डरावना सच : पॉर्न साइटों पर ट्रेंड होती गैंगरेप पीड़िता, खुद के बच्चों को भी सभांलिए

Share Button

चाहे भोपाल, राजगीर, हैदराबाद या रांची की घटना हो, इन सभी में दरींदों ने पोनोग्राफी और नशे की लत के चलते जघन्य वारदात को अंजाम दिया है.……..”

इंडिया न्यूज रिपोर्टर/ विकास सिंह। हैदराबाद में महिला डॉक्टर से हैवानियत के बाद पूरा देश गुस्से में है। संसद से लेकर सड़क तक हंगामा मचा हुआ है। दिल्ली से लेकर हैदराबाद तक लोग सड़कों पर नजर आ रहे है।

हर कोई आरोपियों को सरेआम सजा देने की मांग कर रहा है। निर्भया कांड के 7 साल बाद फिर एक बार रेप जैसी घटनाओं को रोकने लिए कड़े कानून बनाने की बात कही जा रही है लेकिन इन सब के बीच एक ऐसी खबर सामने आई जो सुनकर आपकी रूह कांप जाएगी।

हैदराबाद में हैवानों का शिकार बनी युवती का नाम पॉर्न साइटों पर नंबर एक पर ट्रेंड कर रहा है। भारत में पॉर्न साइटों पर दंरिदों का शिकार बनी युवती के नाम से सबसे अधिक सर्च किए जा रहे है जिससे की वह टॉप ट्रेंड में आ गया है।

यह तब है, जब भारत में रेप की घटनाओं के पीछे पोर्न वेबसाइट को बड़ा कारण माना जाता है।

मनोचिकित्सक कहते हैं कि यह खबर हम सभी के बेहद चिंताजनक और चौंकाने वाली है। यह बेहद शर्मनाक है कि लोग एक तरह हाथ में मोमबत्ती लेकर सड़क पर नजर आते है तो दूसरी ओर रेप पीड़ित महिला के वीडियो को पॉर्न साइट पर देखना चाहते है।

डॉक्टर सत्यकांत कहते हैं कि पिछले कुछ सालों में पॉर्न एडिक्शन के चलते ही महिलाओं के प्रति अपराधों में तेजी से इजाफा हुआ है। वह कहते हैं, अगर रेप की सभी घटनाओं को उठाकर देखे तो उसके पीछे अपराधियों की पॉर्न देखने की लत और शराब को बड़ा कारण पाया गया है।

वह ऐसे केसों का जिक्र करते हुए कहते हैं कि उनके पास आए दिन ऐसे पॉर्न एडिक्शन से पीड़ित लोग आते है जो गहरे डिप्रेशन का शिकार हो जाते है। ऐसे केसों का जिक्र करते हुए कहते हैं कि पिछले दिनों उनके पास 16 साल के संजय (काल्पनिक नाम) आए, जिन्होंने 2 साल पहले अपने दोस्तों के साथ पहली बार मोबाइल में पोर्न देखी थी।

कुछ महीनों बाद घरवालों ने ही बर्थडे गिफ्ट के रूप में उन्हें स्मार्ट फ़ोन दे दिया ,कुछ दिनों बाद ही उन्होंने पोर्न वेबसाइट पर सर्फिंग शुरू कर दी और अब उन्हें इस कदर लत लगी की पढाई लिखाई छोड़ पूरे समय पोर्न देखने लगे और अब उनके अंदर कुंठा और निराशा का भाव घर गया।

पोर्न को बेहद खतरनाक मानते हुए मनोचिकित्सक डॉक्टर सत्यकांत त्रिवेदी कहते हैं कि आज इंटरनेट पर आसान से उपलब्ध होने वाली पोनोग्राफी रेप जैसे अपराधों को बढ़ावा देने का सबसे बड़ा कारण साबित हो रही है।

वह कहते हैं कि पोर्न की लत बच्चों और किशोरों के लिए विशेष रूप से चिंताजनक है और हमको सेक्स एजुकेशन को बढ़ावा और अनिवार्य कर उसको तुरंत रोकना होगा नहीं को आने वाले समय की हम कल्पना भी नहीं कर सकते है।

पोर्नोग्राफी के आंकड़े डराते है- भारत में पोर्नोग्राफी कितनी तेजी से युवाओं को अपनी चपेट में ले रहा है इसको केवल इससे समझा जा सकता है कि 10 में से 8 युवा 18 वर्ष की उम्र से पहले पोर्नोग्राफी देख लेते हैं।

एक रिसर्च के मुताबिक लगभग 80% युवा अपनी ऑनलाइन गतिविधियों को साझा नहीं करते है। वहीं 15 से 19 साल की उम्र में पोर्न एडिक्ट होने की सबसे अधिक सम्भावना रहती है

पोर्नोग्राफी से नुकसानः पोर्नोग्राफ़ी को देखने से किशोरों में नकारात्मक परिणाम हो सकते हैं, जो उनके मनोवैज्ञानिक और शारीरिक विकास दोनों को प्रभावित करते है। उनकी एकाग्रता और याददाश्त में कमी आ जाती है।

इसका सबसे खतरनाक प्रभाव ये हैं कि महिलाओं के प्रति व्यवहार आक्रामक हो जाता है और युवा अश्लील छींटाकशी करके के साथ साथ अपराध की ओर बढ़ जाते है।

माता पिता कब हो जाएं सतर्कः

आपको कंप्यूटर पर अश्लील विडियो मिलते हैं।

जब आप कमरे में प्रवेश करते हैं, बच्चा घबराकर मोबाइल/कंप्यूटर बंद कर देता है या स्क्रीन बदल देता है। मोबाइल पर हर फंक्शन पास वर्ड लगा कर रखता है

कंप्यूटर देखते समय अपने कमरे को बंद कर रखता है।

बच्चा कंप्यूटर/मोबाइल से इन्टरनेट हिस्ट्री को हटा देता है।

बच्चा रात में बहुत देर तक ऑनलाइन रहता है।

बच्चा सब के सो जाने के बाद ऑनलाइन गतिविधियाँ शुरू करता है

2 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

अन्ना को रामदेव न समझे सरकारः खुफिया विभाग ने दी चेतावनी
बिग बी पर लालू हुए लाल, सबसे नापसंद कलाकार बताया
सेलरी नहीं मिलने से क्षुब्ध ड्राइवर ने 'इंडिया न्यूज' चैनल के मालिक को 'ठोंका' !
गोविन्दाचार्य ने सुप्रीम कोर्ट से की रोहिंग्या शरणार्थियों को भारत से बाहर करने की मांग
सही सलामत घर लौटे निवर्तमान राजद विधायक का राज
डी.एम.का जनता दरबार या मजाक?खुद डी.एम.संजय कुमार अग्रवाल ही घुमावदार नज़र आता है!
पत्थर माफियाओं के राज में “तेलकटवा” गिरोह का आतंक
झारखंड :चिरकुटों के हाथ में चौथा स्तंभ
अन्ना को लेकर भाजपा में बगावत,यशवंत और शत्रुध्न सिन्हा का संसद से इस्तीफे की पेशकश
'बबुनी गैंगरेप' में पुलिस सम्मान पर उठे सवाल !
सलमान खान को 5 साल की सजा, गए जोधपुर सेंट्रल जेल
जबरन खाना दिया तो अन्ना हजारे पानी भी न पीय़ेंगें
हत्यारोपी BJP MLA संजीव सिंह की जेल में रोजाना सजते दरबार और लालू पर कसे शिकंजे को लेकर उठे सबाल
राष्ट्रपति शासन की और बढ़ रहा है झारखंड
कांग्रेस की गलत नीतियो की देन है बदहाल झारखंड : नीतिश
...और खून से लथपथ इंदिरा जी का सिर अपनी गोद में रख सोनिया चल पड़ी अस्पताल
......और तब ‘मिसाइल मैन’ 60 किमी का ट्रेन सफर कर पहुंचे थे हरनौत
तमाड़ के भूत से भयभीत हैं शिबू सोरेन?
अर्जुन मुंडा जी,आपका मुख्य सचिव पगला गया है क्या ?
सीएम और गवर्नर को सरेआम गाली देता है शिबू सोरेन का पीए
भाडे की ईंट,भाडे का रोडा :“गुरुजी” ने जोडा कुनबा
MLA अशोक सिंह हत्याकांड में  Ex. RJD MP प्रभुनाथ सिंह दोषी करार, गये जेल
धारा 120 बी के तहत दोषी लालू की सजाएं साथ चलेंगी या अलग-अलग, फैसला कोर्ट पर
मुंगेरः बाहुबलियों की चुनावी ज़ोर में बंदूक बनाने वाले गायब!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter