जानिएः कौन है चंदन सिंह, जिसने केन्द्रीय मंत्री गिरीराज सिंह को लगाया ठिकाना

Share Button

INR. बिहार की राजनीति में कोई भी दल या उसके नेता कितने भी ढिंढोंरे पीट ले, लेकिन वे टिकटों के बंटबांरे में बाहुबलियों के आगे घुटने टेक ही देती है। अब नवादा लोकसभा सीट को ही देखिए। यहां महागठबंधन के राजद ने पहले ही यौनचार में सजायाफ्ता बाहुबली नेता राजबल्लव यादव की पत्नी को आगे कर जहां सबको चौंका दिया।

वहीं एनडीए के प्रमुख घटक भाजपा ने अपने निवर्तमान सासंद केन्द्रीय मंत्री गिरीराज सिंह सरीखे नेता को ठिकाना लगाते हुए लोजपा की झोली में सीट डाल दिया।

यहां अंतिम क्षणों तक संभावना व्यक्त की जा रही थी कि बाहुबली नेता सुरजभान सिंह की पत्नी वीणा देवी जंगे मैदान उतरेंगी, लेकिन अचनक लोजपा ने गुमानाम सा नाम चंदन सिंह को लड़ाने की घोषणा कर सनसनी फैला दी है।

उनकी टिकट की घोषणा होते हैं एकारगी सवाल उठा कि आखिर कौन हैं चंदन सिंह….

दरअसल नवादा सीट से जिस चंदन सिंह को लोजपा ने अपना प्रत्याशी बनाया है, इस सीट से पहले उनकी भाभी और फिलहाल मुंगेर से सासंद वीणा देवी का नाम आ रहा था। लेकिन ऐन वक्त पर चंदन अपनी भाभी वीणा देवी पर भारी पड़ गए और लोजपा ने उन्हें इस सीट से अपना प्रत्याशी बनाया है।

चंदन सिंह बाहुबली नेता और पूर्व सांसद सूरजभान सिंह के सबसे छोटे भाई हैं। तीन भाईयों में सबसे छोटे चंदन की गिनती बिहार के बड़े कांट्रैक्टरों में होती है और उनका काफी बड़ा व्यवसाय है।

चंदन झारखंड के एक मशहूर बिल्डर के दामाद हैं और उनका व्यवसाय कई राज्यों में फैला है। चदंन के करीबी लोगों के अनुसार नवादा को लेकर वो पिछले दो सालों से काफी सक्रिय थे और खुद उनके बड़े भाई सूरजभान सिंह ने चंदन को नवादा सीट पर फोकस करने को कहा था।

दरअसल सूरजभान सिंह की पत्नी वीणा देवी के बाद अब छोटे भाई की पॉलिटिक्स में एंट्री की बारी थी, जिसे सूरजभान सिंह ने समय रहते बड़ी आसानी से अंजाम दिया और गिरिराज सिंह का पत्ता कटवाकर भूमिहारों के लिए सेफ सीट कहे जाने वाले नवादा से लांच किया।

चंदन को नवादा सीट मिली है। जहां के निवर्तमान सांसद भजपा के गिरिराज सिंह हैं। ऐसे में उनके उपर न केवल इस सीट को बचाने की जिम्मेवारी होगी बल्कि अपने भाई और पार्टी के विश्वास को भी जीतने की।

इस सीट से राजद ने जेल में बंद राजबल्लभ यादव की पत्नी विभा देवी को टिकट दिया है। ऐसे में जाहिर है कि यहां सीधी लड़ाई यादव बनाम भूमिहार की भी है। चंदन लोजपा से टिकट पाने वाले एकमात्र भूमिहार प्रत्याशी हैं।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise
Share Button

Related News:

नालंदा एसपी कुमार आशीष का क्वीक एक्शन, अस्पताल कैदी वार्ड के सभी 5 सिपाही सस्पेंड
अपनी दादी इंदिरा गांधी के रास्ते पर चल पड़ी प्रियंका?
'मौत की बस' में कारबाइड या  सिलेंडर? सस्पेंस कायम
प्रदेश छात्र जदयू महासचिव हत्याकांडः परिजन ने नालंदा पुलिस के खुलासे पर उठाये सवाल
शादी के बहाने बार-बार यूं बिकती हैं लड़कियां और नेता 'ट्रैफिकिंग' को 'ट्रैफिक' समझते
यूं गेंहू काटने वाली 'बंसती' को जिताने 'वीरू' पहुंचे मथुरा, बोले- मैं  किसान हूं
बिहार के इस टोले का नाम 'पाकिस्तान' है, इसलिए यहां सड़क, स्कूल, अस्पताल कुछ नहीं
प्रसिद्ध हास्य कवि प्रदीप चौबे की कैंसर से मौत
तीन तलाक और अनुच्छेद 370 के बाद एक चुनाव कराने की तैयारी
...और जार्ज साहब बन गए यूं डाइनामाइट लीडर
पटना साहिब लोकसभा चुनाव: मुकाबला कायस्थ बनाम कायस्थ
तो क्या ‘बे-कार’ हैं खरबपति सांसद किंग महेन्द्र !
इस मानव श्रृखंला से कितना चमक पायेगा इस बार नीतिश का चेहरा?
प्रियंका की इंट्री से सपा-बसपा की यूं बढ़ी मुश्किलें
बिहार पहुँची किसान आंदोलन की चिंगारी, बिहारशरीफ में निकला ‘अधिकार मार्च’
फर्जी निकला रांची प्रेस क्लब का पता? डाकघर से यूं लौटी लीगल नोटिश
माउंट एवरेस्ट पर 10 हजार किलो से अधिक इकट्ठा हुआ कूड़ा
पीएम मोदी के 'स्टार हमशक्ल' को यूं महंगे पड़ रहे 'अच्छे दिन'
कांग्रेस के हुए भाजपा के बागी सांसद 'कीर्ति'
Me Too से घिरे एम जे अकबर का मोदी मंत्रिमंडल से अंततः यूं दिया इस्तीफा
‘हवा-हवाई’ हो गईं भारतीय फिल्मों की ‘चांदनी’
समझिये, केजरीवाल की 'ईमानदारी' की पोल खोलने वाला टैंकर घोटाला
बोले काटजू- "सत्ता से बाहर होगी भाजपा, यूपी-बिहार में रहेगी नील"
SBI बैंक में देखिये भ्रष्टाचार, मिड डे मिल का 100 करोड़ बिल्डर के एकाउंट में डाला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter