिश की पत्नी एवं बेटी
कश्मीर का आखिरी सुल्तान, जिसे बिहार के नालंदा में यहां क़ब्र मिली
पिकनिक स्पॉटों में अव्यवस्था से सैलानी मायूस
नक्सलियों ने नोटबंदी के समय BJP MLC को दिए थे 5 करोड़ !
उत्तर प्रदेश में जीत को लेकर आश्वस्त हैं राहुल गांधी
जानिए कौन थे लाफिंग बुद्धा, कैसे पड़ा यह नाम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter