» तीन तलाक को राष्ट्रपति की मंजूरी, 19 सितंबर से लागू, यह बना कानून!   » तीन तलाक कानून पर कुमार विश्वास का बड़ा रोचक ट्विट….   » मुंशी प्रेमचंद: हिंदी साहित्य के युग प्रवर्तक   » बिहार के विश्व प्रसिद्ध व्यवसायी सम्प्रदा सिंह का निधन   » पत्नी की कंप्लेन पर सस्पेंड से बौखलाया था हत्यारा पुलिस इंस्पेक्टर   » कर्नाटक में सरकार गिरना लोकतंत्र के इतिहास में काला अध्याय : मायावती   » समस्तीपुर से लोजपा सांसद रामचंद्र पासवान का निधन   » दिल्ली की 15 साल तक चहेती सीएम रही शीला दीक्षित का निधन   » अपनी दादी इंदिरा गांधी के रास्ते पर चल पड़ी प्रियंका?   » हाई कोर्ट ने खुद पर लगाया एक लाख का जुर्माना!  

जानिए कौन थे लाफिंग बुद्धा, कैसे पड़ा यह नाम

Share Button

INR. दुनिया के कई देशों के साथ भारत में भी लाफिंग बुद्धा की छोटी-मोटी मूर्तियां या तस्वीरें घर में रखना शुभ माना जाता है।

मान्यता है कि लाफिंग बुद्धा की मूर्ति या तस्वीर घर में रखने से परिवार में सुख-समृद्धि और खुशहाली आती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि लाफिंग बुद्धा कौन थे और इनका नाम लाफिंग बुद्धा क्यों पड़ा।

कहा जाता है कि महात्मा बुद्ध के एक जापानी शिष्य थे, जिनका नाम होतई था। मान्यता है कि ज्ञान प्राप्त होने के बाद होतई जोर-जोर से हंसने लगे और तभी से उन्होंने लोगों को हंसाना और खुश देखना अपने जीवन का एकमात्र उद्देश्य बना लिया है।

इसी वजह से जापान और चीन के लोग उन्हें हंसता हुआ बुद्धा कहने लगे और इसी नाम का अंग्रेजी रूपांतरण है लाफिंग बुद्धा।

होतई की तरह उनके अनुयायी भी लोगों को हंसाने और खुशी देने का उद्देश्य दुनिया में फैलाने लगे। चीन में होतई को पुतई के नाम से जाना जाता है और इन्हें फेंग शुई का भगवान भी माना जाता है।

मान्यता है कि लाफिंग बुद्धा की मूर्ति या तस्वीर घर में रखने से सकारात्मक ऊर्जा और गुड लक आता है।  इससे घर में धन धान्य कि कोई कमी नहीं रहती और संपन्नता हमेशा बनी रहती है।

Share Button

Related News:

नहीं रहे जलेबी खाते-खाते पवन जैन से यूं बने मुनि तरुण सागर महाराज
पीएम ने फिलीपींस में वैज्ञानिक अरविंद से धान की पैदावार को लेकर की लंबी चर्चा
HM से मिले MLA अमित, हुआ खुलासा, रांची की निर्भया कांड की CBI जांच की अनुशंसा तक नहीं !
‘10-12-14 साल के बच्चों को मार कर पुलिस ने बताया था कुख्यात नक्सली’
रिटायर्ड सिपाही का बेटा लेफ्टिनेंट बन नगरनौसा का नाम किया रौशन
खूंटी के इस गर्त में जाने की हैैं कई वजहें
'नाजिर की मौत पर गरमाई राजनीति, महाव्यापमं की राह पर सृजन घोटाला'
कांग्रेस के हुए भाजपा के बागी सांसद 'कीर्ति'
HC ने AG से पूछा- MP और CM एक साथ कैसे रह सकते हैं योगी
महागठबंधन की सरकार में महादलितों पर अत्याचार बढ़ाः जीतनराम मांझी
एक सफल फैशन डिजाइनर बनने के पहले इस तरह करें खुद को तैयार
पीएम मोदी के वाराणसी में पुल गिरा, 50 से उपर लोग दबे
पत्रकार पुत्र की निर्मम हत्या पर बोले मांझी-  बेशर्म हैं सत्ता में बैठे लोग
जयंती विशेषः एफर्टलेस एक्टिंग के सरताज संजीव कुमार
रांची प्रेस क्लब या द रांची प्रेस क्लब के निबंधन में ही है गड़बड़झाला
....और तंत्रयान के प्रभाव बढ़ने से कम होने लगा नालन्दा का महत्व
3 स्टेट पुलिस के यूं संघर्ष से फिरौती के 40 लाख संग धराये 5 अपहर्ता, अपहृत भी मुक्त
लापरवाही की हदः गोरखपुर BRD मेडिकल कॉलेज में 5 दिनों में 60 की मौत
70 फीट ऊँची बुद्ध प्रतिमा के मुआयना समय बोले सीएम- इको टूरिज्म में काफी संभावनाएं
तेजप्रताप का शंखनाद- मैं कृष्ण और मेरा भाई अर्जुन, अब होगी असली जंग
‘सीएम नीतीश का माफिया कनेक्शन किया उजागर, अब पूर्व IPS को जान का खतरा’
रसोईया दंपति ने पहले प्रधान शिक्षक को पीटा,फिर किया रेप का केस,मुखिया ने पहले दी धमकी,फिर कराया रेप ...
यहां तो गूंगे बहरे बसते है, खुदा जाने कहां जलसा हुआ होगा ?
DC का अंतिम फैसला- भू-माफियाओं के खिलाफ राजगीर CO जाएं कोर्ट, SDO हटाएं अतिक्रमण

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...
» मुंशी प्रेमचंद: हिंदी साहित्य के युग प्रवर्तक   » पुण्यतिथिः जब 1977 में येदुरप्पा संग चंडी पहुंचे थे जगजीवन बाबू   » कैदी तबरेज तो ठीक, लेकिन वहीं हुए पुलिस संहार को लेकर कहां है ओवैसी, आयोग, संसद और सरकार?   » डॉक्टरी भी चढ़ गयी ग्लोबलाइजेशन की भेंट !   » विकास नहीं, मानसिक और आर्थिक गुलामी का दौर है ये !   » एक ऐतिहासिक फैसलाः जिसने तैयार की ‘आपातकाल’ की पृष्ठभूमि   » एक सटीक विश्लेषणः नीतीश कुमार का अगला दांव क्या है ?   » ट्रोल्स 2 TMC MP बोलीं- अपराधियों के सफेद कुर्तों के दाग देखो !   » जब गुलजार ने नालंदा की ‘सांसद सुंदरी’ तारकेश्वरी पर बनाई फिल्म ‘आंधी’   » आभावों के बीच राष्ट्रीय खेल में यूं परचम लहरा रही एक सुदूर गांव की बेटियां  
error: Content is protected ! india news reporter