गुजरात मॉडलः एक्जाम में सभी 199 जज और 1372 वकील फेल, रिजल्ट शून्य!

Share Button

गुजरात में जिला न्यायाधीशों भर्ती के लिए मार्च में आवेदन मंगाए गये थे। इसमें 1372 वकीलों ने आवेदन पत्र दिये थे………..”

इंडिया न्यूज रिपोर्टर डेस्क। भारत में गुजरात राज्य विकसित मॉडल का महिमा गान हो रहा है। इसी बीच खबर आई है कि वहां जिला न्यायाधीशों की परीक्षा देनेवाले 199 जज और 1372 वकील फेल हो गये।

परीक्षा देनेवाले एक भी परीक्षार्थी लिखित परीक्षा में पास नहीं हुए। परिणामतः गुजरात हाईकोर्ट ने शून्य रिजल्ट घोषित कर अग्रिम कार्यवाही शुरु की है।

जानकारी के अनुसार गुजरात हाईकोर्ट की ओर 26 पद्दों के लिए परीक्षा आयोजित की गई थी। जिला न्यायाधीशों की इस परीक्षा में बैठे सभी 199 जज और 1372 वकील फैल हो गये।

कोई परीक्षार्थी 50 फीसदी से अधिक नंबर नहीं ला पाये। राज्य की विविध कोर्टो में से जिला जज के 40 पद्दों में से 26 प्रैक्टिसिंग वकीलों और 14 ज्यूडिशियल आफिसरों के लिए आरक्षित रखी गयी थी।

गुजरात में जिला न्यायाधीशों भर्ती के लिए मार्च में आवेदन मंगाए गये थे। इसमें 1372 वकीलों ने आवेदन पत्र दिये थे। जून महीने में आयोजित एलिमिनेशन टेस्ट में 494 वकीलों को लिखित परीक्षा के लिए उत्तीर्ण किया गया था। हालांकि गुजरात में जिला न्यायाधीशों कि लिखिति परीक्षा में एक भी वकील पास नहीं हुए।

हाईकोर्ट के नियम के अनुसार जिला जज की 65 प्रतिशत रिक्तियां सीनियर सिविल जज को प्रोन्न्त कर भरी जाती है। केवल 25 प्रतिशत इन्टरव्यू द्वारा भरी जाती है और बाकी की 10 प्रतिशत जिला जजों की परीक्षा द्वारा भर्ती की जाती है।

लेकिन हाईकोर्ट द्वारा ली गई लिखित परीक्षा में 199 जजों में से कोई भी उत्तीर्ण नहीं हो पाये। परीक्षा का आयोजन फिर से किया जायेगा।

गौरतलब है कि गुजरात हाईकोर्ट ने शून्य रिजल्ट घोषित किया है। हाईकोर्ट रिजस्ट्रार जनरल ने बताया कि नियम के मुताबिक परीक्षा पास न कर पाने की स्थिति में हाईकोर्ट फिर से परीक्षा का आयोजन करती है और इसमें पुराने व नये परीक्षार्थी भी आवेदन देकर परीक्षा दे सकते है।

यह पूरी प्रक्रिया नये सिर से की जाती है। गुजरात हाईकोर्ट द्वारा जल्द ही परीक्षा संबंधित घोषणा की जायेगी और आवेदन मंगवाये जायेंगे।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Related News:

अंततः कांग्रेस के 'कांडा' ही बने भाजपा के कांड !
जरा देखिये- 5 साल में 300 फीसदी बढ़ गई अमित शाह की संपत्ति
हरनौत रेल कारखाना का निर्माण अंतिम चरण में
बिहार:देश में आखिर पिछड़ों,दलितों,अकलियतों का सबाल तो है हीं नीतीश जी
एक करोड मे एस.पी. और 20 लाख मे डी.सी. का पद निलाम होता है झारखंड मे!
भाजपा नेता को घर में घुसकर सपरिवार गोलियों से भून डाला, बेटा-भाई समेत 5 की मौत
महाराष्ट्र: शिवसेना के नेतृत्व में यूं सरकार बननी तय
मीडिया : आखिर सोच-सोच में फर्क क्यों है ?
सरकार हमारे खिलाफ एफआईआर दर्ज करेः अन्ना हजारे
जेकेडी सेक्टर IG राज कुमार करेंगे DIG द्वारा CRPF जवान पर गर्म पानी फेंकने की जांच
प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय खंडहरः खतरे में ‘विश्व धरोहर’!
साईबर अपराधियों का यूं हुआ भंडाफोड़,भारी सबूत बरामद
......और तब ‘मिसाइल मैन’ 60 किमी का ट्रेन सफर कर पहुंचे थे हरनौत
मेजर ध्यानचंद हॉकी टूर्नामेंट खेलने जा रहे 4 राष्ट्रीय खिलाड़ियों की दर्दनाक मौत, 3 जख्मी
ईटीवी उर्दू के पत्रकार की दिनदहाड़े गोली मार कर दिल्ली में हत्या
SC का यह फैसला CBI की साख बचाने की बड़ी कोशिश
‘टाइम’ ने मोदी को 'इंडियाज डिवाइडर इन चीफ’ के साथ ‘द रिफॉर्मर’ भी बताया
बिहार के इस टोले का नाम 'पाकिस्तान' है, इसलिए यहां सड़क, स्कूल, अस्पताल कुछ नहीं
नीतिश के खिलाफ कांग्रेस के आक्रामक स्टार प्रचारक होगें तेजस्वी
अब परचून की दुकानों में शराब बेचेगी भाजपा सरकार
अब बाल ठाकरे जैसे लोगों को क्या कहेगे?
विकास(राँची)-बरही(हजारीबाग) एन.एच.-३३ फोलेनिंग में भारी अनियामियता व गबन-घोटाले की आशंका
नीतिश जी,ई कैसन सुशासन है आपके घर-जिले में:पुछिये न अपने नौकरशाह से.
झारखंड के मुख्यमंत्री शिबू सोरेन में "स्कीजोफ्रेनिया" के लक्षण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
Close
error: Content is protected ! india news reporter