दंगाग्रस्त दिल्ली एक राष्ट्रीय शिकन: अनगिनत मौतें, सैकड़ों जख्मी

Share Button

INR. दिल्ली के ब्रह्मपुरी और मौजपुर इलाके में तीसरे दिन भी पत्थरबाजी और हिंसक प्रदर्शन जारी है। मंगलवार को भी कई इलाकों से उपद्रवियों के बीच पत्थरबाजी एवं हिंसक झड़पें देखने को मिली।

रविवार से शुरू हुई हिंसा में अब तक एक हेड कांस्टेबल समेत अनगिनत मौतें हो चुकी है। अधिकारिक तौर पर 10 लोगों की मौत व 150 से उपर जख्मी होने की पुष्टि की गई है। एहतियात के तौर पर पांच मेट्रो स्टेशन, जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी एंक्लेव और शिव विहार बंद कर दिया गया है।

गृह मंत्री अमित शाह ने हेड कांस्टेबल रतन लाल की पत्नी को एक पत्र लिखा, ‘रतन लाल कल उत्तर पूर्व दिल्ली में नागरिकता संशोधन अधिनियम पर संघर्ष के दौरान शहीद हो गए थे। उन्होंने पत्र में लिखा,  ‘मैं आपके पति की असामयिक मृत्यु पर दुख और गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं।’

दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एम एस रंधावा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी कि अब हिंसा पर काबू पा लिया गया है। दिल्ली हिंसा में अब तक 10 लोगों की मौत हुई।

उत्तर पूर्वी इलाके में हुई हिंसा में 150 लोग घायल हो गए है, इसमें 130 आम लोग भी शामिल हैं। हिंसा में दो आईपीएस अधिकारी और 56 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं।

पुलिस ने कहा कि असमाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि तंग गलियों की वजह से पुलिस को एक्शन लेने में दिक्कत आई। कुछ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। हिंसाग्रस्त इलाके में ड्रोन से निगरानी रखी जा रही है। हिंसाग्रस्त इलाके में धारा 144 लागू की जा चुकी है। हम जनता से अपील करते हैं कि कानून अपने हाथों में न लें।

हमारे पास पुलिस बल का आभाव नहीं है। उत्तर पूर्वी इलाके में सीआरपीएफ, आरएएफ समेत अन्य बल तैनात किया है। हिंसा में अब तक 11 एफआईआर दर्ज की जा चुकी हैं, कुछ  लोगों की गिरफ्तारी भी की गई है ।

डॉ. सुनील कुमार, चिकित्सा अधीक्षक, गुरु तेग बहादुर (जीटीबी) अस्पताल ने बताया कि दिल्ली हिंसा में पिछले 24 घंटों में जीटीबी अस्पताल में कुल 10 मौतें हुई हैं और 150 लोग घायल हुए हैं।

कांग्रेस ने कहा- राजधानी में शांति, कानून और व्यवस्था बनाए रखने में मदद करेंगे। कांग्रेस नेता, रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि हम सभी से शांति बनाए रखने और दिल्ली में हिंसा के इस कृत्य की निंदा करने की अपील करते हैं।

कुछ सांप्रदायिक शक्तियां, अपने राजनीतिक लाभ के लिए, धर्म का उपयोग करके मतभेद पैदा करने की दिशा में काम कर रही हैं। कांग्रेस का एक कार्यकर्ता राजधानी में शांति, कानून और व्यवस्था बनाए रखने में मदद करेगा।

गृह मंत्रालय ने सभी से अफवाहों को फैलाने से रोकने की अपील की है और कहा है कि राजनीतिक दलों को पुलिस के साथ मिलकर इन अफवाहों और जनता के बीच डर को दूर करना चाहिए। गृह मंत्रालय ने मीडिया और लोगों से भी जिम्मेदारी से संवाद करने और अफवाहें फैलाने से बचने की अपील की है।

गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के पुलिस आयुक्त से कहा है कि पुलिस नियंत्रण कक्ष में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौजूद रहें ताकि अफवाहों को जल्द से जल्द दूर किया जा सके।

दिल्ली के खजूरी खास में मंगलवार को तनाव बढ़ने के बाद रैपिड एक्शन फोर्स तैनात कर दी गई है। इसके साथ ही यहां धारा 144 लगा दी गई है। स्पेशल सीपी सतीश गोलचा ने बताया कि हम दंगाइयों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर उन्हें गिरफ्तार करेंगे। लोगों को शांति बनाए रखने के लिए हमारे साथ सहयोग करना होगा। हम तब तक यहां रहेंगे जब तक कि हालात सामान्य नहीं हो जाते, वरना हम और सुरक्षाबलों की तैनाती करेंगे।

दिल्ली के विजय पार्क 22 नंबर गली में 3 लोगों के मारे जाने की खबर है। बाकी लोगों के घिरे होने की खबर है। चांदबाग के हालात बेहद नाजुक है और पूरा इलाका दंगाइयों ने घेरा हुआ है। उधर बाबरपुर और बृजपुरी रोड व मुस्तफाबाद में दंगे जैसा माहौल है।

दिल्ली में सोमवार और मंगलवार को हुई हिंसा की घटनाओं में मरने वालों की संख्या बढ़कर नौ हो गई है। जीटीबी अस्पताल के एमडी सुनील कुमार ने बताया है कि कल सौ घायल लोगों को लाया गया था, जिसमें 5 मृत घोषित किए गए थे।

वहीं आज 35 घायल लोगों को लाया गया जिसमें 4 मृत घोषित किए गए हैं। अस्पताल में भर्ती लोगों में से 50 फीसदी गोली लगने से घायल हुए हैं।

सोमवार को दिल्ली के गोकुलपुरी में हुई हिंसा में मारे गए हेड कांस्टेबल रतन लाल को पुलिस के जवानों ने पूरे सम्मान के साथ उन्हें श्रद्धांजलि के साथ ही अंतिम विदाई दी।

दिल्ली के अम्बेडकर कॉलेज के पार्किंग में खड़ी गाड़ियों को उपद्रवियों ने किया आग के हवाले। इस आग के चलते एक दर्जन से ज्यादा गाड़ियां जलकर खाक हो गई हैं।

सुदामापुरी में मामला बेहद संवेनशील और हाथ से बाहर होता जा रहा है। सुदामापुरी में एक धर्मस्थल में तोड़फोड़ के बाद उसे आग के हवाले कर दिया गया। एक समुदाय की दुकानों का सामान निकालकर आग लगाई जा रही है।

दिल्ली हिंसा पर कांग्रेस नेता उदित राज ने कहा है कि इससे ज्यादा शर्म की बात कुछ और नहीं हो सकती, जो था वो भी लुट गया। ये माना जाता था कि राजधानी सुरक्षित है लेकिन कल तो इन्होंने राजधानी भी आग के हवाले कर दी। जो मौजपुर, जाफराबाद, करावल नगर में हुआ वो पुलिस, आरएसएस और भाजपा ने कराया है।

दिल्ली हिंसा पर कांग्रेस नेता उदित राज कहते हैं कि इससे ज़्यादा शर्म की बात कुछ और नहीं हो सकती,जो था वो भी लुट गया। ये माना जाता था कि राजधानी सुरक्षित है लेकिन कल तो इन्होंने राजधानी भी आग के हवाले कर दी। जो मौजपुर,जाफ़राबाद,करावल नगर में हुआ वो पुलिस, आरएसएस और भाजपा ने कराया है।

करावल में भड़की हिंसा को देखते हुए करावल नगर जाने वाली दोनों तरफ की सड़क बंद कर दिया गया है। यहां पर किसी भी तरह का यातायात बाधित है।

खबर है कि ब्रिजपुरी के लोगों ने दिल्ली में बढ़ती हिंसा के चलते उनके इलाके में कोई अप्रिय घटना न हो इसके लिए शांति मार्च निकाला है।

दिल्ली के कई इलाकों के बाद अब बाबरपुर में फायरिंग की घटनाएं सामने आ रही हैं। यहां कई दुकानों को उपद्रवियों ने आग लगा दी। इसके बाद उपद्रवियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस को गोले दागे हैं।

दो समाचार चैनलों के पत्रकारों को बलवाइयों घायल कर दिया है। एक पत्रकार को गोली लगी है जबकि दूसरे का दांत तोड़ दिया गया है। जिसे गोली लगी है उसे जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दिल्ली के करावल नगर में रहने वाले कासिम अली, आगजनी से परेशान होकर, अपने घर को बंद कर लोनी में रहने वाले अपने रिश्तेदार के घर जा रहे हैं।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हो रही हिंसा को लेकर पश्चिमी दिल्ली में अमन कमेटी की बैठक शुरू हो गई है। हिंसा के मद्देनजर दक्षिण-पूर्वी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली सहित राजधानी दिल्ली के कई इलाकों में महत्वपूर्ण बैठक शुरू हो गई है।

दिल्ली पुलिस के कमिश्नर द्वारा निर्देश दिया गया है कि सभी जिलों में अमन कमेटी सहित स्थानीय लोगों की बैठक की जाए और लोगों को अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की जानकारी प्रदान की जाए। साउथ ईस्ट दिल्ली में जॉइंट कमिश्नर देवेश श्रीवास्तव के नेतृत्व में हुई है अमन कमेटी की बैठक।

घोंडा इलाके में दोनों पक्षों के लोग राहगीरों को पकड़-पकड़ कर मार रहे हैं। साथ ही बलवाइयों ने एक बस में भी आग लगा दी। मौजपुर में दोनों तरफ से पथराव जारी है। वहीं एक पक्ष लगातार गोलियां चला रहा है। मौजपुर में लोग छतों से गोलियां चला रहे हैं।

दिल्ली पुलिस ने हिंसा को देखते हुए विशेष सेल, अपराध शाखा और आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) के अधिकारियों के साथ उत्तर पूर्वी दिल्ली में अर्धसैनिक बलों की 35 कंपनियां तैनात की हैं। दिल्ली के विभिन्न जिलों से स्थानीय पुलिस को भी बुलाया गया है।

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर गोकुलपुरी हिंसा में घायल शहादरा डीसीपी अमित शर्मा से मिलने मैक्स हॉस्पिटल पहुंचे। डीसीपी के साथ ही मैक्स में एक हेड कांस्टेबल भर्ती है। घायलों और उनके परिजनों से मिलकर सांसद गौतम गंभीर ने उनका हालचाल जाना।

दिल्ली के लोनी बॉर्डर पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी डटे हुए हैं। उपद्रवी लोनी की सीमा में ना घुसें इसको लेकर पुलिस ने दिल्ली की सीमा में घुसकर लोगों को समझाया। दिल्ली के कई इलाकों के बाद अब घोंडा में उपद्रवियों ने एक बस और कार में आग लगा दी है।

गृहमंत्री अमित शाह के साथ बैठक खत्म कर पत्रकारों से मुखातिब हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि बैठक सकारात्मक रही। सभी लोग दिल्ली में शांति व्यवस्था कायम करने के लिए मिलकर प्रयास करेंगे ऐसा आश्वासन मिला है। बैठक में डिसाइड हुआ है कि दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सभी दिल्ली की समस्या को खत्म करने की कोशिश करेंगे। पहले लग रहा था कि निचले स्तर पर पुलिस के पास कमी है लेकिन गृहमंत्री ने आश्वासन दिया है कि उससे निपटने की कोशिश होगी। शांति व्यवस्था कायम करने की हर कोशिश की जाएगी।

उन्होंने ये भी कहा कि सभी चाहते हैं कि हिंसा की घटनाओं पर  लगाम लगे। उन्होंने ये भी बताया कि कई पुलिसवाले घायल हैं जिनका इलाज चल रहा है।

मौजपुर में गोली चलने की लगातार घटना के बाद डीसीपी आलोक कुमार घटनास्थल से भाग खड़े हुए। पब्लिक गुहार लगाती रही लेकिन डीसीपी मौके से फरार हो गए। डीसीपी के फरार होने पर एसीपी ने संभाला मोर्चा।

मौजपुर इलाके में 6 लोगों को गोली मारने की सूचना है। इस दौरान एक महिला भी गंभीर रूप से घायल हो गई है। हालांकि इस घटना की पुलिस अधिकारिक रूप से पुष्टि नहीं कर रही है।

मौजपुर में सुबह हुई पत्थरबाजी के बाद मौजपूर में एक बार हालात तनावपूर्ण हो गए हैं। यहां फायरिंग की कुछ घटनाएं भी सामने आ रही हैं।

मंगलवार सुबह ब्रह्मपुरी, मौजपुर, कबीरनगर और करावल नगर में बवाल के बाद सुदामापुरी में पथराव शुरू हो गया है। मस्जिद के पास दो गुटों में पथराव शुरू हो गया है। हालात काफी बुरे हो गए हैं। गलियों में अफरा-तफरी का माहौल है।

गौतम गंभीर ने बड़ा देते हुए कहा कि वो चाहें कपिल मिश्रा हों या कोई और हो, चाहे वो किसी भी पार्टी का हो अगर किसी ने भड़काऊ भाषण दिया है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। आज सुबह टायर मार्केट में जो आग लगी थी उस पर अब तक काबू नहीं पाया जा सका है।

दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह मुख्यमंत्री केजरीवाल, उपराज्यपाल अनिल बैजल और अन्य राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक शुरू हो चुकी है। इसमें पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी, दिल्ली विधानसभा में नेता-प्रतिपक्ष रामबीर सिंह बिधूड़ी और अन्य मौजूद हैं। मंगलवार को ब्रह्मपुरी, मौजपुर और करावल नगर में हिंसा के बाद अब कबीर नगर से भी पत्थरबाजी की घटनाएं सामने आ रही हैं।

दिल्ली हाईकोर्ट में मंगलवार को एक याचिका डाली गई है जिसमें मौजपुर और उससे सटे उत्तर-पूर्वी दिल्ली के इलाकों में हुई हिंसा पर स्वतंत्र न्यायिक जांच की मांग की गई है। साथ ही मृतकों के लिए मुआवजे की भी मांग की गई है। इसके साथ ही कुछ प्रमुख राजनीतिक लोगों की गिरफ्तारी की भी मांग की गई है जो नफरत भरे भाषणों से लोगों को भड़का रहे हैं।

केजरीवाल ने ये भी कहा कि पुलिस को एक्शन लेने की इजाजत मिलनी चाहिए और उनकी संख्या भी कम है उसे भी बढ़ाया जाए। उन्होंने ये भी कहा कि खबर है कि बाहर से भी लोग आ रहे हैं, ऐसे में दिल्ली से सटे राज्यों को अपने बॉर्डर सील करने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि आपात बैठक में उन्होंने हिंसाग्रस्त इलाकों के विधायकों और अधिकारियों को बुलाया और कहा कि वह स्थानीय स्तर पर सभी धर्मों के लोगों के साथ बैठक कर सौहार्द कायम करें।

केजरीवाल ने आपात बैठक के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि जो हिंसा हो रही है वह ठीक नहीं है। कल किसी का भी नंबर आ सकता है। वह आगे बोले कि अस्पताल और दमकलकर्मी तैयार रहें। दमकल विभाग पुलिस के साथ कॉर्डिनेट कर काम करें। उन्होंने कहा कि शिकायत ये भी है कि निचले स्तर पर पुलिस को कोई एक्शन लेने का हक नहीं है। उसके लिए उन्हें ऊपर से ऑर्डर लेना पड़ रहा है, उन्हें एक्शन के लिए इजाजत मिलनी चाहिए।

सोमवार को दिल्ली के गोकुलपुरी में हुई हिंसा में हेड कांस्टेबल की मौत और डीसीपी शाहदरा के घायल होने के बाद मंगलवार को यहां की सुरक्षा व्यवस्था चौकस कर दी गई है। भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिए गए हैं।

दिल्ली हिंसा पर एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने कहा- 2-3 महीने से सीएए-एनआरसी को लेकर प्रदर्शन, हिंसा हो रही है, पूरी जिम्मेदारी केंद्र सरकार की है। सरकारी पक्ष के लोग भड़काऊ बयान देते हैं,गोली मारने की भाषा बोलते हैं। कपिल मिश्रा कहते हैं ट्रंप के जाने के बाद निपट लेंगे। इस तरह से लोकतंत्र में सरकारें काम नहीं करतीं।

दिल्ली हिंसा पर नवाब मलिक: 2-3महीने से CAA,NRC को लेकर प्रदर्शन,हिंसा हो रही है,पूरी जिम्मेदारी केंद्र सरकार की है। सरकारी पक्ष के लोग भड़काऊ बयान देते हैं,गोली मारने की भाषा बोलते हैं। कपिल मिश्रा कहते हैं ट्रंप के जाने के बाद निपट लेंगे। इस तरह से लोकतंत्र में सरकारें काम नहीं करती

दिल्ली में सीएए को लेकर हाल ही में हुई हिंसा के मामले में प्राथमिकी दर्ज कराने की मांग करते हुए पूर्व सीआईसी वजाहत हबीबुल्लाह व अन्य ने उच्चतम न्यायालय का रुख किया। वजाहत हबीबुल्लाह, अन्य ने उच्चतम न्यायालय से शाहीन बाग और शहर के अन्य हिस्सों में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए निर्देश देने की मांग की है।उच्चतम न्यायालय ने कहा कि वजाहत हबीबुल्लाह और अन्य द्वारा दायर याचिका पर बुधवार को सुनवाई की जाएगी।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पहुंच रहे विधायक और अधिकारी। मुख्यमंत्री ने दिल्ली हिंसा को लेकर अधिकारियों और विधायकों की आपात बैठक बुलाई है।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने आज दोपहर 12 बजे उपराज्यपाल अनिल बैजल, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक बुलाई है।

दिल्ली के कई इलाकों में चल रही हिंसा के कारण एहतियातन पांच मेट्रो स्टेशन, जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी एंक्लेव और शिव विहार बंद कर दिए हैं। ट्रेनों को वेलकम मेट्रो स्टेशन पर ही रोक दिया जा रहा है, इससे आगे कोई मेट्रो नहीं जा रही है। ब्रह्मपुरी में आज सुबह हुई पथराव की घटना के बाद फ्लैग मार्च पर निकली रैपिड एक्शन फोर्स ने दो खोखे बरामद किए हैं।

करावल नगर के टायर मार्केट में आज सुबह 8.24 बजे आगजनी हुई लेकिन अब तक फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर नहीं पहुंच सकी हैं क्योंकि उन्हें पुलिस ने सुरक्षा प्रदान नहीं की है। बता दें कि यहां आज सुबह दो-तीन गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया था।

केजरीवाल ने दिल्ली के कई हिस्सों में हो रही हिंसा को लेकर कहा कि, दिल्ली के कुछ इलाकों में फैली हिंसा को लेकर चिंतित हूं। हम सबको मिलकर शहर में अमन कायम करने के सभी कदम उठाने चाहिए। मैं सबसे दोबारा विनती करता हूं कि हिंसा मत करिए। मैं प्रभावित इलाकों के सभी विधायकों(हर पार्टी के विधायक) और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर रहा हूं।

शाहदरा डीसीपी अमित शर्मा जो सोमवार को गोकुलपुरी में हुई हिंसा में बुरी तरह घायल हो गए थे, उन्हें अब होश आ गया है और उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। बीती रात उनकी एक सर्जरी हुई थी और आज सुबह ही सीटी स्कैन किया गया है। अब वह सुरक्षित हैं और खतरे से बाहर हैं।

दिल्ली में मौजपुर और ब्रह्मपुरी के अलावा करावल नगर में भी आज तड़के कुछ प्रदर्शनकारियों ने दो-तीन गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। दूसरी तरफ दिल्ली पुलिस ने जानकारी दी है कि हालात बहुत तनावपूर्ण हैं। हमें लगातार उत्तर-पूर्वी दिल्ली के इलाकों से हिंसा से जुड़े फोन मिल रहे हैं। दिल्ली पुलिस के कमिश्नर ने इसे लेकर कल देर रात सीलमपुर डीसीपी के दफ्तर पर बैठक भी की।

उत्तरपूर्वी दिल्ली के फायर डायरेक्टर ने जानकारी दी है कि विभाग को सोमवार से लेकर मंगलवार सुबह तीन बजे तक कुल 45 फोन आ चुके थे। तीन दमकलकर्मी घायल हैं जबकि एक अग्निशमन वाहन को आग लगा दिया गया।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने सरकारी आवास पर हिंसा प्रभावित इलाकों के विधायकों और अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई है।

उत्तरपूर्वी दिल्ली में हालात आज भी तनावपूर्ण है। आज सुबह ही ब्रह्मपुरी इलाके में पत्थरबाजी के बाद रैपिड एक्शन फोर्स और पुलिस ने फ्लैग मार्च किया।

दिल्ली के ब्रह्मपुरी और मौजपुर इलाके में तीसरे दिन भी पत्थरबाजी और हिंसक प्रदर्शन जारी है। आज सुबह ही कुछ इलाकों में उपद्रवियों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी।

Share Button

Related News:

रांची का कशिश न्यूज चैनल बना ऐय्याशी का अड्डा, न्यूज हेड गंगेश गुंजन की जय हो!
मनोरम वादियों के बीच आध्यात्मिक, सांस्कृतिक व धार्मिक सभ्यताओं का संगम है राजगीर
दैनिक भाष्कर ने किया राँची में गुंडों का इस्तेमाल
मई 2020 तक फ्रांस से भारत पहुंचेगा राफेल, 2021 तक होगा ऑपरेशनल
झारखण्ड उग्रवाद का दूसरा कुख्यात नाम
यह है दुनिया का सबसे अमीर गांव, इसके सामने हाईटेक टॉउन भी फेल
सुबोधकांत ने खेली मुख्यमंत्री बनने की दांव!
‘टाइम’ ने मोदी को 'इंडियाज डिवाइडर इन चीफ’ के साथ ‘द रिफॉर्मर’ भी बताया
रोहित के बल्ले से उड़े दिग्गजों के रिकार्ड, ब्रेडमैन भी हुए पीछे
सरकारी मेहमान बने राज ठाकरे के हिंदी बोलने पर बबाल !
पटना साहिब लोकसभा चुनाव: मुकाबला कायस्थ बनाम कायस्थ
सरकारी लोकपाल को कैबनेट की मंजूरी, अन्ना विफरे
'वोटर्स को पैसे, साड़ियां और जूते बांट रहे हैं भाजपाई'
पुण्यतिथि विशेषः मोतिहारी में जन्मे थे जार्ज ओरवेल
क्या गुल खिलाएगी 'साहिब' के 'साहब' की नाराजगी !
आभावों के बीच राष्ट्रीय खेल में यूं परचम लहरा रही एक सुदूर गांव की बेटियां
पिछले चार साल मे लाखपति से अरबपति बने नीतिश के ये चहेते मंत्री
अब राजनीति में कूदेगें सिंघम का 'देवकांत सिकरे'!
विशेष श्रद्धांजलिः ...तब जहानाबाद में 12 किलोमीटर पैदल चले थे कुलदीप नैयर
अपनी दादी इंदिरा गांधी के रास्ते पर चल पड़ी प्रियंका?
मॉम के रुप में श्रीदेवी का दिख रहा भावुक अंदाज
जेल में बवाल, पथराव, जेलर समेत कई को पीटा, पुलिस कर रही ड्रोन से निगरानी
झारखंड: गुरूजी ने राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा ठोंका
"झारखण्ड : सिर्फ़ सनसनी फैलाकर आगे बढना चाहती है दैनिक जागरण अखबार"

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
error: Content is protected ! india news reporter