नालंदा प्रशासन को बिहारशरीफ सदर अस्पताल के कैदी वार्ड में हादसा या वारदात का इंतजार है?

Share Button

बिहारशरीफ (INR)। बिहारशरीफ सदर अस्पताल के कैदी वार्ड का कोई देखनहारा नहीं लगता है और जिला पुलिस-प्रशासन की तंद्रा किसी घटना के घटने के बाद ही टूटेगी।

बिहारशरीफ सदर अस्पताल के कैदी वार्ड में कैदियों द्वारा विभागीय मिलीभगत से यत्र–तत्र छोटे सिलेन्डरों पर खाना बनाये जा रहे हैं। आलावे वहां तैनात सिपाही की अन्य हरकतों से साफ जाहिर कभी कोई बड़ा हादसा या वारदात हो सकता है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बिहारशरीफ सदर अस्पताल के कैदी वार्ड में पांच पुलिस जवान तैनात हैं लेकिन, वे  न तो सही से ड्यूटी करते हैं और नहीं कभी वे सब वर्दी में ही रहते हैं। वे प्रायः कैदी के बेड पर ही पड़े रहते हैं और बीमार कैदी से अपना ही सेवा कराते है।

यहां नशीले पदार्थ भी उपलब्ध रहते हैं। यहां एक सिपाही ही खुद झोला में ताड़ी और गांजा लेकर आता है और अपने सहपाठी कैदी के साथ बैठ कर बथारूम के पास पीते रहता है।

यहां प्रायः पुलिस वालों ने अपना एक-एक नौकर कैदी लोग को ही रख लिया है, उसी से वे लोग कैदी वार्ड का सारा काम कराते हैं।

यहां कुछ दिनों से कैदियों के पत्नियां व परिवार के अन्य लोग भी अन्दर आने लगे हैं। रात्रि के 9-10 बजे रात के बाद ऐसा नजारा आम होता है।

उपरोक्त तथ्यों के साथ वीडियो क्लीप भी प्रसारित किये जा रहे हैं, जो यह साफ प्रमाणित करते हैं कि कैदी वार्ड में आसानी से मोबाईल का भी प्रयोग होता है। यहां कैदी के परिवार वालों से एक मोबाईल रखने की एवज में 500 रुपये प्रति माह वसूले जाते हैं।

इस संबंध में कई वीडियो क्लीप साईट के More vedio news में साफ तौर पर देख सकते हैं कि बिहारशरीफ सदर अस्पताल के कैदी वार्ड की ताजा राम कहानी  साफ तौर पर स्पष्ट है।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

'बिहारी बाबू' के दही-चूड़ा भोज से बीजेपी नेताओं के किनारे के मायने
कैदी तबरेज तो ठीक, लेकिन वहीं हुए पुलिस संहार को लेकर कहां है ओवैसी, आयोग, संसद और सरकार?
कठुआ रेप केस: कोर्ट ने SIT के 6 सदस्यों के खिलाफ दिए FIR दर्ज करने के निर्देश
प्रदेश छात्र जदयू महासचिव हत्याकांडः परिजन ने नालंदा पुलिस के खुलासे पर उठाये सवाल
भारतीय मूल की इस दंपति को मिला अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार!
प्रियंका के इंकार के बाद रिंग में दस्ताने पहन यूं अकेले रह गए मोदी
बिहारः 2 दलित बेटी के साथ गैंग रेप, दरिंदों ने बनाया वीडियो, नकारा बनी पुलिस
संगठित-संरक्षित अपराधों की शरण स्थली बना पारधी ढाना
भाजपा से नाता तोड़ शिवसेना अकेले लड़ेगी 2019 का लोक-विधान सभा चुनाव
बर्निंग बस के दर्दनाक हादसे पर हरनौत के विधायक हरिनारायण सिंह की संवेदनहीनता तो देखिये....
भारत के 47वें CJI बने जस्टिस शरद अरविंद बोबडे
भाजपा और कांग्रेस दोनों के लिए आत्म मंथन का जनादेश
दलित राजनीति की सशक्त धारा को भुनाने की सफल प्रयास है ‘काला’
नीतिश के खिलाफ कांग्रेस के आक्रामक स्टार प्रचारक होगें तेजस्वी
गोविन्दाचार्य ने सुप्रीम कोर्ट से की रोहिंग्या शरणार्थियों को भारत से बाहर करने की मांग
चीन की दीवार से भी पुराना है राजगीर का यह सायक्लोपियन वाल
वायरल ऑडियो से उभरे सबालः कौन है मुन्ना मल्लिक? कौन है साहब? राजगीर MLA की क्या है बिसात?
एयरटेल,वोडाफोन,आयडिया ग्राहकों ने जियो पर मारे 13,500 करोड़ के मिस्ड कॉल
एक इंटरनेशनल गोल्ड मेडलिस्ट खिलाड़ी, जो दूसरों की खेत में चला रहा हल-कुदाल
नौकरी में बहाली बिहार में सिर्फ नालंदा जिले के लोगों का: राबड़ी देवी
ट्रक से टकराई महारानी बस, 9 की मौत, 25 घायल, हादसे की दर्दनाक तस्वीरें
अफसरों से बोले नितिन गडकरी- ‘काम करो नहीं तो लोगों से कहूंगा धुलाई करो’
सुप्रीम कोर्ट ने कहा- 'आरे' पर मत चलाओ 'आरी', वेशर्म सरकार बोली- हमने काट लिए पेड़
वीडिय़ोः MP  ने मंत्री-पुलिस के सामने MLA को जूतों से यूं जमकर पीटा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter