बच्चा चोरी अफवाह में 7लोगों की हत्या से उत्पन्न हिंसक उपद्रव के बाद जमशेदपुर का माहौल अब शांत

Share Button

रांची (INR)। बच्चा चोरी की अफवाह में हुई सात युवकों की हत्या के विरोध के दौरान जमशेदपुर में शनिवार को हुए उपद्रव के बाद रविवार को माहौल शांत है। जिंदगी धीरे-धीरे पटरी पर लौटने लगी है। बाजारें खुली हुई हैं। खरीदारों की भीड़ भी नजर आ रही है। मानगो और धतकीडीह के उपद्रवग्रस्त इलाके में जगह-जगह फोर्स तैनात किया गया है।

मानगो इलाके में शनिवार रात 10 बजे से रविवार सुबह 6 बजे तक निषेधाज्ञा लागू रही। इसे आगामी तीन दिनों तक कायम रखने की उम्मीद है। लेकिन निषेधाज्ञा की अवधि रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक की जा सकती है।

बागबेड़ा इलाके में भी बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। यहां के नागाडीह गांव में बच्चा चोरी की अफवाह में मारे गए तीन युवकों में से दो के शव का अभी तक परिजनों ने अंतिम संस्कार नहीं किया है। परिवार के लोग उनके बेटों को मारने वालों को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं।

मानगो में हुए उपद्रव के मामले में मुस्लिम एकता मंच (एमईएम) के नेता बाबर खान, फिरोज खान सहित 512 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। उनकी गिरफ्तारी करने की पुलिस ने तैयारी कर ली है।

आईजी आशीष बत्रा के अलावा दो डीआईजी सुधीर कुमार झा, प्रभात कुमार जमशेदपुर में कैंप कर रहे हैं। सीआईडी की टीम भी पहुंची हुई है, जो उपद्रव के कारणों का पता लगा रही है।

बता दें कि अफवाह में हुई सात हत्याओं को लेकर मानगो और धातकीडीह में हालात बेकाबू हो गए हैं। शनिवार को पथराव और तोड़फोड़ के बाद लाठीचार्ज पुलिस ने लाठीचार्ज किया। भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोड़े।

मानगो में हत्याओं के विरोध में लोग सभा कर रहे थे। अचानक नारेबाजी होने लगी। सभा में जुटे लोग सड़क पर आ गए और पथराव करने लगे। भारी पथराव के बाद पुलिस लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े। पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। उधर धातकीडीह में सड़क जाम कर रहे लोगों को जब पुलिस ने रोका तो दूसरी तरफ से पथराव होने लगा। उग्र लोगों ने टीओपी में तोड़फोड़ की। दोनों जगहों पर रैफ और सीआरपीएफ को भेजा जा रहा है।

इसके पूर्व गुरुवार को पूर्वी सिंहभूम जिले के नागाडीह गांव और सरायकेला-खरसावां जिले के राजनगर में बच्चा चोरी की अफवाह में सात लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। इस घटना के बाद शुक्रवार को लोग सड़कों पर उतर आए। लोगों ने सड़क जाम कर दिया और तोड़फोड़ की।

जुगसलाई में सात घंटे तक रोड जामकर लोगों के साथ मारपीट की गई। लोगों ने कई मजदूरों की साइकिलें क्षतिग्रस्त कर आग लगा दी। यही नहीं, मौके पर पहुंची पुलिस की बाइक तोड़ने के बाद आग लगाने की भी कोशिश की। जिन मजदूरों के साथ मारपीट की गई, वे नागाडीह इलाके के निवासी हैं। पुलिस ने स्थिति को संभालने के लिए कई जगहों पर फ्लैग मार्च किया।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

रांची प्रेस क्लब या द रांची प्रेस क्लब के निबंधन में ही है गड़बड़झाला
कर्नाटक में सरकार गिरना लोकतंत्र के इतिहास में काला अध्याय : मायावती
पटना साहिब लोकसभा चुनाव: मुकाबला कायस्थ बनाम कायस्थ
"सुशासन बाबू" अपने घर-जिले के अधिकारियो पर लगाईये लगाम.पुछिये दोषी कुशासन है या गरीव किसान?
देखिये,ये हैं "सुशासन बाबू" यानि मुख्यमंत्री नीतीश के घर-जिले नालंदा में गरीबों को टरकाने वाले हिल...
एक दशक बाद सलमान खान का ब्रिटेन में द-बंग टूर
राहुल की छड़ी ढूंढने के चक्कर में फिर फंसे गिरि’सोच’राज, यूं हुए ट्रोल
भारत के 47वें CJI बने जस्टिस शरद अरविंद बोबडे
पत्रकार पुत्र की निर्मम हत्या पर बोले मांझी-  बेशर्म हैं सत्ता में बैठे लोग
झारखंड की जीत के रंग में सने दिखे राहुल गांधी
विधानसभा में बोले CM नीतीश- बिहार में लागू नहीं होगी NRC, जातीय जनगणना कराए केन्द्र सरकार
5 सीटों पर कल की वोटिंग में कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर
झारखंड मे पेसा कानून के तहत पंचायत चुनाव कराने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ फूंका बिगुल,उधर आद...
राम ही खुद तय करेगें अयोध्या में मंदिर निर्माण की तारीखः योगी आदित्यनाथ
इस बार मुख्यमंत्री बनते ही शिबू सोरेन ने बदले तेवर
कोडरमा घाटी से महिला का शव मिला, दुष्कर्म कर हत्या की आशंका
पूर्व मंत्री की बेटी के रेप के आरोपी निखिल IAS बाप के साथ उतराखंड में धराया
आईना देख बौखलाये भाजपाई, वरिष्ठ पत्रकार कृष्ण बिहारी मिश्र पर किया थाना में मुकदमा
प्रसिद्ध हास्य कवि प्रदीप चौबे की कैंसर से मौत
महाराष्ट्रः सोनिया-पवार छत्रछाया में आज से ठाकरे राज
जमशेदपुर के 8 और रांची के 6 समेत 20 अलकायदा आतंकियों की तलाश जारी
वायरल ऑडियो से उभरे सबालः कौन है मुन्ना मल्लिक? कौन है साहब? राजगीर MLA की क्या है बिसात?
पुत्र संग PM भेंट बाद बोले उद्धव-  'NPR-CAA से डरने की जरूरत नहीं'
HC ने AG से पूछा- MP और CM एक साथ कैसे रह सकते हैं योगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
Menu
error: Content is protected ! india news reporter