» हाई कोर्ट ने खुद पर लगाया एक लाख का जुर्माना!   » बेटी का वायरल फोटो देख पिता ने लगाई फांसी, छोटे भाई ने भी तोड़ा दम   » पुण्यतिथिः जब 1977 में येदुरप्पा संग चंडी पहुंचे थे जगजीवन बाबू   » बजट का है पुराना इतिहास और चर्चा में रहे कई बजट !   » BJP राष्‍ट्रीय महासचिव के MLA बेटा की खुली गुंडागर्दी, अफसर को यूं पीटा और बड़ी वेशर्मी से बोला- ‘आवेदन, निवेदन और फिर दनादन’ हमारी एक्‍शन लाइन   » कैदी तबरेज तो ठीक, लेकिन वहीं हुए पुलिस संहार को लेकर कहां है ओवैसी, आयोग, संसद और सरकार?   » उस खौफनाक मंजर को नहीं भूल पा रहा कुकड़ू बाजार   » प्रसिद्ध कामख्या मंदिर में नरबलि, महिला की दी बलि !   » गुजरात दंगों में नरेंद्र मोदी पर उंगली उठाने वाले चर्चित पूर्व IPS को उम्रकैद   » इधर बिहार है बीमार, उधर चिराग पासवान उतार रहे गोवा में यूं खुमार, कांग्रेस नेत्री ने शेयर की तस्वीरें  

दुनिया के यह सबसे अमीर शख्स रखता है ओल्ड फ्लिप फोन !

Share Button

दुनिया के सबसे सफलतम निवेशकों में से एक माने जाने वाले वारेन बफेट ने मात्र 13 साल की उम्र में ही अपना पहला टैक्स रिटर्न दाखिल कर दिया था। इस उम्र में ही उनके पास खुद का अपना बिजनेस था। आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया का दूसरा अमीर शख्स जिसके पास 75.6 बिलियन अमेरिकी डॉलर की संपत्ति हो और वो एप्पल जैसी दिग्गज कंपनी में 2.5 फीसद की शेयर होल्डिंग, उसके पास न तो आईफोन है और न ही स्मार्टफोन। हम अपनी इस खबर के माध्यम से वारेन बफेट के बारे में ऐसी ही कुछ दिलचस्प बातें बताने की कोशिश करेंगे।

न आईफोन और न स्मार्टफोन

बर्कशायर हैथवे कंपनी के चेयरमैन वारेन बफेट जिन्हें स्टॉक मार्केट में अपनी सफलतम कहानी के कारण ओरेकल ऑफ ओमाहा कहा जाता है। हालांकि बफेट की कंपनी एप्पल में शेयर हिस्सेदारी रखती है लेकिन वो आईफोन का इस्तेमाल नहीं करते हैं, यहां तक कि वो स्मार्टफोन का भी इस्तेमाल नहीं करते हैं। उनसे पास अब भी उनका पुराना ओल्ड फ्लिप फोन है। उन्होंने साल 2013 के दौरान एक इंटरव्यू में बताया था कि मैं ऐसी किसी भी चीज को तब तक नहीं फेकता जब तक मैने उसका 20 से 25 साल तक इस्तेमाल न किया हो।

उन्होंने उस इंटरव्यू में अपना नोकिया फ्लिप फोन दिखाते हुए कहा था, “यह वो है जिसे एलेक्जेंडर ग्राहम बेल ने मुझे दिया था।” लंबे समय तक चीजों से चिपके रहने की उनकी आदत उनके बाजार ज्ञान से जुड़ी हुई है जो कहता है कि अगर आप किसी शेयर को 10 साल तक रखने के लिए तैयार नहीं हैं तो इसे न खरीदें।

पूरी जिंदगी में भेजा सिर्फ एक ई-मेल

वारेन बफेट की कहानी कई मायनों में दिलचस्प है। उनके बारे में कहा जाता है कि वो ई-मेल का इस्तेमाल भी नहीं करते हैं। उन्होंने अब तक सिर्फ एक ई-मेल ही भेजा है।

 

इसके लिए कई लोग उन्हें लडाइट (इंडस्ट्रिअलाइजेशन और नई तकनीक का विरोध करने वाला) भी कहते हैं। ये ऐसे लोग होते हैं जिन्हें तकनीक के प्रति अजीब सा डर होता है। लेकिन बफेट अपने उसूलों पर जीने वाले इंसान कहे जाते हैं।

आज भी रहते हैं पुराने घर में

बफेट आज भी अपने पुराने घर में रहते हैं। बफेट तीन बेडरूम वाले उस छोटे से घर में रहते हैं जिसे उन्होंने साल 1958 में 31,500 अमेरिकी डॉलर में खरीदा था।

यानी साफ है कि वो सादा जीवन उच्च विचार वाले सिद्धांतों पर जीने वाले इंसान हैं।

काफी साल चलाते रहे पुरानी कार

बफेट काफी सालों तक पुरानी कार चलाते रहे। साल 2014 तक बफेट ने आठ साल पुरानी कैडिलेक कार चलाई। बफेट ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था कि मैं साल में सिर्फ 3,500 मील तक गाड़ी चलाता हूं, तो ऐसे में मैं नई कार कभी-कभी ही खरीदूंगा।

बफेट ने साल 2006 में अपनी 2006 डीटीएस (2006 DTS) को बदलकर साल 2014 में ब्रैंड न्यू कैडेलिक एक्सटीएस खरीदी थी। उनके पास प्राइवेट जेट भी है लेकिन वो इसका इस्तेमाल कुछ खास मीटिंग में पहुंचने के लिए ही करते हैं।

Share Button

Related News:

नहीं रहे हर दिल अजीज कादर खान
प्रदेश छात्र जदयू महासचिव हत्याकांडः परिजन ने नालंदा पुलिस के खुलासे पर उठाये सवाल
रांची प्रेस क्लब या द रांची प्रेस क्लब के निबंधन में ही है गड़बड़झाला
IPS जसवीर सिंह सस्पेंड, योगी आदित्यनाथ पर लगाया था रासुका
BJP राष्‍ट्रीय महासचिव के MLA बेटा की खुली गुंडागर्दी, अफसर को यूं पीटा और बड़ी वेशर्मी से बोला- 'आव...
बेटी का वायरल फोटो देख पिता ने लगाई फांसी, छोटे भाई ने भी तोड़ा दम
नालंदा के एसपी के इस आदेश की हर तरफ-हर कोई उड़ा रहा है सरेआम धज्जियां
कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन के सरेंडर पर हाईकोर्ट ने लिया संज्ञान, प्रजेंटेशन देने का आदेश
आभावों के बीच राष्ट्रीय खेल में यूं परचम लहरा रही एक सुदूर गांव की बेटियां
नालंदा एसपी कुमार आशीष का क्वीक एक्शन, अस्पताल कैदी वार्ड के सभी 5 सिपाही सस्पेंड
राबड़ी-तेजस्वी को IRCTC केस में बेल, लालू रिम्स के कार्डियोलॉजी में एडमिट
पुण्यतिथिः जब 1977 में येदुरप्पा संग चंडी पहुंचे थे जगजीवन बाबू
बोले BJP अध्यक्ष- ममता बनर्जी में PM बनने की संभावनाएं
 ‘ओछी टिप्पणियां’ कर रहे हैं केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटलीः यशवंत सिन्हा
बजट का है पुराना इतिहास और चर्चा में रहे कई बजट !
मां हिन्दी के इस लोकप्रिय ‘पागल-दीवाना’ बेटा को जन्म दिन मुबारक
BRD मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में फिर हुई 72 घंटे में 46 बच्चों की मौत
रांची होटवार जेल बना पुलिस छावनी, काफी आक्रोश में हैं बिहार-झारखंड के राजद नेता
मंत्री, डीएसपी, इंस्पेक्टर समेत सैकड़ों के हत्यारे नक्सली कुंदन पाहन के सरेंडर पर उठे  सबाल
डंपर से टकराई कैफियत एक्सप्रेस, 12 डिब्बे पटरी से उतरे, 70 घायल
नहीं रहे पूर्व रक्षा मंत्री एवं गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर, समूचे देश में शोक की लहर
मोदी सरकार में अछूत बनी जदयू नेता नीतीश ने कहा- सांकेतिक मंत्री पद की जरूरत नहीं
बड़ा रेल हादसाः रावण मेला में घुसी ट्रेन, 100 से उपर की मौत
पत्रकार वीरेन्द्र मंडल को सरायकेला SP ने यूं एक यक्ष प्रश्न बना डाला

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...
» पुण्यतिथिः जब 1977 में येदुरप्पा संग चंडी पहुंचे थे जगजीवन बाबू   » कैदी तबरेज तो ठीक, लेकिन वहीं हुए पुलिस संहार को लेकर कहां है ओवैसी, आयोग, संसद और सरकार?   » डॉक्टरी भी चढ़ गयी ग्लोबलाइजेशन की भेंट !   » विकास नहीं, मानसिक और आर्थिक गुलामी का दौर है ये !   » एक ऐतिहासिक फैसलाः जिसने तैयार की ‘आपातकाल’ की पृष्ठभूमि   » एक सटीक विश्लेषणः नीतीश कुमार का अगला दांव क्या है ?   » ट्रोल्स 2 TMC MP बोलीं- अपराधियों के सफेद कुर्तों के दाग देखो !   » जब गुलजार ने नालंदा की ‘सांसद सुंदरी’ तारकेश्वरी पर बनाई फिल्म ‘आंधी’   » आभावों के बीच राष्ट्रीय खेल में यूं परचम लहरा रही एक सुदूर गांव की बेटियां   » मुंगेरः बाहुबलियों की चुनावी ज़ोर में बंदूक बनाने वाले गायब!  
error: Content is protected ! india news reporter