जयरामपेशों का अड्डा बना आयडा पार्क

Share Button

इस पार्क में झारखंडी कला-संस्कृति झलकती थी, लेकिन इस पार्क का दुर्भाग्य कहें या विभागीय उपेक्षा कि आज यह पार्क शराबियों और असामाजिक तत्वों का अड्डा बन गया है…”

INR. एशिया का दूसरा सबसे बड़ा औद्योगिक क्षेत्र झारखंड के सरायकेला-खरसावां जिले के आदित्यपुर में है। यहां छोटी बड़ी सैकड़ों औद्योगिक ईकाईयां हैं। वहीं इन ईकाईयों में लाखों मजदूर काम करते हैं।

बता दें कि कोल्हान प्रमंडल के तीनों जिलों में उद्योग के लिए जमीन के लेकर अन्य जरूरी संसाधन आयडा यानि आदित्यपुर औद्योगिक डेवलपमेंय ऑथिरीटी उपलब्ध कराती है।

वैसे इस औद्योगिक नगरी को खूबसूरत बनाने के लिए साल 2006 में तत्कालीन अध्यक्ष लक्ष्मण टुडू ने आयडा भवन से ठीक सामने एक खूबसूरत पार्क की आधारशिला रखी, जो लगभग दो साल बाद 2008 में आम लोगों के लिए खोल दिया गया।

अपनी खूबसूरती के लिए यह पार्क क्षेत्र के लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बन गया था। इस पार्क में झारखंडी कला-संस्कृति झलकती थी, लेकिन इस पार्क का दुर्भाग्य कहें या विभागीय उपेक्षा कि आज यह पार्क शराबियों और असामाजिक तत्वों का अड्डा बन गया है।

इतना ही नहीं आज की तारीख में यह पार्क अपना अस्तित्व खोने के कगार पर है। सबसे दुर्भाग्य की बात तो यह है  कि इस पार्क को नगर निगम ने कचरा डंपिग यार्ड बना रखा है।

वहीं बुद्धिजीवी समाज और आदित्यपुर के प्रबुद्ध नागरिकों को कभी इस खूबसूरत पार्क के लिए आंदोलन करते भी नहीं देखा गया। न ही सरायकेला जिला प्रशासन या आदित्यपुर नगर निगम को ही इस पार्क की सुध है। न ही किसी उद्ममी संगठनों को ही कभी इस पार्क के जीर्णोद्धार के  लिए सीएसआर के तहत कभी पहल करते देखा गया है।

वैसे लघु उद्योग भारती, आदित्यपुर स्मॉल इंडस्ट्रीज एसोशिएसन समेत और भी उद्यमी संगठन क्षेत्र में काम कर रही है। बावजूद इसके इस पार्क की सुध लेनेवाला कोई नजर नही आ रहा। 

हालांकि अब आयडा रीजनल इंडस्ट्रीयल डेवलपमेंट ऑथिरीटी में परिवर्तित हो गया है, और इसके एमडी जमशेदपुर उपायुक्त हैं। वहीं एमडी ने इस पार्क की दुर्दशा पर गहरी नाराजगी जताई है  और रियाडा के सचिव को इस पार्क के जीर्णोद्धार के लिए निर्देश दिए हैं।

वैसे यह देखना दिलचस्प  होगा कि एमडी के आदेश को सचिव कितना तरजीह देते हैं, और यदि देते हैं, तो कितने दिनों में फिर से इस पार्क की खूबसूरती वापस लौटती है।

फिलहाल यह पार्क अपनी दुर्दशा पर आंसू बहाता नजर आ रहा है। वैसे स्वच्छा भारत के नाम पर क्षेत्र में झाड़ू लगानेवाले समाजसेवियों अधिकारियों और नेताओं को इस पार्क की सुध क्यों नहीं रहती है ये भी एक बड़ा सवाल है। क्या जिसकी बिल्ली है, गले में घंटी वही बांधे ?

वैसे इस खूबसूरत पार्क का उद्घाटन राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री स्वर्गीय सुधीर महतो और आयडा के तत्कालीन एमडी डॉ. मोहनलाल राय ने रखी थी।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise
Share Button

Related News:

पेट्रोल पंप डीलर्स पर दबाव, मोदी की तस्वीर लगाओ अन्यथा तेल आपूर्ति बंद
असहाय व असुरक्षित है भारत :रवि शंकर प्रसाद
गौर से पढिये राँची के दैनिक हिंदुस्तान / प्रभात खबर के खबरों को
गैंग रेप-मर्डर में बंद MLA से मिलने जेल पहुंचे BJP MP साक्षी महाराज, बोले- 'शुक्रिया कहना था'
मढ़वा के दिन प्रेमी संग फरार प्रेमिका ने ग्राम कचहरी में रचाई शादी !
कूटनीतिः ‘पैगाम-ए-खीर’ के निशाने पर कमल-तीर
आगामी 30 दिसंबर को शपथ लेगे दो उप मुख्यमंत्री के साथ मोहराबादी मैदान मे शपथ झारखंड के नये मुख्यमंत्...
पेड पर पाँच बार चढने-उतरने बाले को मिलेगी सरकारी नौकरी:शिबू सोरेन
अंग्रेजों के भी बाप निकले हमारे आजाद देश के नेता
30 दिसंबर,वुधवार को मोहराबादी मैदान मे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेगे शिबू सोरेन
गांधी के रास्तों पर नहीं चल रहे हैं अन्नाः तुषार गांधी
झारखण्ड : कौन बनेगा भाजपा का सीएम?
नागफनी के कांटो से घिरे झारखंड के मुख्यमंत्री: देखना है कि क्या कर पाते है?
सुप्रीम कोर्ट ने आधार कार्ड को लेकर दिये अहम फैसले, ये आपको जानना है जरुरी
शिबू सोरेन,बाबूलाल मरांडी और सुदेश महतो जैसे महत्वकांक्षी नेता : बादशाह बानेगें या ताश का जोकर
राम भरोसे चल रहा है झारखंड का बदहाल रिनपास
जाति आधारित जनगणना मनमोहन सरकार के लिए सरदर्द बना
झारखंड:शिबू सोरेन अब भी ताकतवर नेता
राम रहीम उर्फ कैदी नंबर1997 को दफा 376, 511, 501 के तहत 10 साल की सजा
झारखंड:कांग्रेस ने कई इतिहास रचे... सुषमा स्वराज
.....और पटना से यूं फुर्र हो गये बिग बी
डॉ. जायसवाल की ताजपोशी कहीं सुशील मोदी की काट तो नहीं!
केन्द्रीय मंत्री जयराम ने स्वागत माला से जूतें पोंछे, किया खादी का अपमान
काफी दुर्भाग्यजनक है सुदेश महतो की राजनीतिक महत्वाकान्क्षा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter