» महागठबंधन की तस्वीर साफ, लेकिन कन्हैया पर नहीं बनी बात   » बोले काटजू- “सत्ता से बाहर होगी भाजपा, यूपी-बिहार में रहेगी नील”   » नहीं रहे पूर्व रक्षा मंत्री एवं गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर, समूचे देश में शोक की लहर   » ‘इ जनता बा मोदी जी! दौड़ा-दौड़ा के सवाल पूछी’   » बज गई आयोग की डुगडुगी, जानिए 7 चरणों में कहां, कब और कैसे होगा चुनाव   » प्रशांत किशोर की ब्रांडिंग में उलझे नीतीश, जदयू में आई भूचाल   » वीडिय़ोः MP  ने मंत्री-पुलिस के सामने MLA को जूतों से यूं जमकर पीटा   » भाजपा की वेबसाइट हैक, दिखे यूं अश्लील मैसेज   » पुलिस गिरफ्त में पुलवामा आतंकी हमले के वांछित नौशाद उर्फ दानिश की पत्नी एवं बेटी   » रांची में गरजे राहुल गांधी- देश का चौकीदार चोर है  

एक सफल फैशन डिजाइनर बनने के पहले इस तरह करें खुद को तैयार

Share Button

एक सफल फैशन डिज़ाइनर बनने के लिए किसी औपचारिक शिक्षा या सर्टिफिकेट की ज़रूरत नहीं होती, लेकिन यह असाधारण काम करना कोई आसान बात भी नहीं है | इसके लिए आपको ड्राइंग, सिलाई और डिज़ाइन करने की दक्षता, फैशन इंडस्ट्री की जानकारी और बेमिसाल लगन की ज़रूरत होगी | इस लेख में कुछ सुझाव दिए गये हैं जिनकी मदद से आप फैशन डिज़ाइनर बनने की शुरुआत कर सकते हैं |

अपनी दक्षता को विकसित करें: फैशन डिज़ाइनर के पास अपने कौशल की व्यापक सजावट होती है जिसमे ड्राइंग, रंग और टेक्सचर की परख, तीन आयामों में अवधारणा की कल्पना करने की योग्यता और सभी प्रकार के कपड़ों की सिलाई-कड़ाई का यांत्रिक कौशल शामिल है |

    • अगर आपने पहले से ये कौशल नहीं सीखें हैं तो उत्तम सिलाई की ट्यूशन लें | चुनौतीपूर्ण स्थितियों में कठिन वस्त्रों की सिलाई करने की दक्षता हासिल करने से आप अपने पूरे कैरियर में मजबूती के साथ खड़े रहेंगे, लेकिन इसके लिए आपको काम करने की ज़रूरत है क्योंकि यह एक योग्यता है जो कई लोगों को आसानी से नहीं मिलती |
    • जानें कि कपडे पहनने के बाद कैसे बांधते हैं, कैसे चलते हैं, कैसे प्रतिक्रिया देते हैं आदि | डिजाइनिंग करने के लिए कपड़ों के बारे में प्राप्त जानकारी का सही उपयोग करना बहुत ज़रूरी होता है | मटेरियल के स्त्रोतों के बारे में भी जानकारी रखें |
    • मौजूदा डिज़ाइनर से सीखें, सिर्फ ये न देखें की वे कौन हैं बल्कि उनकी पृष्ठभूमि, उनकी विशिष्ट शैली, उनकी तरह दायित्व लेना सीखें | इस जानकारी से आपको बेहतर डिज़ाइनर बनने में मदद मिलेगी और इसके लिए आप उनसे सुझाव ले सकते हैं या उनके सुझावों पर रचना कर सकते हैं |
    • सीखें कि स्टोरीबोर्ड और प्रोडक्ट रेंज कैसे बनायें | मीडिया, तुलनात्मक खरीदारी और ट्रेड शो जानकारी इकट्ठी करने के बहुत अच्छे माध्यम होते हैं |
    • इन कौशलों को विकसित करने की शुरुआत बचपन से ही कर देनी चाहिए | अपने क्राफ्ट को उत्कृष्ट बनाने के लिए अधिक से अधिक समय देने के लिए तैयार रहें |इमेज का टाइटल Become a Fashion Designer Step 2

  1. ज्यादा सीखें:
    अगर आप कर सकें तो फैशन डिजाईनिंग या इससे सम्बद्ध प्रोग्राम में डिप्लोमा या डिग्री हासिल करें | आप अच्छी डील करना सीखेंगे, जल्दी ही उत्तम संपर्क बनायेंगे और बहुत कम जजमेंटल वातावरण में अपने कौशल का प्रदर्शन करने के लिए अच्छे मौके पा सकेंगे (परन्तु, आलोचनाओं के लिए तैयार रहें!) निम्नलिखित में से एक या दोनों विकल्पों को चुनें:

    • फैशन डिजाइनिंग में डिग्री हासिल करें | अधिकतर प्रोग्राम तीन या चार साल तक चलने वाले होते हैं | नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नोलॉजी (निफ्ट) और इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ आर्ट एंड डिजाईन (आईआईएडी) इंडिया के दो सबसे प्रसिद्द डिजाइनिंग स्कूल हैं | यहाँ आप ड्राइंग, रंग और उनके संयोजन, पैटर्न बनाने, और वस्त्र पहनाने या सजाने का अध्ययन करेंगे |[२] साथ ही इस तरह के व्यावहरिक कौशल सीखने के लिए, आपको फैशन इंडस्ट्री के ऐसे प्रोफेशनल के साथ काम करना होगा जो भविष्य में महत्वपूर्ण संपर्क के रूप में आपके काम आ सकें और जो आपको आपके काम पर सबसे पहले सलाह और प्रतिक्रिया दे सकें |
    • इंटर्नशिप या शागिर्दी के लिए आवेदन करें | अगर आप स्कूल नहीं जा सकते या आपको लगता है कि सांसारिक अनुभव आपको अधिक लाभ देगा तो एक फैशन इंटर्नशिप ढूंढें | इसके आवेदन के लिए आपको एक प्रभावपूर्ण पोर्टफोलियो की और शुरुआत से सीखने की ज़रूरत होगी | साथ ही इंटर्नशिप या शागिर्दी के समय बनाये गये संपर्क आपके फैशन के कैरियर में बहुत लाभकारी साबित होंगे और इंडस्ट्री के प्रोफेशनल के साथ काम करने से आपको सबसे पहले महत्वपूर्ण मौके मिल सकेंगे |
  1. निर्णय लें कि आपकी सैद्धांतिक रुचियों के अनुसार कौन का डिजाइनिंग क्षेत्र उचित है: आपको प्रथम सीढ़ी से शुरुआत करने की ज़रूरत होगी, लेकिन आपके दिमाग में डिजाइनिंग के उस प्रकार का उद्धेश्य होना चाहिए जिसे आप जीवनभर चलाना चाहते हों | क्या आपकी रूचि अधिकतर उत्कृष्ट फैशन, रेडी-टू-वेयर, फिटनेसवेयर, मास मार्केट या निचेस जैसे इकोवेअर में है ? प्रत्येक में लाभ और हानि होती हैं जिससे अपने द्वारा चुने जाने वाले क्षेत्र के रास्ते जाने में अंतिम निर्णय तक पहुँचने से पहले आपको विस्तार करने की ज़रूरत होगी | इन बड़े क्षेत्रों में आपको अपने फैशन डिजाईन के लिए कुछ सब-सेट जगहों पर निर्णय लेने की भी ज़रूरत होगी | आप एक जगह आराम से पैर फैलाकर कुछ देर खड़े होना चाहेगें, लेकिन इसकी शुरुआत करने पर, बेहतर होगा कि आप खुद को एक जगह पर अधिक देर तक खड़ा न होने दें जिससे आपकी डिजाइनिंग एक स्थान में उत्तम हो सके और इसके बाद जब आप अपने पैर इंडस्ट्री में मजबूती के साथ जमा लें तब ऐसा करने के बारे में सोचें | उदाहरण के लिए:

    • महिलाओं के दिन में पहनने वाले वस्त्र, महिलाओं के द्वारा शाम को पहने जाने वाले वस्त्र
    • पुरुषों के दिन में पहनने वाले वस्त्र, पुरुषों के शाम को पहनने वाले वस्त्र
    • लड़कों के या लड़कियों के वस्त्र; किशोरों के वस्त्र
    • खेलने के समय पहने जाने वाले वस्त्र/फिटनेस के वस्त्र/आराम के समय पहने जाने वाले वस्त्र
    • बुने हुए कपडे
    • आउटडोर, एडवेंचर, या बाहर पहने जाने वाले वस्त्र
    • दुल्हन के वस्त्र
    • एक्सेसरीज
    • आरामदायक वस्त्र
    • थिएटर, मूवीज, विज्ञापन जगत और थोक विक्रेताओं के लिए कॉस्ट्यूम डिजाईन करना |
      इमेज का टाइटल Become a Fashion Designer Step 3
  2. इमेज का टाइटल Become a Fashion Designer Step 4
    कुछ मुख्य हिस्सों की योजना बनायें: डिजाइनिंग में आपकी सबसे बड़ी ताकत क्या है ? संभवतः आप एक्सेसरीज में महारथी हों या योगा पैन्ट्स बनाने में सर्वोत्तम हो सकते हैं | आपकी योग्यता और रूचि समीकरण के पहले हिस्से हैं | निश्चित ही, इससे मेल खाता हुआ दूसरा हिस्सा है कि मार्केट क्या चाहता है जो फैशन में हो, यह हिस्सा मार्केट को यकीन दिलाता है और नोटिस करता है कि मार्किट की मांगें क्या है |
  1. इमेज का टाइटल Become a Fashion Designer Step 5

    फैशन डिजाइनिंग में अपना करियर आजमाने से पहले अपने कौशल और व्यक्तित्व को ईमानदारी से परखें: आपको वस्त्रों से प्यार हो सकता है, लेकिन ये फैशन डिजाइनिंग को अपनाने पर कहानी का सिर्फ एक हिस्सा मात्र रह जाता है | आपको सर्वोत्तम वार्तालाप कौशल, कहोर परिश्रम करने की लगन (अधिकतर चौबीस घंटे तक काम करना), आलोचनाओं को सहने की शक्ति, तनाव का सामना करने का सामर्थ्य, कई भिन्न-भिन्न क्लाइंट्स या बॉस के लिए स्वीकारात्मकता, और यह स्वीकार करने की कि यहाँ कभी अकेलापन या पृथकीकरण झेलने की (जो निर्भर करता है कि आप अपने डिजाइनिंग के व्यवसाय का सेट अप किस प्रकार करते हैं) और स्वयं-अनुशासित और स्वयं-प्रारंभक बनने के लिए योग्यता की भी ज़रूरत होगी |

    • फैशन डिज़ाइनर बनना आपके लिए उचित है अगर: आप अपने जीवन को इस कैरियर के प्रति समर्पित करना चाहते हों, आपको अनिश्चितता या असुरक्षा की परवाह न हो, आप अपने भरोसे पर दृढ़ता के साथ कायम रह सकें, आपके पास फैशन के लिए जरुरी भिन्न-भिन्न प्रकार के विचार हों, आप क्लाइंट्स की मांगों को सुन सकें, आप फैशन इंडस्ट्री को अंदर से बाहर तक जानते हों और फैशन को जीते, खाते और साँसों में बसाते हों |
    • फैशन डिज़ाइनर बनना आपके लिए उचित “नहीं” है अगर: आप तनाव को झेल नहीं सकते हों, आप अनिश्चितता और असुरक्षा से घबरा जाते हों, आप बिना उतार-चड़ाव वाला कैरियर चाहते हों, आप चाहें कि लोग आपके प्रयासों की तारीफ़ करें, आपको बहुत अधिक मार्गदर्शन की ज़रूरत हो, आपको आर्थिक रूप से अस्थिर होने से नफरत हो और आपके जीवन में कई अन्य रुचियाँ हों |
इमेज का टाइटल Become a Fashion Designer Step 6
  1. फैशन के बिज़नस साइड के बारे में शिक्षित हों: एक सफल फैशन डिज़ाइनर बनने के लिए न सिर्फ प्रतिभा और रचनात्मकता की ज़रूरत होती है बल्कि फैशन जगत के बिज़नस और मार्केटिंग नज़रिये को समझने की भी ज़रूरत होती है | वीमेन’स वियर डेली और डेली न्यूज़ रिकॉर्ड जैसी ट्रेड पत्रिकाओं को नियमित रूप से पढ़कर फैशन इंडस्ट्री में होने वाली गतिविधियों से खुद को अपडेट बनाये रखें

    • कई फैशन डिजाइनिंग के प्रोग्रामों में मार्केटिंग के कोर्स भी शामिल होते हैं | कुछ प्रोग्राम या बड़े हाईलाइट्स अन्य चीज़ों की अपेक्षा मार्केटिंग पर अधिक जोर देते हैं इसलिए आपके द्वारा चुने जाने वाले प्रोग्राम में शामिल कोर्स पर रिसर्च करके इसकी सुनिश्चितता तय करें | अगर आप पहले से कोई कोर्स कर रहे हैं लेकिन उसमे मार्केटिंग या फाइनेंसियल साइड वाली चीज़ें छूट गयी हो तो बिज़नस के इन हिस्सों के शोर्ट कोर्स करने के बारे में विचार करें |
    • डिजाईन से परे और भी चीज़ें सीखें: फैशन इंडस्ट्री में एक पूरी आपूर्ति श्रंखला होती है और यह आपको समझने की ज़रूरत होती है कि हर व्यक्ति का क्या काम है, इसलिए समझौते करने, मांगों को पूरा करने और समझने के लिए की चीज़ों में बाधा कहाँ आ रही है, आप चीज़ों को उनके दृष्टिकोण से भी देख सकते हैं | जानें की अन्य लोग क्या करते हैं, जैसे, खरीदार, विक्रेता, पैटर्न कटर्स, कपड़ों और वस्त्रों के टेक्नोलॉजिस्ट, क्वालिटी कंट्रोलर, ग्रेडर्स, सैंपल इंजीनियर, बिक्री के लोगो , मार्केटिंग के लोग, फैशन पत्रकार, थोक विक्रेता, कार्यक्रम आयोजक, फैशन स्टाइलिस्ट और अन्य लोग |
    • अपने कस्टमर को जानें: यह कौशल बुनियादी और आवश्यक है और यह एक ऐसी चीज़ है जिसे किसी फैशन डिज़ाइनर को अनदेखा नहीं करना चाहिए | जानें कि आपके कस्टमर कितना खर्च कर सकते हैं, उनकी जीवनशैली कैसी है, वे कहाँ से खरीदना पसंद करते हैं, कैसे खरीदना पसंद करते हैं, और उनकी पसंद और नापसंद क्या हैं | जानें कि वास्तविक ज़रूरत क्या है, और वो क्या चीज़ें हैं जिन्हें कम आमदानी होने पर भी खरीदने की ज़रूरत होती है | अगर आप मार्केटिंग को समझ लेते हैं तो कस्टमर्स के ज़रूरतों के लिए श्रम करने की एक ठोस समझ आपके अंदर विकसित हो जाएगी |
    • अपने प्रतिस्पर्धियों को जानें | हमेशा इस बात पर नज़र बनाये रखें कि अन्य फैशन डिज़ाइनर्स आपकी रुचियों के क्षेत्र में क्या-क्या कर रहे हैं | भले ही कम हों, लेकिन बनाये रखें |
  2. फैशन डिजाइनिंग की जॉब ढूंढें: एक डिज़ाइनर के रूप में फैशन इंडस्ट्री में काम ढूँढने के कई तरीके होते हैं और यह आपकी रूचि के अनुसार डिजाईनिंग के प्रकार पर निर्भर करता है | कुछ केसेस में, बहुमुखी होने से आपको अच्छे अवसर पाने में बहुत मदद मिलेगी और इससे आपको अनुभव मिलेगा और फिर इसके बाद आप अपने वास्तविक जुनून की ओर आ जाएँ | और अधिकतर केसेस में, आपको खुद की पहचान बनाने की ज़रूरत पड़ेगी और कई भिन्न-भिन्न जगहों पर जाकर दरवाजे तक अपना आवेदन देना पड़ेगा | शुरूआत करने वालों के लिए, आवेदन करने के लिए कुछ जगहें हैं:

    • मौजूदा फैशन हाउसेस और डिज़ाइनर्स इंटर्नशिप, एंट्री लेवल की आय देने वाली पोजीशन, डिज़ाइनर के लिए सहायक आदि |
    • मूवी स्टूडियोज, थिएटर, कॉस्ट्यूम स्टोर्स आदि के साथ कॉस्टयूम पोजीशन |
    • विभिन्न ऑनलाइन जॉब एजेंसियों के द्वारा ऑनलाइन विज्ञापन |
    • मुंहबोले संपर्क- अपने सहयोगी या फैशन इंडस्ट्री के संपर्कों का उपयोग दरवाजों तक अपनी पैठ बनाने के लिए करें | इंडस्ट्री में उन लोगों की बात का बहुत मान रखा जाता है जो पहले से ही प्रसिद्द होते हैं, यह शुरुआत करने का बहुत अच्छा तरीका है |
      इमेज का टाइटल Become a Fashion Designer Step 7
  3. इमेज का टाइटल Become a Fashion Designer Step 8

    अगर आप खुद का डिजाइनिंग का बिज़नस चला रहे हों तो आर्थिक रूप से चतुर बनने के लिए तैयार रहें: आप ख़ासतौर पर रचनात्मक हो सकते हैं, लेकिन यह भी बिलकुल निश्चित है कि अपना फैशन लेबल चलने के लिए आपको बिज़नस की सूझ-बूझ की ज़रूरत पड़ेगी | आपको अपनी टेबल पर जमा हुए नंबर और चालानों या इनवॉइस को जानना जरुरी होता है | अगर आपको इस कार्य से सच में नफरत है तो कुछ अच्छे विकल्प भी हैं जैसे, अपने सभी आर्थिक मसलों को सँभालने के लिए अपने अकाउंटेंट से कहें, लेकिन शीर्ष सारी बातों को खुद तक सीमित रखने के लिए भुगतान भी करें | और अगर आपको सच्ची में इन सभी झमेलों से नफरत है तो अपना खुद का लेबल चलाने के बजाय किसी फैशन हाउस के साथ एक फैशन डिज़ाइनर के तौर पर काम ढूंढें |

    • आप किस प्रकार के ट्रेडर बनेंगे ? इसकी कई संभावनाएं हैं जिसमे शामिल हैं- सोल ट्रेडर, भागीदारी, इनकोर्पोरेटेड कंपनी आदि | हर एक के अपने अलग-अलग फायदे और नुकसान होते हैं जिनके बारे में आगे बढने से पहले आपको अपने कानूनी और आर्थिक सलाहकारों से विचार-विमर्श कर लेना चाहिए |
  4. इमेज का टाइटल Become a Fashion Designer Step 9

    वास्तविक बनें: आपको मार्केट से मेल बनाने के लिए दृढ़ता से आगे बढ़ने की ज़रूरत हो सकती है लेकिन यह आपके काम करने और बेचने के तरीके पर निर्भर करता है | वास्तविक बनने से तात्पर्य है कि जानें कि उन लोगों को उत्कृष्ट फैशन बेचने की कोशिश करना निरर्थक है जो अर्ध-शहरी इलाकों में सिर्फ व्यवसाय से सम्बंधित वस्त्र चाहते हैं | आपको उन जगहों पर फोकस करना होगा जहाँ आपके मार्केट के सम्भावना अधिक हो और जहाँ काम करना या रहना आपके लिए सबसे अच्छा हो और एक ही जगह पर काम कर पायें या आपके वर्तमान स्थान से अधिकतम संभावनाओं वाले स्थान पर बेचने के लिए वितरण किस प्रकार किया जाये |

    • अपने आस-पास उपस्थित विचार योग्य और प्रेरणाओं को अपनाएं: एक रचनात्मक इंसान के रूप में, लोगों के बीच घिरे रहना और उनके विचारों और सुझावों को ग्रहण करना आपकी रचंत्मक प्रक्रिया का ही एक हिस्सा होता है | यह अकेले या फैशन दृष्टिकोण से परे व्यक्ति के साथ काम करने में बहुत मुश्किल हो जाता है |
    • यह भी याद रखें कि फैशन डिजाइनिंग पर मौसमी प्रभाव भी पड़ता है और आपके द्वारा बनाए जा रहे वस्त्रों के प्रकार और उन्हें बेचने के लिए भेजे जाने वाली जगह पर भी इसका प्रभाव पड़ सकता है |
    • ऑनलाइन बेचने की शक्ति का उपयोग करें: यह आपको अच्छी गुणवत्ता की तीन आयामी इमेज प्रदान करता है जिसे ज़ूम और टर्न किया जा सकता है, आजकल इससे दुनिया में कहीं भी अपने फैशन को ऑनलाइन बेचने की एक अन्य वास्तविक सम्भावना भी प्राप्त होती है |
  1. इमेज का टाइटल Become a Fashion Designer Step 10
    अपने काम का एक पोर्टफोलियो बनायें: खुद को और अपने काम को मार्केट के सामने लाने के लिए मौके के रूप में डिजाइनिंग जॉब या इंटर्नशिप के लिए आवेदन करने पर आपका डिजाईन पोर्टफोलियो बहुत काम आएगा | आपके पोर्टफोलियो में आपके सबसे अच्छे काम की झलक होनी चाहिए और आपके कौशल और रचनात्मकता मुख्य रूप से दिखने चाहिए | एक उच्च गुणवत्ता वाले बाइंडर का उपयोग करें जिससे प्रदर्शित हो कि आप खुद को गंभीरता से एक डिज़ाइनर के रूप में लेते हैं | अपने पोर्टफोलियो में निम्नलिखित चीज़ों को शामिल करें:
    • हाथों से बनाई गयी स्केच या इन स्केचेस के फोटोग्राफ
    • कंप्यूटर से बनाई गयी डिजाईन
    • रिज्यूमे
    • मूड या कांसेप्ट पेजेज
    • कलर या टेक्सटाइल के प्रदर्शन के पेजेज
    • अन्य किसी भी प्रकार की चीजें जो आपकी योग्यता को प्रदर्शित करती हों |

सलाह

  • यथासंभव अधिक से अधिक स्वयं का फैशन ही पहनें | इन्हें बढ़ावा देने के लिए इन वस्त्रों को खुद पहनने से बेहतर और क्या उपाय होगा ? जब लोग आपसे इनके बारे में सवाल करें तो कम शब्दों में और बुलंद तरीके से जो सुनने वालों को आकर्षित करें, सारा वर्णन देने के लिए तैयार रहें |
  • अपमान सहने के काबिल बनें | कोई भी सर्वोत्तम नहीं होता | अपने परिवार और दोस्तों से सलाह लें | कभी भी हार न माने और अपने जुनून को न छोड़ें !
  • अगर आप अपनी फैशन ड्राइंग को लोगों के सामने प्रदर्शित करने के बारे में सोच रहे हों तो पहले सोचें की आपकी फैशन डिजाईन कैसी दिखनी चाहिए |
  • अगर आप स्वयं का फैशन लेबल चला रहे हों तो एक अच्छा सा लोगो विकसित करें | यह बाहर से ही आपकी शैली को पारिभाषित करेगा इसलिए इसका ऊपर से अच्छा दिखना ज़रूरीहोता है | अच्छा होगा अगर इसके लिए आप एक प्रोफेशनल ग्राफ़िक डिज़ाइनर की मदद लें |
  • अगर आप खुद का फैशन लेबल शुरू कर रहे हों तो आपको शुरुआत से हर एक चीज़ के बारे में सलाह लेने की ज़रूरत होती है | खुद को भरोसेमंद टीम के आर्थिक, कानूनी और मार्केटिंग सलाहकारों के बीच रखें और इनका स्टाफ रखने की बजाय अपनी ज़रूरत के अनुसार इन्हें तनख्वाह देते रहें |
  • खुद पर एकाग्रचित्त हों | दूसरों से ईर्ष्या न करें | आपको उनसे सलाह लेनी चाहिए |
  • आप जो भी कर सकते हों अपने सामर्थ्य के अनुसार करें | दूसरों के अनुसार काम न करें, अपने दिल की सुनें !

चेतावनी

  • एक डिज़ाइनर के रूप में काम करना शारीरिक रूप से एक कठिन व्यवसाय हो सकता है | आपको तैयार करने की ज़रूरत होगी |
  • कैटवाक और उच्चतम दर्जे के फैशन के लिए डिजाइनिंग करने से आप इंडस्ट्री के चुनौतीपूर्ण नज़रिये के सीधे संपर्क में आ जायेंगे जिसमे कम वज़नवाली मॉडल्स के लिए फिटिंग (जिससे आप संभवतः महिलाओं और पुरुषों की अस्वस्थ भूमिकाओं को प्रोत्साहित करने में शामिल होते हैं), साथी डिज़ाइनर और फैशन इंडस्ट्री के कुलीन वर्ग की बदमिज़ाजी और बहुत कम सीमा समय देनें जैसी कठिन मांगें शामिल हैं | अगर आप पहले से मुखर व्यक्ति नहीं हैं तो अपने सिद्धांतों के लिए खड़े रहने और बातचीत करने की दक्षता को सुधारने में समय बिताने में ही समझदारी होगी |
  • फैशन इंडस्ट्री अत्यधिक प्रतिस्पर्धा वाली होती है; अगर आप इस क्षेत्र को अपना 100 प्रतिशत दें तो ही इसमें अपना कैरियर बनायें |

Related Post

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
» राहुल गाँधी और आतंकी डार की वायरल फोटो की क्या है सच्चाई ?   » घाटी का आतंकी फिदायीन जैश का ‘अफजल गुरू स्क्वॉड’   » प्रियंका की इंट्री से सपा-बसपा की यूं बढ़ी मुश्किलें   » जॉर्ज साहब चले गए, लेकिन उनके सवाल शेष हैं..   » रोंगटे खड़े कर देने वाली इस अंधविश्वासी परंपरा का इन्हें रहता है साल भर इंतजार   » जानिए कौन थे लाफिंग बुद्धा, कैसे पड़ा यह नाम   » जयंती विशेष: के बी सहाय -एक अपराजेय योद्धा   » ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का सरदार कितना असरदार !   » भाजपा और कांग्रेस दोनों के लिए आत्म मंथन का जनादेश   » जयरामपेशों का अड्डा बना आयडा पार्क  
error: Content is protected ! india news reporter