तीन तलाक को राष्ट्रपति की मंजूरी, 19 सितंबर से लागू, यह बना कानून!

Share Button

मंगलवार को राज्यसभा से तीन तलाक बिल पास हुआ था। इसके बाद इसे राष्ट्रपति के पास मंजूरी के लिए भेजा गया था। राष्ट्रपति के दस्तखत के बाद यह बिल कानून बन गया……..”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क डेस्क। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने तीन तलाक बिल को मंजूरी दे दी है। इस मंजूरी के साथ ही देश में तीन तलाक कानून 19 सितबंर, 2018 से लागू हो गया। मंगलवार को राज्यसभा से तीन तलाक बिल पास हुआ था। इसके बाद इसे राष्ट्रपति के पास मंजूरी के लिए भेजा गया था।

दो दिन पहले लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी तीन तलाक बिल पास हो गया था। बिल के पक्ष में 99 और विपक्ष में 84 वोट पड़े। उसके बाद इस बिल को राष्ट्रपति के पास भेजा गया।

इससे पहले राज्यसभा में तीन तलाक बिल को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने का प्रस्ताव वोटिंग के बाद गिर गया। प्रस्ताव के पक्ष में 84 और विपक्ष में 100 वोट पड़े थे।

बिल का विरोध करने वाली कई पार्टियां वोटिंग के दौरान राज्यसभा से वॉकआउट कर गई थीं। इस बिल में तीन तलाक को गैर कानूनी बनाते हुए 3 साल की सजा और जुर्माने का प्रावधान शामिल है।

तीन तलाक देने पर ये हैं प्रावधान………..

1.मौखिक,लिखित या किसी अन्य माध्यम से पति अगर एक बार में अपनी पत्नी को तीन तलाक देता है तो वह अपराध की श्रेणी में आएगा।

2.तीन तलाक देने पर पत्नी स्वयं या उसके करीबी रिश्तेदार ही इस बारे में केस दर्ज करा सकेंगे।

3.महिला अधिकार संरक्षण कानून2019 बिल के मुताबिक एक समय में तीन तलाक देना अपराध है। इसलिए पुलिस बिना वारंट के तीन तलाक देने वाले आरोपी पति को गिरफ्तार कर सकती है।

4.एक समय में तीन तलाक देने पर पति को तीन साल तक कैद और जुर्माना दोनों हो सकता है। मजिस्ट्रेट कोर्ट से ही उसे जमानत मिलेगी।

5.मजिस्ट्रेट बिना पीड़ित महिला का पक्ष सुने बगैर तीन तलाक देने वाले पति को जमानत नहीं दे पाएंगे।

6.तीन तलाक देने पर पत्नी और बच्चे के भरण पोषण का खर्च मजिस्ट्रेट तय करेंगे,जो पति को देना होगा।

7.तीन तलाक पर बने कानून में छोटे बच्चों की निगरानी और रखावाली मां के पास रहेगी।

8.नए कानून में समझौते के विकल्प को भी रखा गया है। हालांकि पत्नी के पहल पर ही समझौता हो सकता है, लेकिन मजिस्ट्रेट की ओर से उचित शर्तों के साथ।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise
Share Button

Related News:

राहुल ने मुंह खोला, कहा लोकपाल से नहीं मिटेगा भ्रष्टाचार
हाय रे राजनीति! हाय रे अखबार!!
बज गई आयोग की डुगडुगी, जानिए 7 चरणों में कहां, कब और कैसे होगा चुनाव
“आरक्षण ” को लेकर अमिताभ बच्चन और प्रकाश झा पर मुकदमा !!
 ‘ओछी टिप्पणियां’ कर रहे हैं केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटलीः यशवंत सिन्हा
खेल के साथ बिजनेस भी करेगे धौनी
बढ़ता जा रहा है सरकारी अनाज घोटाला का दायरा
भारत के खिलाफ एक आग है पाकिस्तानी विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार
आगामी 30 दिसंबर को शपथ लेगे दो उप मुख्यमंत्री के साथ मोहराबादी मैदान मे शपथ झारखंड के नये मुख्यमंत्...
अन्ना के अनशन का फायदा अगली पीढ़ी को मिलेगाः बाबा रामदेव
इस कारण NDA में फंसी JDU-BJP-LJP की पेंच
कुंदन पाहन ने चौंकाया, नेपाली PM प्रचंड ने झारखंड में ली थी नक्सली ट्रेनिंग!
अर्जुन मुंडा:झारखंडी राजनीति में बलि का नया बकरा
श्रीलंका में 28 साल बाद खत्म हुआ आपातकाल
अन्ना पड़े बीमार : होगी आंदोलन पर असर
केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय बाल-बाल बचे : उनकी पिकनिक मे समर्थक ने शरीर मे आग लगाई
और इस कारण बिखर चला 'द कपिल शर्मा शो'
अन्ना को लेकर पीएम का कड़ा रुख
नक्सलियों ने नोटबंदी के समय BJP MLC को दिए थे 5 करोड़ !
नौकरी में बहाली बिहार में सिर्फ नालंदा जिले के लोगों का: राबड़ी देवी
अन्ना हजारे के अनशन पर लगाईं गई शर्तें मौलिक अधिकारों का हननः गडकरी
क्या राज्य सरकारें अपने सूबे में सीबीआई को बैन कर सकती हैं?
राजनीतिक नेपथ्य में धकेले गए राम मंदिर आंदोलन के नायक और भाजपा का भविष्य
सुप्रीम कोर्ट के आदेश की चपेट मे आये बिहार के शिक्षा मंत्री

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter